सेन्ट्रल जेल में कोरोना विस्फोट : 250 कैदियों में से 33 पॉजिटिव मिले
सेन्ट्रल जेल में कोरोना विस्फोटSocial Media

सेन्ट्रल जेल में कोरोना विस्फोट : 250 कैदियों में से 33 पॉजिटिव मिले

ग्वालियर, मध्य प्रदेश : सेन्ट्रल जेल में कोरोना का विस्फोट हुआ है। हालत यह है कि जेल में बंद कैदियों में से महज 250 का एंटीजन टेस्ट कराया गया था। जिसमें से 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव पाए गए।

हाइलाइट्स :

  • लक्षण दिखने वालों को कराया जेएएच में भर्ती

  • जिनमें नहीं पाए गए लक्षण उन्हें जेल की ही विशेष बैरक में किया आइसोलेट

  • कलेक्टर ने कराया था जेल में कैदियों का एंटीजन टेस्ट

  • जेल महानिदेशक ने जांच के लिए एडीजी मीणा व डीआईजी पाण्डेय को भेजा

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। सेन्ट्रल जेल में कोरोना का विस्फोट हुआ है। हालत यह है कि जेल में बंद कैदियों में से महज 250 का एंटीजन टेस्ट कराया गया था। जिसमें से 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जेल में इतनी बड़ी संख्यां में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर कलेक्टर ने तुरंत ने ही जेल महानिदेशक को कॉल कर सूचना दी।

कोरोना जैसे- जैसे पूरे देश में कदम बढ़ा रहा है। उसी के साथ जेल में भी धमाकेदार एन्ट्री देने लगा है। सेन्ट्रल जेल में एन्टीजन टेस्ट कराए गए। महज ढाई सैकड़ा कैदियों की जांच में 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जैसे ही यह आंकड़ा जेल अधिकारियों और जेल मुख्यालय में बैठे अधिकारियों के सामने पहुंचा तो उनके होश उड़ गए। जेल महानिदेशक संजय चौधरी ने एडीजी जेल गाजीराम मीणा और एडीजी जेल संजय पाण्डेय को सेन्ट्रल जेल का निरीक्षण कर सभी इंतजाम दुरुस्त कराने के निर्देश दिए। चूंकि एडीजी जेल संजय पाण्डेय पहले से मुरैना जिले में मौजूद जेलों का भ्रमण करने के लिए आए हुए थे। वहीं निर्देश मिलने के साथ ही एडीजी मीणा सीधे ग्वालियर सेन्ट्रल जेल पहुंचे। उनके साथ डीआईजी संजय पाण्डेय भी जेल पर पहुंचे। उन्होंने जेल की प्रत्येक बैरिक का निरीक्षण किया और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

कलेक्टर की सूचना पर डीजी जेल हुए सख्त :

जेल में कराए गए एंटीजन टेस्ट में 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। यह सूचना कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जेल महानिदेशक संजय चौधरी को दी। कलेक्टर की सूचना पर जेल महानिदेशक ने न केवल मुख्यालय में बैठे अधिकारियों को सेन्ट्रल जेल का निरीक्षण करने का निर्देश दिया, बल्कि उन्होंने सेन्ट्रल जेल तैनात जेल अधिकारियों को भी फटकार लगाई।

लक्षण दिखने वालों को भेजा जेएएच :

जेल में कोरोना पॉजिटिव कैदियों के लिए एक अलग से बैरिक है। इस बैरिक की छमता करीब 70 है। एंटीजन टेस्ट में जो कैदी पॉजिटिव पाए गए हैं। उनमें से ऐसे कैदी जिनको लक्षण दिख रहे हैं। उन्हें जेएएच भेजा गया है। वहीं ऐसे कैदी जिनमें लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं। उनको जेल की कोरोना मरीजों वाली बैरिक में रखा गया है।

आज होगी 40 कैदियों की रिहाई :

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर सेन्ट्रल जेल के कुल 40 कैदियों का रिहा किया जाएगा। चूंकि इनमें से 28 कैदी पहले ही पेरोल पर चल रहे थे। इसलिए उन्हें शुक्रवार की शाम तक वापस जेल बुला लिया गया है। शेष 12 कैदी सेन्ट्रल जेल में ही बंद हैं। शनिवार की सुबह सभी 40 कैदियों को रिहा किया जाएगा।

इनका कहना :

सेन्ट्रल जेल के अधिकारियों द्वारा मुझे कोरोना पॉजिटिव कैदियों के बारे में सूचना दी गई थी। संक्रमित कैदियों के लिए आवश्यक इंतजाम के दिशा निर्देश दिए गए हैं।

संजय चौधरी, डीजी जेल

जेल के कैदियों का एंटीजन टेस्ट कराया गया था। जिसमें करीब 33 कैदी पॉजिटिव पाए गए थे। इस संबंध में गृह एवं जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा और डीजी जेल संजय चौधरी को सूचना दे दी गई है। जेल में कैदियों की स्थिति पर जिला प्रशासन लगातार नजर बनाए हुए है।

कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, कलेक्टर

जेल में 250 कैदियों का एंटीजन टेस्ट कराया गया था। जिसमें से 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिन कैदियों में लक्षण नजर आ रहे थे, उन्हें जेएएच भेजा गया है। शेष कैदियों को जेल की एक विशेष बैरिक में रखा गया है।

संजय पाण्डेय, डीआईजी जेल

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co