शहडोल : 20 वर्षीय युवती का अपहरण फिर दुराचार
20 वर्षीय युवती का अपहरण फिर दुराचारRaj Express

शहडोल : 20 वर्षीय युवती का अपहरण फिर दुराचार

शहडोल, मध्य प्रदेश : जिले के जैतपुर थाना अंतर्गत 20 वर्षीय युवती के अपहरण व दुराचार करने के बाद बेहोशी की हालत में दरवाजे के पास फेंक जाने का मामला सोशल मीडिया में रविवार को दिन भर चर्चा में रहा।

शहडोल, मध्य प्रदेश। जिले के जैतपुर थाना अंतर्गत 20 वर्षीय युवती के अपहरण व दुराचार करने के बाद बेहोशी की हालत में दरवाजे के पास फेंक जाने का मामला सोशल मीडिया में रविवार को दिन भर चर्चा में रहा, लेकिन सोशल मीडिया में गैंगरेप की सुबह से खबर चलती रही, जिसमें विजय त्रिपाठी, राजेश शुक्ला, मोनू शर्मा, मुन्ना सिंह के साथ अन्य युवकों का भी नाम शामिल रहा, लेकिन पुलिस ने अपहरण की खबर का खण्डन करते हुए एक व्यक्ति के द्वारा दुराचार करने की बात को ही स्वीकार किया है। बाकी बातों को थाना प्रभारी जैतपुर ने अपवाह बताया है, अब इस घटना में सोशल मीडिया और पुलिस के बयानों में विरोधाभाष नजर आ रहा है। अब इस घटना में सच्चाई क्या है, पुलिस विवेचना के बाद ही सामने आयेगा।

पीड़िता तीन दिन से थी लापता :

पुलिस की माने तो पीड़ित युवती 18 फरवरी से घर से लापता थी, जिसकी परिवारजनों द्वारा दो दिन तलाश की गई, लेकिन जब उसका कहीं कोई शिनाख्त नहीं चला तो, जैतपुर थाने में परिजनों द्वारा शनिवार को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस तलाश ही कर रही थी, इसी दौरान रात को पीड़ित को दरवाजे के पास कराहते हुए सुना गया, तब परिवारजनों ने घटना की पूरी जानकारी पुलिस को दी।

बयान में पीड़िता ने एक का बताया नाम :

थाना प्रभारी जैतपुर ने बताया कि मेरे द्वारा पीड़िता का प्राथमिक बयान लिया गया है, जिसमें एक युवक राजेश शुक्ला का नाम बताया गया है, लड़की को राजेश शुक्ला अपने फार्म हाऊस में रखा हुआ था और उसके साथ दुराचार किया। सोशल मीडिया में चल रहे चार अन्य युवकों के शामिल होने की खबर का पीड़िता ने खण्डन किया है, राजेश शुक्ला ही इस घटना का मुख्य आरोपी है।

विजय के नाम पर लगा विराम :

सोशल मीडिया में विजय त्रिपाठी का नाम आने से घटना आग की तरह फैल गई, विजय त्रिपाठी जैतपुर भाजपा मण्डल अध्यक्ष भी हैं, जिसको लेकर सुबह से ही सच्चाई जानने के लिए अटकलों का दौर चलता रहा, इस दौरान एडिशनल एसपी द्वारा भी विजय त्रिपाठी का नाम गिनाने से मामला और तूल पकड़ लिया, लेकिन शाम को जैतपुर नगर निरीक्षक ने राकेश शुक्ला का नाम लेकर चर्चाओं पर विराम लगा दिया।

इनका कहना है :

घटना कारित हुई है, जिसमें चार युवकों के नाम गिनाये जा रहे हैं, जिसमें विजय त्रिपाठी, राजेश शुक्ला, मोनू शर्मा, मुन्ना सिंह शामिल है, दरअसल इस मामले की विवेचना जारी है, जिसमें घटना में हकीकत में शामिल लोगों के नाम स्पष्ट हो सकेंगे।

मुकेश वैश्य, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, शहडोल

लड़की के लापता होने की उसके परिजनों द्वारा शनिवार को गुमशुदा की रिपोर्ट लिखाई गई थी, लड़की की तलाश की ही जा रही थी कि रात को लड़की को घर के सामने फेके जाने की सूचना मिली, लड़की का प्रारंभिक बयान मेरे द्वारा लिया गया, जिसमें एक युवक राजेश शुक्ला का नाम बताया गया है। राजेश शुक्ला द्वारा लड़की को अपने फार्म हाऊस में रखकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया है। लड़की ने इस बात को बयान में कबूल किया है।

कालूराम सिलाले, थाना प्रभारी, जैतपुर

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co