RBI के पायलट प्रोजेक्ट से कर सकेंगे बिना इंटरनेट के भी डिजिटल पेमेंट
RBI के पायलट प्रोजेक्ट से कर सकेंगे बिना इंटरनेट के भी डिजिटल पेमेंट Social Media

RBI के पायलट प्रोजेक्ट से कर सकेंगे बिना इंटरनेट के भी डिजिटल पेमेंट

अब से आप भारत के केंद्रीय बैंक रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) द्वारा शुरू किए गए पायलट प्रोजेक्ट के तहत बिना इंटरनेट के भी डिजिटल पेमेंट कर सकेंगे।

राज एक्सप्रेस। आज भारत में पेमेंट और मनी ट्रांसफर या ट्रांजेक्शन करने के लिए Google Pay, PhonePe, और Paytm जैसी कई UPI ऑनलाइन पेमेंट ऐप्स काफी लोकप्रिय है, लेकिन इन सभी का इस्तेमाल आप इंटरनेट की मौजूदगी में ही कर सकते हैं, लेकिन अब से आप भारत के केंद्रीय बैंक रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) द्वारा शुरू किए गए पायलट प्रोजेक्ट के तहत बिना इंटरनेट के भी डिजिटल पेमेंट कर सकेंगे।

अब होगी बिना इंटरनेट के पेमेंट :

दरअसल, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के मकसद से हाल ही में एक पायलट प्रोजेक्ट शुरू किया गया था। इस पायलट प्रोजेक्ट के बाद अब RBI ने बिना इंटरनेट के डिजिटल पेमेंट करने के लिए एक नया इंतज़ाम किया है। हालांकि, कोई भी यूजर बिना इंटरनेट के होने वाले भुगतान को एक लिमिटेड राशी में ही कर पाएगा और ऐसे ट्रांजेक्शन के लिए RBI ने 200 रुपये की अपर लिमिट तय की है। सरल शब्दों में कहे तो अब आप 200 रुपये तक के डिजिटल पेमेंट बिना इंटरनेट के भी कर सकेंगे।

किस तरह होगा पेमेंट :

बताते चलें, ऑफलाइन मोड में छोटे अमाउंट के डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के मकसद से RBI ने सबसे पहले कुछ निकायों के साथ सितंबर 2020 से जुलाई 2021 के दौरान टेस्टिंग कार्यक्रम चलाया था। इसके बाद 6 अगस्त को RBI द्वारा इस पायलट स्कीम को मंजूरी दे दी गई। हालांकि, इसके तहत 200 रूपये तक का पेमेंट सिर्फ आमने-सामने रहकर ही किया जा सकेगा। इसे ऑफलाइन पेमेंट या ट्रांजेक्शन को कह सकते हैं, जिसके लिए इंटरनेट या टेलीकॉम कलेक्टिविटी की आवश्यकता नही होती है। आरबीआई के मुताबिक, इस तरह का ऑफलाइन पेमेंट करने के लिए अधिकृत पेमेंट सिस्टम ऑपरेटर्स (PSO) और पेमेंट सिस्टम पार्टिसिपेंट (PSP) को नए गाइडलाइन का पालन करना होगा।

ज्यादा से ज्यादा कर पाएंगे इतना पेमेंट

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने कहा है कि, 'किसी एक समय में ज्यादा से ज्यादा 2000 रुपये तक का पेमेंट इस तरीके से करना संभव होगा। लिमिट समाप्त हो जाने के बाद इसे बढ़ाने के लिए ऑनलाइन मोड का सहारा लेना पड़ेगा और यह एडिशनल फैक्टर ऑथेंटिकेशन के साथ ही कर पाना संभव होगा। RBI के इस कदम से ग्रामीण क्षेत्रों में डिजिटल पेमेंट में तेजी आने की उम्मीद है। आज भी ग्रामीण क्षेत्रों में एक बड़ी आबादी के पास स्मार्टफोन नहीं है। इसके अलावा कई ऐसे इलाके हैं, जहां नेटवर्क की समस्या होती है। अब ऐसी स्थितियों में भी डिजिटल पेमेंट कर पाना संभव हो जाएगा।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co