अगस्त में WhatsApp की 20 लाख से ज्यादा भारतीय अकाउंट्स के खिलाफ कार्रवाई
WhatsApp की 20 लाख से ज्यादा भारतीय अकाउंट्स के खिलाफ कार्रवाईSyed Dabeer Hussain - RE

अगस्त में WhatsApp की 20 लाख से ज्यादा भारतीय अकाउंट्स के खिलाफ कार्रवाई

दुनियाभर में इस्तेमाल होने वाली इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp ने 20 लाख से ज्यादा भारतीय अकाउंट्स के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उन्हें बैन कर दिया है। इस मामले में कंपनी ने कंप्लायंस रिपोर्ट जारी की है।

राज एक्सप्रेस। हर एप्लीकेशन अपनी लांचिंग के समय कुछ नियम व शर्ते रखती है। जिन्हें उस ऐप के यूजर्स को मानना ही पड़ती हैं। यदि किसी वजह से यूजर्स इन नियमों का उल्लंघन करते हैं तो, वो ऐप उनके अकाउंट को बिना किसी अनुमति के सस्पेंड या ब्लॉक या उसके द्वारा शेयर किए गए पोस्ट को हटा भी सकती है। भले वो कोई बड़ा नेता, सेलिब्रिटी हो या आम आदमी। ऐसा ही कुछ दुनियाभर में इस्तेमाल होने वाली लोगों की लोकप्रिय इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp ने अपने 20 लाख से ज्यादा यूजर्स के साथ किया है।

WhatsApp ने सस्पेंड किए 20 लाख से ज्यादा अकाउंट :

दरअसल, इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp समय-समय पर अपने द्वारा की गई कार्रवाई से जुड़ी रिपोर्ट जारी की जाती है जिसे कंप्लायंस रिपोर्ट भी कह सकती है। इस रिपोर्ट के आधार पर बहुत से खुलासे होते हैं। वहीं, WhatsApp द्वारा अगस्त महीने की कंप्लायंस रिपोर्ट शेयर जारी की गई है, जिसे बड़ा खुलासा यह हुआ है कि, मात्र अगस्त के महीने के दौरान अंदर WhatsApp ने 20 लाख से ज्यादा भारतीय यूजर्स को बैन किया है। यही सही आंकड़ा देखा जाये तो, यह WhatsApp ने कुल 20,70,000 अकाउंट्स पर बैन लगाया गया है। क्योंकि, WhatsApp इंडियन अकाउंट्स की पहचान 91 से शुरू होने वाले नंबरों के तौर पर करता है और यदि कोई नंबर इससे अलग पाया गया है तो कंपनी ने उसे ब्लॉक कर दिया है।

क्यों लगाया बैन :

WhatsApp ने इस मामले में एक बयान साझा कर बताया है कि, 'अगस्त में कंपनी को 420 ग्रीविएंस रिपोर्ट्स मिलीं, जिनपर कार्रवाई की गई। सामने आए आंकड़े में से करीब 95 प्रतिशत अकाउंट्स ऑटोमेटेड या बल्क मेसेजिंग (स्पैम) के चलते बैन किए गए हैं। अगस्त महीने में यूजर्स ने करीब 420 ग्रीविएंस रिपोर्ट कंपनी को भेजी। इनमें 105 अकाउंट सपोर्ट, 222 बैन अपील, 34 अदर सपोर्ट, 42 प्रोडक्ट सपोर्ट और 17 सेफ्टी से जुड़ी रिपोर्ट्स शामिल हैं।'

स्पोक्सपर्सन ने की रिपोर्ट :

WhatsApp के एक स्पोक्सपर्सन ने नई रिपोर्ट को लेकर कहा, "गलत इस्तेमाल रोकने को लेकर एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड मेसेजिंग सर्विसेज में व्हाट्सऐप इंडस्ट्री में सबसे आगे हैं। पिछले कुछ साल में हमने लगातार आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस पर काम किया है और अपने यूजर्स को प्लेटफॉर्म पर सुरक्षित रखने के लिए स्टेट ऑफ आर्ट टेक्नोलॉजी, डाटा साइंटिस्ट्स और एक्सपर्ट्स की मदद भी लेते हैं।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.