गूगल सर्च में दिख रहे यूजर्स के WhatsApp प्राइवेट ग्रुप्स, प्रोफाइल और नंबर
WhatsApp private groups, profiles and numbers of users seen in Google searchSyed Dabeer Hussain - RE

गूगल सर्च में दिख रहे यूजर्स के WhatsApp प्राइवेट ग्रुप्स, प्रोफाइल और नंबर

एक बार फिर WhatsApp पर पहले जैसी प्रॉब्लम आ गई है। इस प्रॉब्लम के तहत कुछ लोगों की प्रोफाइल पिक्चर, प्राइवेट ग्रुप्स और फ़ोन नंबर गूगल सर्च में दिख रहे हैं।

राज एक्सप्रेस। अगर आपको पता चलें कि, आपकी WhatsApp ग्रुप की चैट और आपके मेंबर की जानकारी को गूगल सर्च में दिखाई दे रही है तो, आपका रिएक्शन क्या होगा। आप हैरान रह जाएंगे ना। आपको यह पड़ कर अजीब लग रहा होगा, लेकिन यह सच है। दरअसल, WhatsApp पर कुछ पब्लिक ग्रुप गूगल सर्च रिजल्ट में दिखाई दे रहे थे। हालांकि, इस तरह की प्रॉब्लम WhatsApp पर पिछले साल फरवरी में भी आ चुकी है, लेकिन तब यह समस्या दूर कर दी गई थी।

गूगल सर्च में दिख रहे WhatsApp प्राइवेट ग्रुप्स :

एक बार फिर WhatsApp पर पहले जैसी प्रॉब्लम आ गई है। इस प्रॉब्लम के तहत कुछ लोगों की प्रोफाइल पिक्चर, प्राइवेट ग्रुप्स और फ़ोन नंबर गूगल सर्च में दिख रहे हैं। इस बारे में जानकारी Gadgets 360 के साथ बातचीत के दौरान साइबरसिक्यॉरिटी रिसर्चर राजशेखर राजहरिया ने दी है। इससे यूजर्स को यह नुकसान हो सकता है कि, यदि किसी के पास आपके WhatsApp ग्रुप का URL है तो वह गूगल पर सर्च करके उस ग्रुप को जॉइन कर सकता हैं। इस मामले में एक रिपोर्ट जारी की गई है।

क्या है रिपोर्ट में ?

रिपोर्ट में बताया गया है कि, WhatsApp यूजर्स लिंक के साथ ग्रुप जॉइन कर सकते हैं और ग्रुप मेंबर्स के फोन नंबर देख सकते हैं। इसके अलावा ग्रुप मेंबर के पोस्ट भी गूगल सर्च में देखे जा सकते हैं। हालांकि, यह पता नहीं चला रहा है कि, आखिर WhatsApp ने कबसे ग्रुप चैट इनवाइट को गूगल पर इंडेक्स करना शुरू किया है। बता दें, करीब 1,500 ग्रुप इनवाइट लिंक सर्च रिजल्ट में पहले से उपलब्ध हैं। हालांकि, गूगल द्वारा इंडेक्स किए गए कुछ ग्रुप यूजर्स को पॉर्न कॉन्टेन्ट पर रीडायरेक्ट कर रहे हैं जबकि कुछ ग्रुप स्पेसिफिक यूजर इंट्रेस्ट वाले हैं।

एक्सपर्ट ने बताया :

एक्सपर्ट ने बताया है कि, 'मेसेंजर ऐप whatsapp सबडोमेन के लिए robots.txt फाइल का इस्तेमाल नहीं कर रहा था। कंपनियां सर्च क्रॉलर्स को कॉन्टेन्ट इंडेक्स करने से रोकने के लिए robots.txt का इस्तेमाल करती हैं।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co