फिर बजी कोरोना के खतरे की घंटी! स्वास्थ्य मंत्रालय की बैठक आज
फिर बजी कोरोना के खतरे की घंटी! स्वास्थ्य मंत्रालय की बैठक आज Syed Dabeer Hussain - RE

फिर बजी कोरोना के खतरे की घंटी! स्वास्थ्य मंत्रालय की बैठक आज, हो सकते हैं सख्त फैसले

कोरोना के प्रसार को देखते हुए आज सोमवार (20 मार्च) को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की एक बड़ी बैठक होने वाली है, जिसमें सख्‍त फैसले लेने की संभावना है...

दिल्‍ली, भारत। महामारी कोरोना वायरस का संक्रमण बीच-बीच में अपनी खतरे की घंटी बजाकर टेंशन बढ़ा रहा है। स्थिति काबू में थी, लेकिन अब यह खबर आ रही है कि, देश में कोरोना वायरस के केस में वृद्धि हो रही है, ऐसे में कोरोना के प्रसार को देखते हुए सरकार पहले ही इसके संक्रमण को रोकने के लिए एक्‍शन में आ चुकी है और आज सोमवार (20 मार्च) को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की एक बड़ी बैठक होने वाली है।

बैठक में सख्‍त फैसले लेने की संभावना :

दरअसल, कोरोना के नए आंकड़े चिंताजनक हालातों की ओर इशारा कर रहे है। तो वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की बैठक से पहले अटकलों का दौर शुरू हो चला है और इस दौरान कोरोना के संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए रणनीतियां तैयार कर कुछ सख्‍त फैसले आने की संभावना जताई जा रही है। कोरोना गाइडलाइंस में भी कुछ बड़े फैसले लिए जा सकते है। सूत्रों का कहना है कि, सरकार कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर नई गाइडलाइन बना सकती है। इसमें कुछ सख्त नियमों को भी लागू किया जा सकता है।

संक्रमण के मामलों ने चौंकाया :

दरअसल, आज 20 मार्च को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर जारी हुए कोरोना संक्रमण के नए मामलों ने चौंका दिया है, क्‍योंकि एक दिन 1000 के करीब नए मामलों की पुष्टि हुई है। आंकड़ों के अनुसार, एक ही दिन में 1070 नए कोरोना मामलों के साथ 4 लोगों की मौत हुई। जबकि, देश में कुल एक्टिव मामलों की संख्या 6,350 हो गई है। तो वहीं, पिछले 24 घंटों में 479 लोग ठीक हुए है, कोरोना को मात देकर रिकवर यानी ठीक होने वालों की संख्या कुल 4,41,59,182 हो गई है।

इसके अलावा पिछले 24 घंटों में 1,246 खुराकें दी गईं, राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अब तक कुल 220.65 करोड़ टीके की खुराक (95.20 करोड़ दूसरी खुराक और 22.86 करोड़ एहतियाती खुराक) दी जा चुकी है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co