मुंबई: कोरोना संक्रमित में नई बीमारी के लक्षण- डॉक्टरों की बढ़ी टेंशन
मुंबई: कोरोना संक्रमित में नई बीमारी के लक्षण- डॉक्टरों की बढ़ी टेंशन|Priyanka Sahu -RE
कोरोना वायरस

मुंबई: कोरोना संक्रमित में नई बीमारी के लक्षण- डॉक्टरों की बढ़ी टेंशन

मुंबई में कोविड-19 से संक्रमित किशोरी में कोरोना संक्रमितों में कावासाकी बीमारी जैसे लक्षण सामने आने से डॉक्टरों की चिंता बढ़ गई है, भारत में ये पहला मामला सामने आया है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

मुंबई, भारत। भारत में घातक कोरोना वायरस की महामारी का कहर इस कदर फैला है कि, बीमारी के आंकड़े 5 लाख को पार हो चुके है और कोरोना से संक्रमित मरीजों में अब एक नए लक्षण पाए जाने की पुष्टि हुई है, जिससे डॉक्टरों की टेंशन बढ़ गई हैं और भारत में ये पहला मामला पश्चिमी मुंबई से सामने आया है।

कोरोना संक्रमितों में नया लक्षण :

दरअसल, पश्चिमी मुंबई में अब कोविड-19 से संक्रमित युवाओं में जो नया लक्षण देखने को मिला वो कावासाकी बीमारी का है। जी हां! अब कोरोना संक्रमितों में कावासाकी के लक्षण भी मिल रहे हैं, लेकिन आश्चर्यजनक रूप से भारत के कोरोना संक्रमितों में कावासाकी बीमारी के लक्षण मुंबई से कोविड-19 से संक्रमित 14 साल की एक किशोरी की रिपोर्ट में पाए गए हैं।

बताया गया है कि, मुंबई के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती 14 वर्षीय किशोरी में तेज बुखार और शरीर पर चकत्ते जैसे निशान उभर आए हैं। वहीं डॉक्टरों के मुताबिक, ये लक्षण कावासाकी बीमारी से मिलते-जुलते हैं, ये लक्षण उभरने के बाद किशोरी की तबीयत बिगड़ती चली गई, जिसके चलते उसे ICU वार्ड में शिफ्ट किया गया है। डॉक्टर उस किशोरी को इस वक्त कई दवाओं के मिश्रण के साथ टोसिलजैमैब दवा दे रहे हैं, किशोरी को कोविड-19 का संक्रमण उसके पिता से हुआ था।

कावासाकी बीमारी के लक्षण :

कोरोना संक्रमितों में मिलने वाली कावासाकी बीमारी की लक्षण की बात करें तो ऐसे लक्षणों वाले कोरोना संक्रमितों को शरीर पर चकत्ते पड़ जाते हैं और तेज बुखार आता है।

कई देशों में सामने आ चुके कावासाकी के लक्षण :

गौरतलब है कि, कोरोना वायरस के शिकार होने वाले मरीजों यानी कोरोना संक्रमितों में कावासाकी के लक्षण मिले हैं, लेकिन इस तरह के मामले अप्रैल महीने में अमेरिका, स्पेन, इटली और चीन में कम उम्र के संक्रमितों में ऐसे लक्षण उभर कर आए थे। एक अमेरिकी स्टडी के मुताबिक, अमेरिका में तकरीबन 58 कोरोना संक्रमितों में संक्रमितों में कावासाकी के लक्षण उभरे थे, कावासाकी बीमारी सामान्य तौर पर 5 साल से कम उम्र के बच्चों को ही ज्यादा होती है।

बच्चों में होने वाली संक्रामक बीमारियों की एक्सपर्ट तनु सिंघल के मुताबिक- कावासाकी जैसे लक्षण वाले युवाओं की तबीयत ज्यादा तेजी के साथ खराब हो सकती है, उस किशोरी को हमारे पास पहले भर्ती कराया जाना चाहिए था, जिससे हम उसकी हालत पर ज्यादा काम कर पाते, हालांकि ये कावासाकी बीमारी नहीं है, बल्कि उसके जैसे लक्षण हैं।

बता दें कि, इस खतरनाक कोरोना वायरस की महामारी को लेकर दुनियाभर के वैज्ञानिक दवाई व वैक्‍सीन बनाने के प्रयास में जुटे हुए हैं। इसी बीच अब कोवडि-19 की महामारी से संक्रमित मरीजों में अलग-अलग तरह के लक्षण उभरने लगे हैं, इसी कारण इस महामारी को कई बार रहस्यमयी भी कहा गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co