Raj Express
www.rajexpress.co
Zomato Acquired Uber Eats in India
Zomato Acquired Uber Eats in India|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

भारत में बंद Uber Eats की फ़ूड सर्विस, Zomato ने किया अधिग्रहण

घाटे में चल रही फ़ूड सर्विस कंपनी Uber Eats का सहारा बनी Zomato कंपनी। फ़ूड सर्विस कंपनियां Zomato और Uber Eats के बीच बीती रात 3 बजे एक डील साइन हुई। जानें, दोनों कंपनियों में क्या डील हुई।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • Zomato ने किया Uber Eats का अधिग्रहण

  • केवल भारत के लिए रात 3 बजे साइन हुई यह डील

  • भारत में बंद हो जाएगी Uber Eats की फ़ूड सर्विस

  • Uber अब फोकस करेगा कैब पर

राज एक्सप्रेस। घाटे के चलते हाल ही में कई डील्स हुई कई बैंको का मर्ज हुआ, कई टेलिकॉम कंपनियों ने एक दूसरे का अभिग्रहण कर लिया वहीं अब फ़ूड सर्विस प्रोवाइड करने वाली कंपनी Zomato ने आज सुबह-सुबह ये घोषणा कर सबको हैरान कर दिया कि, कंपनी ने अमेरिकी कंपनी Uber Eats के साथ एक डील साइन कर ली है। दरअसल Zomato ने Uber Eats का अधिग्रहण करने का फैसला करते हुए यह डील पूरी की। कंपनी ने यह जानकारी आज सुबह 7 बजे के आसपास ही दी। दोनों कंपनियों की यह डील रात 3 बजे फ़ाइनल हुई।

किसका होगा कितना हिस्सा :

Zomato द्वारा Uber Eats का अधिग्रहण करने के बाद अब डील के अनुसार, Uber Eats को Zomato कंपनी द्वारा 9.99% शेयर मिलेंगे। यदि हम डॉलर में बात करें तो, Zomato द्वारा किये वैल्यूएशन के अनुसार, 9.99% शेयरों की कीमत लगभग करीब 2,500 करोड़ रुपए (अमेरिकी करेंसी में 35 करोड़ डॉलर) बनती है। वहीं अब Uber Eats को अपने ग्राहकों सहित एप रेस्टोरेंट और डिलीवरी पार्टनर को Zomato एप में शिफ्ट करना होगा। घाटे के चलते Uber कंपनी ने भी यह डील साइन कर दी।

केवल भारत में हुई डील :

आपको बताते चलें कि, यह डील सिर्फ भारत के लिए ही है अन्य देशों में यह अलग-अलग ही कार्य करेंगे। वहां इनका कोई मर्जर नहीं होगा और दोनों कंपनियां अलग-अलग ही बिजनेस चलाएंगी। इसका मतलब यह हुआ कि, अब भारत में यूजर्स Uber Eats द्वारा खाना ऑर्डर नहीं कर सकेंगे। यह जानकारी Uber Eats ने स्वयं ट्वीटर अकाउंट द्वारा दी है। Uber Eats ने अपने ट्वीट में इस डील के बारे में बताया और अपने ग्राहकों को कहा कि,

"हमने 2017 में भारत में खाद्य वितरण में प्रवेश किया और अब हमारी यात्रा एक अलग रास्ता अपनाने जा रही है। Zomato ने भारत में Uber Eats का अधिग्रहण कर लिया है और इसलिए अब हम तत्काल प्रभाव से यहां उपलब्ध नहीं होंगे। हम अपने सभी उपयोगकर्ताओं के लिए रोड पर अच्छे भोजन के साथ अधिक अच्छे समय की कामना करते हैं।"

Uber Eats

Uber क्यों उतरा फूड डिलीवरी मार्केट में :

Uber कंपनी फूड डिलीवरी मार्केट में नंबर वन या टू पर अपनी पोजीशन बनाने के मकसद से आई थी। हालांकि, कंपनी की शुरुआत भी बहुत अच्छी हुई थी। Uber Eats ने अपने प्रदर्शन और सेवाओं से भारत के फूड डिलीवरी मार्केट में लगभग 12% मार्केट में अपना कब्जा जमा लिया था, लेकिन जैसे ही मार्केट में Zomato और Swiggy कंपनियां आई तो, Uber Eats को कड़ी टक्कर मिली और कंपनी की हालत कमज़ोर पड़ने लगी।

Uber का फोकस अब कैब पर :

Uber कंपनी ने अब फैसला लिया है कि, वो अब भारत में सिर्फ अपने कैब बिजनेस पर ही फोकस करेगी और उस बिजनेस को ही आगे बढ़ाएगी। बताते चलें कि, वर्तमान में भारत के 50 शहरों में Uber अपनी कैब सेवाएं प्रदान कर रहा है, जिसे कंपनी का मकसद बढ़ा कर 200 शहरों तक करना है।

Zomato के CEO ने बताया :

Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने बताया कि, “Zomato कंपनी अपनी फूड डिलीवरी सर्विस देने के लिए नंबर वन है। हमें भारत के 500 से अधिक शहरों में सेवाएं देने में गर्व महसूस होता है। हमरे द्वारा यह अधिग्रहण करने से Zomato की स्थिति और अधिक मजबूत हो गई है।"

Uber के CEO ने बताया :

Uber के CEO खोस्रोशाही ने बताया कि, "Uber के लिए भारत एक महत्वपूर्ण बाजार है और कंपनी यहीं कैब बिजनेस को बढ़ाने के मकसद से और भी निवेश करेगी।" Zomato की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि, "हम Zomato की क्षमता से बहुत प्रभावित हुए हैं आगे हम Zomato की निरंतर सफलता की कामना करते हैं।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।