इंदौर : टीके के बाद भी पॉजिटिव, कहीं म्यूटटेड वायरस संक्रमण तो नहीं?
टीके के बाद भी पॉजिटिव, कहीं म्यूटटेड वायरस संक्रमण तो नहीं?सांकेतिक चित्र

इंदौर : टीके के बाद भी पॉजिटिव, कहीं म्यूटटेड वायरस संक्रमण तो नहीं?

इंदौर, मध्यप्रदेश : शहर में टीके के बाद अब तक 20 लोगों को हो चुका है संक्रमण। सभी के सेंपल जांच के लिए भेजे जाएंगे पूणे।

इंदौर, मध्यप्रदेश। प्रदेश सहित इंदौर में तेजी से कोविड-19 पॉजिटिव बढ़ रहे हैं। लोग बड़ी संख्या में वैक्सीनेशन करा रहे हैं। टीके की दूसरी खुराक के बाद भी कुछ मामलों में टीकाकरण के बाद भी लोग पॉजिटिव हो रहे हैं। आखिर इसका क्या कारण है, इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया है और उसकी शंका है कि कहीं जो लोग टीकाकरण के बाद भी पॉजिटिव हो रहे हैं, उनमें म्यूटटेड वायरस संक्रमण तो नहीं है?

इसको लेकर स्वास्थ्य सेवा निदेशालय ने राज्य भर के प्रशासन और स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे उन रोगियों के नमूने भेजें, जिन्हें टीके की दूसरी खुराक मिलने के बाद भी कोविड पॉजिटिव पाया गया था। अपने आदेश में, आयुक्त स्वास्थ्य संजय गोयल ने उल्लेख किया है कि यह संभव है कि इन मामलों में वायरस को म्यूटटेड हो। आदेश में कहा गया है कि वायरस के नए संस्करण, उसके आनुवंशिक कोड, और उत्परिवर्तन के व्यवहार का अध्ययन करने के लिए, नमूने जीनोम अनुक्रमण के लिए नामित प्रयोगशाला में भेजे जाएंगे। पश्चिमी मप्र के जिलों के सैंपल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी, पुणे भेजे जाएंगे।

कमजोर इम्यूनिटी भी हो सकता है कारण :

जिला नोडल अधिकारी डॉ. अमित मालाकार ने बताया कि हमें जीनोम अनुक्रमण के लिए नमूने भेजने के लिए विभाग द्वारा निर्देशित किया गया है। हम मामलों की पहचान कर रहे हैं और महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज के माध्यम से नमूने जांच के लिए पूणे भेजेंगे। डिस्ट्रिक्ट कान्टेक्ट इंचार्ज डॉ। अनिल डोंगरे के मुताबिक शहर में 20 से अधिक मामले हैं जिनका टीकाकरण की दूसरी खुराक के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आई है। यह वायरस में म्यूटटेड (उत्परिवर्तन) या रोगी की कमजोर प्रतिरक्षा सहित विभिन्न कारणों से हो सकता है। उन्होंने कहा कि लोगों को बीमारी से सुरक्षित रहने के लिए टीका लगाने के बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए। उल्लेखनीय है कि हाल ही में, शहर के एक सीनियर पैथालाजिस्ट का वैक्सीनेशन होने के 24 दिनों के बाद कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसी तरह, टीकाकरण के 20 दिनों के बाद एक पुलिस वाले का भी परीक्षण किया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co