Zomato IPO
Zomato IPO |Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

Zomato कंपनी कर रही अगले साल तक IPO लाने की तैयारी

भारतीय फूड डिलीवर करने वाली कंपनी Zomato भी अपना IPO (Initial Public Offering) लाने की योजना बना रही है। खबरों के अनुसार, कंपनी अपना IPO साल 2021 तक लेकर आने पर विचार कर रही है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

Zomato IPO : जब-जब कंपनियों को पूंजी जुटाने के लिए जरूरत होती है। तब-तब कंपनियां अपना IPO (Initial Public Offering) लेकर मार्केट में आती है। जिससे उन कंपनियों को पूंजी जुटाने में निवेशकों का साथ मिल सके। वहीं, अब भारतीय फूड डिलीवर करने वाली कंपनी Zomato भी अपना IPO (Initial Public Offering) लाने की योजना बना रही है। खबरों के अनुसार, कंपनी अपना IPO साल 2021 तक लेकर आने पर विचार कर रही है।

Zomato कंपनी कर रही IPO लाने की तैयारी :

दरअसल, भारतीय फूड डिलीवर करने वाली कंपनी Zomato साल 2021 तक अपना IPO लेकर मार्केट में उतरेगी। गौरतलब है कि, कंपनी ने अमेरिकी इनवेस्टमेंट फर्म टाइगर ग्लोबल मैनजमेंट और सिंगापुर की कंपनी टेमासेक से लगभग 1200 करोड़ रुपये (16 करोड़ डॉलर) की रकम जुटाई है। खबर तो यह भी है कि, Zomoto में 23% हिस्सेदारी रखने वाली Infoedge कंपनी ने इस बात की जानकारी बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को दी है कि, Zomato ने टाइगर ग्लोबल मैनेजमेंट LLC से 10 करोड़ डॉलर और टेमासेक होल्डिंग्स लिमिटेड की सब्सिडियरी MacRitchie इनवेस्टमेंट्स से 6 करोड़ डॉलर जुटाये हैं।

Zomato के फाउंडर और CEO का कहना :

बताते चलें, Zomato अगले साल 2021 की पहली छमाही में IPO लाने के लिए आवेदन कर सकता है। इस बारे में Zomato कंपनी के फाउंडर और CEO दीपिंदर गोयल का कहना है कि, 'कर्मचारियों को भेजे एक ई-मेल में बताया है कि, कंपनी अगले साल की पहली छमाही में IPO लाने पर जोरशोर से काम कर रही है। हमनें काफी पूंजी जुटा ली है और बैंक में हमारा कैश करीब 25 करोड़ डॉलर है। यह हमारे इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा कैश है।'

फंडिंग के लिए शामिल हुई यह कंपनियां :

बताते चलें, कंपनी में पूंजी जुटाने के लिए टाइगर ग्लोबल, टेमासेक, बैली गिफोर्ड और आन्ट फाइनेंशियल द्वारा फंडिंग करने के लिए भाग लिया गया है। इसके अलावा फंडिंग के लिए वर्तमान में भी अन्य कई बड़े नाम जुड़ रहे हैं। Zomato के फाउंडर और CEO दीपिंदर गोयल ने अनुमान जताते हुए कहा कि, 'हमारा अनुमान है कि बहुत जल्द ही हमारा बैंक कैश 60 करोड़ डॉलर हो जाएगा।'

कंपनी का वैल्यूएशन :

कंपनी ने अमेरिकी इनवेस्टमेंट फर्म टाइगर ग्लोबल मैनजमेंट और सिंगापुर की कंपनी टेमासेक में निवेशकों द्वारा जो निवेश पाया है, उस निवेश से कंपनी का वैल्यूएशन करीब 25 हजार करोड़ रुपये हो जाती है। बताते चलें, कोरोना के चलते लगे लॉकडाउन के चलते Zomato और Swiggy जैसी फूड डिलीवर करने वाली कंपनियों को काफी नुकसान उठाना पड़ा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co