WIFI dabba will compete with Reliance Jio
WIFI dabba will compete with Reliance Jio|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

ये कंपनी न कर दे रिलायंस Jio का डब्बा गोल!

देश में ब्रॉडबैंड, टेलिफोन, मोबाइल सर्विस प्रोवाइडर जियो को बेंगलुरु के Wifi सर्विस स्टार्टअप ने काम और दाम दोनों के मामले में लगभग उसी (Jio) के अंदाज में टक्कर दी है।

Neelesh Singh Thakur

हाइलाइट्स :

  • Wifi सर्विस का बेंगलुरु में तेजी से उभरता नाम

  • 1GB डाटा के इतने कम दाम कि सुनकर सब हैरान!

  • स्टार्टअप ने दाम और काम दोनों में दी जियो को किया परेशान!

राज एक्सप्रेस। कम, दाम, बेहतर काम, बड़ा नाम नीति से भारत की टेलिफोन, ब्रॉडबैंड, इंटरनेट कम्युनिकेशन इंडस्ट्री का सिरमौर बनी रिलायंस जियो को इंटरनेट सर्विस के मामले में टक्कर मिलने वाली है। दरअसल बेंगलुरु के एक स्टार्टअप ने अपनी इंटरनेट सर्विस के दाम इतने कम और सर्विस इतनी उम्दा रखी है कि बखान सुनकर आप भी चौंक जाएंगे।

1 रुपए में 1GB :

जी हां, इतना डाटा वो भी इतने कम दाम पर बेंगलुरु में मिल रहा है। यहां स्टार्टअप कंपनी के ऑफर और सर्विस की न केवल तारीफ हो रही है बल्कि रिलायंस जियो की महंगी सर्विस के मुकाबले लोगों को रास भी आ रही है। आपको इतनी किफायती सर्विस के लिए कुछ दिन इंतजार करना होगा क्योंकि स्टार्टअप ने अपनी सर्विस को शुरुआती दौर में बेंगलुरु में ही रन करने का मन बनाया है। कंपनी के मुताबिक दूसरे शहरों में मांग के आधार पर सेवा का विस्तार किया जायेगा।

बैंगलुरु में धूम :

रिलायंस जियो की Wifi इंटरनेट सर्विस का डब्बा गोल इसलिए हो सकता है क्योंकि स्टार्टअप Wifi Dabba ने भारत में अब तक का सबसे सस्ता प्लान जो पेश कर दिया है। रिलायंस जियो समेत अन्य Wifi सर्विस प्रोवाइडर्स के मुकाबले Wifi Dabba ने Wifi बाजार में धमाकेदार प्लान पेश किया है। आईटी हब बेंगलुरु में स्टार्टअप Wifi Dabba का सिर्फ 1 रुपए में एक जीबी डाटा प्लान जमकर धूम मचा रहा है।

इतने साल की मेहनत :

जियो से मुकाबला कर रही Wifi Dabba कंपनी ने तकनीकी तौर पर खुद को आत्मनिर्भर बनाया है। यह स्टार्टअप साल 2017 में शुरू हुआ था जो लगातार अपना विस्तार कर रहा है। गौरतलब है कि इसी साल जियो ने भी आगाज़ किया था।

सफलता की वजह :

बाजार जगत की खबरों के मुताबिक वाईफाईडब्बा की विश्वसनीय और किफायती सर्विस ही उसकी लोकप्रियता का कारण है। कनेक्टिविटी में ज़ीरो एरर प्रॉब्लम के अपने कमिटमेंट को भी कंपनी ने बखूबी निभाया है।

सुदृढ़ तकनीक, सफल रणनीति :

एक्सपर्ट्स के मुताबिक अन्य कंपनियों की इंटरनेट उपलब्धता और एक्सेस करने की कीमत बहुत कुछ थर्ड पार्टी हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और फिर सबसे अहम चीज नेटवर्क इंफ्रास्ट्रक्चर के कारण बढ़ जाती है। फाइबर ऑप्टिक विस्तार करने में भी कीमतों का बढ़ना लाज़िमी है।

इसलिए सस्ता :

स्टार्टअप Wifi Dabba ने इन्हीं मुद्दों पर फोकस करके जो रणनीतियां बनाईं उसी के कारण वो इतना सस्ता प्लान पेश कर पा रहा है। दरअसल वाईफाई डब्बा थर्ड पार्टी हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर या इंफ्रास्ट्रक्चर के बजाए खुद के हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और नेटवर्किंग का इस्तेमाल करता है। समझा जा सकता है इससे Wifi Dabba का जो वेंडर मार्जिन बचता है वही Wifi Dabba की असल ताकत है।

प्लान से हैरान!

Wifi Dabba ने ये प्लान और सर्विस पूरे भारत में एक साथ पेश कर दिया तो आर्थिक संकट झेल रहीं तमाम कंपनियों समेत जियो के जीवन पर संकट पैदा हो सकता है। दरअसल कंपनी के तीनों प्लान हैं ही ऐसे। Wifi Dabba दो रुपए में 1 जीबी डाटा, 10 रुपए के प्लान में 5 जीबी डाटा और 20 रुपए के प्लान में 10 जीबी डाटा ऑफर कर रहा है। यह डाटा प्लान भले ही 24 घंटों के हिसाब से हो लेकिन मंथली प्लान के लिहाज से भी यह ऑफर महंगा सौदा नहीं है। हालांकि साल 2017 में स्टार्टअप से 20 रुपये में एक जीबी डाटा मिल रहा था।

जियो की नीति :

देश में ब्रॉडबैंड, टेलिफोन, मोबाइल सर्विस प्रोवाइडर जियो को बेंगलुरु के Wifi सर्विस स्टार्टअप ने काम और दाम दोनों के मामले में लगभग उसी (जियो) के अंदाज में टक्कर दी है। दरअसल जियो की पूर्वज कंपनी रिलायंस ने जिस तरह लोगों को मुफ्त में मोबाइल बेचकर सीडीएमए मोबाइल सर्विस के जरिए “कर लो दुनिया अपनी मुट्ठी में” का अपना सपना साकार किया था, उसी तरह Wifi Dabba ने कंपनी से जुड़ने वालों के लिए कोई सदस्यता शुल्क नहीं रखा है।

टेस्टिंग मोड :

हाई स्पीड Wifi डेटा प्रोवाइडर कंपनी दमदार कनेक्टिविटी के साथ फिलहाल बेंगलुरु में अपने टेस्टिंग मोड में कही जा सकती है। कंपनी के मुताबिक उसने फिलहाल दूसरे शहरों में कहीं भी अपनी सेवा का विस्तार नहीं किया है, हालांकि यदि मांग मिली तो फिर सर्विस का विस्तार करने की भी Wifi Dabba की योजना है। कंपनी की तकनीक दुरुस्त और अच्छी होने के साथ ही इसका प्लान जियो के मुकाबले 300 गुना सस्ता बताया जा रहा है।

सुपरनोड्स :

स्टार्टअप Wifi Dabba ने अपने वाई-फाई राउटर चाय और लोकल दुकानों जैसी छोटी जगहों पर इंस्टॉल कर विस्तार की किफायती और सफल रणनीति से सफलता हासिल की है। जिसे स्टार्टअप ने सुपरनॉड्स नाम दिया है। कंपनी प्रत्येक सुपरनोड्स से प्रति 20 किलोमीटर 100 जीबी प्रति सेकंड की दर से इंटरनेट की सुविधा दे रही है। स्टार्टअप ने राउटर के लिए Dabba नाम का ऑपरेटिंग सिस्टम भी तैयार किया है जो बाजार के दिग्गजों का डब्बा गोल कर सकता है।

हर्रा लगे न फिटकरी :

फिर भी रंग आए चोखा वाली कहावत को स्टार्टअप Wifi Dabba ने वास्तव में सच कर दिखाया है। जी हां छोटी-मोटी दुकानों में पैठ जमाने के बाद कंपनी की अब अपने प्रोजेक्ट के आवासीय क्षेत्रों तक विस्तार की योजना है। बगैर केबल, बगैर सरकारी स्पेक्ट्रम खरीदे स्टार्टअप Wifi Dabba मात्र अपने राउटर के खर्च के दम पर Wifi की दुनिया में तेजी से उभरता नाम कहा जा सकता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co