इंदौर कोरोना बुलेटिन
इंदौर कोरोना बुलेटिन|Raj Express

इंदौर कोरोना बुलेटिन : इंदौर में 295 पाजिटिव, संक्रमण से 6 लोगों की मौत

इंदौर, मध्य प्रदेश : सोमवार रात को जारी कोरोना हेल्थ बुलेटिन में इंदौर में 2799 टेस्ट में लोगों में 295 संक्रमण की पुष्टि हुई। कुल पाजिटिव मरीजों की संख्या 15,165 पर पहुंच गई है।

हाइलाइट्स :

  • विजयनगर बना कोरोना का हॉट स्पाट, ग्रामीण इलाके भी बेकाबू

  • 9 नए क्षेत्र में पहुंचा कोरोना संक्रमण

इंदौर, मध्य प्रदेश। सोमवार रात को जारी कोरोना हेल्थ बुलेटिन में इंदौर में 2799 टेस्ट में लोगों में 295संक्रमण की पुष्टि हुई। कुल पाजिटिव मरीजों की संख्या 15 हजार 165 पर पहुंच गई है। वहीं 6 मौतों के साथ संक्रमण से मरने वालों की संख्या 427हो गई है। 268 मरीज डिस्चार्ज हुए, अब तक 10 हजार 499 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं।

सोमवार सुबह सीएमएचओ कार्यालय द्वारा क्षेत्रवार सूची के मुताबिक कोरोना संक्रमण 7 नए क्षेत्र में पहुंचा है। जो नए क्षेत्र हैं वो हैं गुलमोहर ग्रीन, अनंत अर्पाटमेंट, बाजार चौक, भंडारी मिल, शंकुतलादेवी अस्पताल के पास, माता स्मृति नगर, ग्राम पंधना, फोर्स अकादमी चिताव और ट्रेजर विहार शामिल हैं।

विजयनगर बना कोरोना का हॉट स्पाट :

पुराने क्षेत्रों में विजयनगर लगातार कोरोना का हॉट स्पॉट बना हुआ है, यहां लगातार संक्रमित मरीज मिल रहे हैं, एकबार फिर यहां 16 पाजिटिव मरीज मिले हैं। ग्रामीण क्षेत्र कनाड़िया और बिचौली मर्दना में 8-8 पॉजिटिव मरीज निकले हैं। वहीं सुदामा नगर में भी 8-8 पॉजिटिव मरीज मिले हैं। अन्य क्षेत्रों में सुकलिया, बंगाली चौराह में 7-7, केंट एरिया महू में 6, मीरापथ नेहरू पार्क में, एमओजी लाइन, स्कीम नं. 71 में 5- 5, निहालपुरा में 4, साउथ तुकोगंज, बख्तावर राम नगर, श्याम नगर, स्कीम नं. 54, टीचर्स कालोनी में 3-3 पॉजिटिव मिले हैं। वहीं अन्य क्षेत्र में इक्का-दुक्का पाजिटिव मिले हैं। कुल 173 क्षेत्र में 301 पाजिटिव मरीज मिले हैं।

पड़ने लगी आक्सीजन की कमी :

कोरोना संक्रमण शहर में तेजी से फैल रहा है। शहर के दोनों सरकारी कोविड सेंटर के साथ ही, निजी अस्पतालों में गंभीर मरीज आ रहे हैं, जिन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही है। इन्हें आक्सीजन की जरूरत पड़ती है। लगातार इस प्रकार के मरीज आने के कारण अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी आने लगी है। एमटीएच स्थित कोविड सेंटर में इंदौर के साथ ही संभाग के अन्य जिलों से भी बड़ी संख्या में मरीज आ रहे हैं। कई मरीज की तो अस्पताल पहुंचने तक मौत हो जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक बीती रात 14 मरीजों ने दम तोड़ दिया। जिले में ऑसीजन कम पड़ रही है। आईसीयू में भर्ती मरीजों के लिए ऑसीजन मिलने में दिक्कत आ रही है। ज्यादतर गंभीर अवस्था में मरीज आ रहे हैं और उन्हें आईसीयू में भर्ती करना पड़ रहा है, लेकिन आईसीयू में जगह ही नहीं है। आक्सीजन की खपत अस्पतालों में दस गुना बढ़ गई है। एमटीएच में तीन सौ मरीज भर्ती हैं। एक सौ अस्सी आईसीयू में हैं, जिसमें से ज्यादातर गंभीर हैं। जब अस्पताल प्रशासन ने ऑसीजन सिलेंडर की मांग की, तो पता चला कि कहीं भी ऑसीजन का सप्लाई नहीं हो पा रहा। पूरे जिले में ऑक्सीजन सिलेंडरों की कमी बताई जा रही है। एमजीएम मेडिकल कॉलेज के करीब 15 जूनियर डॉक्टर्स संक्रमित हो अस्पतालों में इलाजरत हैं, अब नर्सिंग स्टाफ भी डयूटी को लेकर कतरा रहा है, क्योंकि एमटीएच में व्यवस्थाएं बिगड़ गई हैं और मरीजों के परिजन आए दिन यहां हंगामा कर रहे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co