cyber fraud
cyber fraudRaj Express

एआई की मदद से हूबहू परिजनों की आवाज में जरूरी जानकारियां उगलवा लेते हैं साइबर ठग...सावधान रहें

ठगों ने भी एआई को काफी उपयोगी पाया है। वे इसके जरिए नए-नए तरीके से फ्रॉड कर रहे हैं, जिनके बारे में सामान्य आदमी कभी कल्पना ही नहीं कर सकता।

हाईलाइट्स

  • एआई ने सभी क्षेत्रों में हमारे काम को आसान बनाया, लेकिन अब ठगों ने खड़ी कर दी नई तरह की मुश्किल

  • यदि आप असावधानीवश फ्राड के शिकार हो गए हैं, तो तुरंत नजदीकी साइबर सेल या 1930 नंबर पर शिकायत करें

राज एक्सप्रेस । एआई यानी आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस ने आजकल सभी क्षेत्रों में हमारा काम आसान कर दिया है। एआई हमारी जरूरत का हर काम करने में सक्षम है। आप पर्यावरण पर एक निबंध लिखना चाहते हैं, यह एआई के बांए हाथ का खेल है। इतना ही नहीं आपको कोई भी कोर्स करना है या किसी विषय की जानकारी चाहिए तो हर जगह एआई आपकी सहायता के लिए खड़ा है। एआई के कई फायदे हैं, तो कई नुकसान भी हैं। ठगों ने भी एआई को काफी उपयोगी पाया है। वे इसके जरिए नए-नए तरीके से फ्रॉड कर रहे हैं, जिनके बारे में सामान्य आदमी कभी कल्पना ही नहीं कर सकता।

जानिए कैसे किया जाता है फ्रॉड

हाल के दिनों में एआई की मदद से फ्रॉड के कई मामले सामने आये हैं। ठग इस पोस्ट को लाइक करें और पैसे कमाए, पार्ट टाइम जॉब और अन्य तरह से लोगों को अपने फंदे में फंसाते हैं। लोगों को पार्ट टाइम जॉब के लिए काफी ज्यादा पैसे कमाने का लालच दिया जाता है। मौजूदा समय में एक नया फ्रॉड सामने आया है जिसका नाम है वॉइस क्लोनिंग फ्रॉड। वॉइस क्लोनिंग फ्रॉड में जालसाज एआई की मदद से आपके रिश्तेदार या दोस्तों की आवाज में आपको कॉल करेंगे और पैसे और पर्सनल जानकारी मांगेंगे। आपको लगेगा कि आपके रिश्तेदारों और दोस्तों ने ही कॉल कर मदद की मांग की है। क्योंकि इस फोन कॉल में एआई की मदद से आवाज की हूबहू कॉपी की गई है, इस लिए तय है कि आपको लगेगा यह सहायता तो आपका परिचित या रिश्तेदार मांग रहा है।

फोन आए तो पलटकर अपने फोन से कीजिए कॉल

ध्यान रखिए, अगर कभी आपके पास कभी इस तरह की कॉल आए जिसमें आपका कोई रिश्तेदार या परिजन कोई गुप्त जानकारी या कोई अन्य वस्तु मांग रहा है तो तुरंत सावधान हो जाएं। आप तुरंत उसकी कॉल काटकर उसे अपने फोन से कॉल करें। इससे आप सही और गलत के अंतर को खत्म कर पाएंगे। अगर आप बिना कॉल किए किसी को पैसे भेजते हैं, तो आप निश्चित ही फ्रॉड के शिकार हो सकते हैं। हो सकता है जालसाज आपको बातचीत में फंसा कर आपसे जरूरी जानकारी निकलवा ले।

सतर्क रह कर ही रोके जा सकते हैं फर्जीवाड़े

एआई के माध्यम से की जाने वाली गड़बड़ियों के प्रति सरकार लगातार लोगों को सतर्क कर रही है। पुलिस का कहना है कि साइबर ठग फोन पर बात करने के दौरान एआई के माध्यम से आवाज की हूबहू नकल करके आपको धोखा देते हैं। जब कभी इस तरह का फोन आए तो तुरंत कॉल काट के खुद फोन लगाइए। अगर फोन करने वाला आपके किसी परिचित की आवाज में कोई निजी जानकारी या पैसे मांगे तो पहले पहचान की पुष्टि ज़रूर करें। फर्जीवाड़ा समझ में आने पर नजदीकी थाने या साइबर सेल में तुरंत शिकायत जरूर करें। यदि आप असावधानीवश फ्राड के शिकार हो गए हैं, तो तुरंत शिकायत करें।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co