भोपाल- क्राइम बुलेटिन

भोपाल, मध्यप्रदेश : प्रदेश में तेजी से आपराधिक घटनाओं में बढ़ोतरी हो रही हैं, रोजाना दुष्कर्म की खबर सामने आ रही हैं, जानें आज की भोपाल क्राइम बुलेटिन खबरें...
भोपाल- क्राइम बुलेटिन
भोपाल- क्राइम बुलेटिनSyed Dabeer Hussain-RE

आरोपी ने 3 साल तक महिला की अस्मत लूटने के बाद शादी से किया इनकार

भोपाल। ऐशबाग थाना पुलिस ने एक तलाकशुदा महिला की शिकायत पर कॉल सेंटर में काम करने वाले युवक के खिलाफ बलात्कार का प्रकरण दर्ज किया है। महिला का आरोप है कि प्रेम जाल में फांसने के बाद आरोपी ने उससे नजदीकियां बढ़ा लीं और शादी का झांसा देकर उसके साथ ज्यादती की। आरोपी के कहने पर ही उसने पति से तलाक ले लिया। करीब तीन साल तक शारीरिक शोषण करने के बाद प्रेमी ने भी शादी से मना कर दिया। पुलिस ने महिला की शिकायत पर बलात्कार का प्रकरण दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

ऐशबाग पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार

29 वर्षीय महिला मूलत: छत्तीसगढ़ इलाके की रहने वाली है। भोपाल में वह टीटी नगर थानाक्षेत्र में रहती है। चार साल पहले महिला ने एमपी नगर के एक काल सेंटर में काम करना शुरू किया था। इस दफ्तर में अभिषेक रघुवंशी नाम का युवक भी काम करता था। साथ में काम करने के दौरान दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ गईं। इसी दौरान महिला का अपने पति से विवाद भी चल रहा था। एक साल बाद 2017 में महिला ने आरोपी के बरगलाने पर पति से तलाक लिया। तलाक के बाद अभिषेक ने महिला ने करीबी बढ़ाई तथा दोनों के बीच संबंध बन गए।

17 अक्टूबर 2017 को अभिषेक ने ऑफिस के काम का बहाना बनाते हुए महिला को हाउसिंग बोर्ड स्थित अपने कमरे पर बुलाया। यहां पर उसने महिला के साथ दुष्कर्म किया। दुष्कर्म के बाद उसने महिला को जल्द ही शादी करने का झांसा दिया। महिला की जब भी शादी की बात कहती वह अच्छी नौकरी लग जाने के बात कहकर टाल देता था। करीब ढाई साल तक वह महिला का शारीरिक शोषण करता रहा। इस दौरान दोनों के घर वालों को भी उनके प्रेम-प्रसंग के बारे में पता चला गया। दोनों के परिजनों के बीच भी शादी को लेकर बात चलती रही। पिछले दिनों युवक  ने शादी करने से मना कर दिया। महिला ने कल थाने पहुंचकर मामले की शिकायत कर दी। पुलिस ने बलात्कार का प्रकरण दर्ज करा आरोपी अभिषेक रघुवंशी को गिरफ्तार कर लिया है। आज उसे न्यायालय में पेश कर जेल भेजा जाएगा।

प्रेमी की प्रताड़ना से तंग आकर महिला की थी खुदकुशी

भोपाल। कोलार इलाके में दो बच्चों की मां ने अपने प्रेमी की प्रताड़ना से परेशान होकर सुसाइड किया था। वह अपने प्रेमी के साथ छिंदवाड़ा से भागकर भोपाल आई थी। पुलिस ने इस मामले में आरोपी प्रेमी के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक

26 वर्षीय मोना परतेती छिंदवाड़ा की रहने वाली है। उसके दो बच्चे भी हैं। सितंबर महीने वह अपने पति और बच्चों को छोड़कर अपने प्रेमी राकेश यादव के साथ भागकर भोपाल आई थी, और बैरागढ़ चीचली में रह रही थी। इस मामले में छिंदवाड़ा में गुमशुगदी भी दर्ज की थी। 17 नवंबर की दोपहर महिला ने अपने प्रेमी के घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। इस मामले को लेकर महिला के परिजनों ने अपने बयान दर्ज कराए थे। परिजनों ने महिला के प्रेमी पर उसे प्रताड़ना करने के आरोप लगाए थे।

परिजनों के बयान और पुलिस के बयानों के आधार पर आरोपी प्रेमी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। साथ ही पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

मनचले की नाबालिग लड़की से छेडख़ानी, केस दर्ज

भोपाल। गोविंदपुरा पुलिस ने एक नाबालिग लड़की की रिपोर्ट पर मोहल्ले में रहने वाले एक मनचले युवक के खिलाफ  पीछा कर अश्लील हरकत करने, गाली-गलौज और अश्लील इशारे समेत विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। आरोपी पिछले दो महीने से पीड़िता को घर से बाहर आते-जाते परेशान कर रहा था। कल रात तो उसकी हरकत बढ़ी तो लड़की ने रिपोर्ट दर्ज करवा दी।

पुलिस के मुताबिक

इलाके में रहने वाली 17 वर्षीय किशोरी नौवीं कक्षा तक पढ़ाई करने के बाद घर पर ही रहती है। उसने महीने में रहने वाला आकाश भालेराव नामक युवक पिछले सितंबर महीने से लगातार उसे परेशान कर रहा था। वह अक्सर उसका पीछा कर अश्लील इशारे और कमेंट्स करता था। किशोरी ने कई बार उसे समझाईश दी, लेकिन उसकी हरकतें बंद नहीं हुई। गुरुवार शाम को किशोरी घर लौट रही थी, तभी रास्ते में आकाश ने उसे रोक लिया और हाथ पकड़कर अश्लील हरकत करने लगा। लड़की के शोर मचाने पर वह मौके से भाग निकला। परेशान होकर किशोरी ने घटना की जानकारी परिजनों को दी और उसके बाद थाने जाकर रिपोर्ट दर्ज करवा दी।

शादी के चार महीने बाद महिला डॉक्टर ने फांसी लगाकर दी जान

भोपाल। राजधानी भोपाल के पिपलानी थाना इलाके में नवविवाहित महिला डॉक्टर ने फांसी लगाकर शुक्रवार की शाम को खुदकुशी कर ली। पुलिस को महिला के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। जिस कारण खुदकुशी के सही कारण का खुलासा नहीं हो सका है। मामले में पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है। बताया जा रहा है कि आत्महत्या के समय महिला घर में अकेली थीं।

जांच अधिकारी रामराज बघेल ने बताया-

डॉक्टर सरीता पटेल (30) मूलत: छिंदवाड़ा की निवासी थीं। चार माह पहले उनकी शादी डॉक्टर सरीता बीएएमएस करने के बाद एमडी की पढ़ाई कर रही थी। इसी के साथ वह एक निजी कॉलेज में बतौर प्रोफेसर कार्य कर रही थीं। ससुराल में उनके पति के अलावा भेल में पदस्थ उनके ससुर और सास के साथ एक देवर रहता है। कल शाम को पति घर से बाहर थे। जबकि सास-ससुर और देवर वॉक पर गए हुए थे। लौटकर देखा तो गेट अंदर से लॉक था, दरवाजा तोड़कर परिजनों ने घर में प्रवेश किया तो सरीता की बॉडी फंदे पर लटकी थी।

मृतका के पति ने पुलिस को बताया-

पत्नी ने किसी प्रकार की कोई परेशानी का जिक्र परिजनों से नहीं किया। हालांकि पुलिस का कहना है कि मृतका के मायके वालों के बयानों के आधार पर आगे की कार्रवाई तय की जाएगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co