Anuppur : ब्लैकमेलिंग करने वाले संगठित गिरोह का पर्दाफाश
ब्लैकमेलिंग करने वाले संगठित गिरोह का पर्दाफाशसांकेतिक चित्र

Anuppur : ब्लैकमेलिंग करने वाले संगठित गिरोह का पर्दाफाश

अनूपपुर, मध्यप्रदेश : लिफ्ट लेने के बहाने बहाने महिला ने रची थी साजिश। एक महिला सहित चार आरोपी गिरफ्तार। पुलिस आरोपियों से कर रही पूछताछ।

अनूपपुर, मध्यप्रदेश। मंगलवार को फरियादी राजेन्द्र साहू पिता मूलचंद साहू उम्र 32 वर्ष निवासी न्यू राजनगर टावर थाना रामनगर जिला अनूपपुर के द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय में उपस्थित होकर एक लिखित शिकायत आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया। आवेदक पत्र के अनुसार आवेदक की राजेन्द्र साहू का न्यू राजनगर में कपड़े एवं मेडिकल स्टोर की दुकान है। दुकानदारी के अनुक्रम आवेदक की जान पहचान संध्या बंसल के साथ हो गई। दिनांक 29 अक्टूबर को संध्या बंसल के द्वारा आवेदक से किसी प्रकार के साधन न मिलने के कारण साथ में भालूमाडा जाने का कहा गया। आवेदक राजेन्द्र साहू और संध्या बंसल आवेदक के मोटर सायकल से भालूमाडा की तरफ गये। दोपहर करीब 3 बजे के भालूमाडा केवई नदी पुल तिराहा के पास कुछ व्यक्तिगत कारणों से संध्या बंसल द्वारा आवेदक को रूकने के लिए कहा गया। इसी दौरान दो व्यक्ति बब्बू बंसल एवं ऋषभ मिश्रा वहां आये एवं बब्बू बंसल कहा गया कि तुम मेरी पत्नी को कहां भगाकर ले जा रहे हो। इतने में दो अन्य व्यक्ति राजू हुसैन एवं नयूम खान भी वहां आ गए।

तीन लाख रूपये की मांग :

चारो व्यक्तियों के द्वारा आवेदक राजेन्द्र साहू को एकांत में शिवलहरा घाट की तरफ मारपीट करते हुए ले जाया गया और कहा गया कि अगर जान बचाना है तो हमारे अनुसार काम करो नही तो यहीं मारकर गाड देगें। चारो व्यक्तियों के द्वारा महिला संध्या बंसल के साथ आवेदक की आपत्तिजनक वीडियो बनाया गया एवं आवेदक को इस धमकी देते हुए विडियो के एवज में बलात्कार का झूठा रिपोर्ट करवाने की धमकी देते हुए 03 लाख रुपये की मांग की गई। इसके बाद चारो व्यक्तियों के द्वारा आवेदक के जेब में रखे नगर 07 हजार रूपये लूट लिए एवं उसका एटीएम कार्ड का पिन नंबर पूछकर उसे भी जबरदस्ती रख लिया गया।

इन धाराओं पर मामला पंजीबद्ध :

शिकायत की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल द्वारा गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन के मार्गदर्शन में विशेष टीम गठित कर गंभीरता से जांच को निर्देषित किया गया। सम्पूर्ण घटना क्रम में धारा 388, 389, 394, 395, 506 ताहि. कायम कर विवेचना में लिया गया है। गठित टीम द्वारा फरियादी से सूक्ष्मता से पूछताछ की गई एवं अनुसंधान की वैज्ञानिक पद्धतियों के आधार पर विवेचना प्रारंभ की गई।

लिफ्ट लेने के बहाने पूरा खेल :

पूछताछ प्राप्त साक्ष्यों एवं अन्य परिस्थिति जन्य साक्ष्यों से यह ज्ञात हुआ कि यह एक संगठित गिरोह है। जिसके द्वारा महिला के माध्यम से लिफ्ट लेने के बहाने किसी भी व्यक्ति के साथ महिला के आपत्तिजनक विडियो बनाए जाते हैं। बाद में उसे बलात्कार एवं अन्य आपराधिक झूठे केसो में फसाने के एवज में पैसे की मांग करते हुए मोटी रकम वसूली जाती है। उक्त घटना को संध्या बंसल, बब्बू बंसल, रिषभ मिश्रा, मो. हुसैन एवं नयूम खान के द्वारा संगठित होकर घटना घटित करने हेतु कार्य योजना तैयार कर अंजाम दिया गया है।

इन पर हुई कार्यवाही :

उक्त घटना में संलिप्त पांचों आरोपियों संध्या बंसल, रिषभ मिश्रा, मो0 हुसैन एवं नयूम खॉन को गिरफ्तार कर लिया गया है। एक आरोपी बब्बू बंसल फरार है जिसकी गिरफ्तारी हेतु विशेष टीम गठित की गई है। गिरफ्तार सुदा आरोपियों के द्वारा घटना स्थल एवं सम्पूर्ण घटना की पुष्टि करते हुए अपराध करना स्वीकार किया गया है। सम्पूर्ण कार्यवाही में पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल के निर्देशन, अति0पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी भालूमाडा जोधन सिंह परस्ते एवं उनकी टीम का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co