Bhopal : डंपर ने युवा इंजीनियर को कुचला, 25 मीटर तक डंपर में फंसी घिसटती गई बाइक

भोपाल, मध्यप्रदेश : कहते है न दुर्घटना भली ऐसा ही वाकया घटा अनुज की ज़िन्दगी में। रोजाना बस से जाता था लेकिन आज देर होने की वजह से परिचित की बाइक लेकर निकला अनुज दुर्घटना का शिकार हो गया।
Bhopal : डंपर ने युवा इंजीनियर को कुचला, 25 मीटर तक डंपर में फंसी घिसटती गई बाइक
डंपर ने युवा इंजीनियर को कुचलासांकेतिक चित्र

भोपाल, मध्यप्रदेश। मिसरोद थाना क्षेत्र स्थित समरधा में राधापुरम कॉलोनी गेट के सामने गुरुवार सुबह करीब 11 बजे इंजीनियर को डंपर ने कुचल दिया। हादसे में डंपर का पहिया उसके सिर पर से गुजरने के कारण उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि हादसे के बाद तेज रफ्तार डंपर में बाइक फंसकर घिसटती रही। डंपर चालक को जब पता चला कि बाइक डंपर में फंसी है तो वह डंपर छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने अन्य ड्राइवर की मदद से डंपर बरामद कर लिया हैए जबकि आरोपी डंपर चालक की तलाश की जा रही है।

एसआई अरुण शर्मा के मुताबिक महिमाधाम कॉलोनी मंडीदीप निवासी अनुज साहू पुत्र हरगोविंद साहू (23) ने इसी साल बीटेक की पढ़ाई पूरी की थी। वह अच्छी नौकरी की तलाश में भोपाल से बाहर जाने की तैयारी में था लेकिन घर की आर्थिक स्थित बहुत ज्यादा ठीक नहीं होने के कारण उसने फिलहाल ग्यारह मील के पास मिसरोद स्थित प्रभु नेत्रालय में कम्प्यूटर ऑपरेटर की नौकरी शुरू कर दी थी। वैसे तो अनुज प्रतिदिन मंडीदीप से मिसरोद बस से आता-जाता था लेकिन गुरुवार को देर हो जाने के कारण उसने ड्यूटी पर जाने के लिए परिचित मोहन वानखेड़े की मोटरसाइकिल ले ली थी।

पुलिस ने बताया :

सुबह करीब 11 बजे अनुज मोटरसाइकिल से राधापुरम कॉलोनी के पास पहुंचा था। इसी दौरान पीछे से आ रहे तेज रफ्तार डंपर के चालक ने लापरवाही से गाड़ी चलाते हुए अनुज की मोटरसाइकिल को जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही वह मोटरसाइकिल समेत सड़क पर गिर गया और देखते ही देखते ही डंपर का पहिया अनुज के शरीर से गुजर गया। घटनास्थल पर ही उसकी दर्दनाक मौत हो गई। हादसे के दौरान अनुज की मोटरसाइकिल डंपर में फंस गई थी। आरोपी चालक हादसे के बाद रुका नहीं बल्कि तेजी से डंपर दौड़ाकर भागने लगा। इस दौरान मोटरसाइकिल भी करीब 25-30 मीटर तक डंपर में फंसी घिसटती रही। मोटरसाइकिल फंसी होने का का आभास होते ही आरोपी चालक डंपर छोड़कर भाग खड़ा हुआ। सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई थी। डंपर किसी चौहान कंपनी का बताया जा रहा है।

नौकरी के लिए बाहर नहीं जा सका :

मृतक अनुज के पिता हरगोविंद साहू ने पुलिस को बताया कि अनुज पढ़ाई में होशियार था। वह भोपाल से बाहर किसी अच्छी और बड़ी कंपनी में नौकरी करना चाहता था। लेकिन आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के कारण वह बाहर नहीं जा पा रहा था। अनुज परिवार में सबसे छोटा था। उससे बड़ा एक भाई और एक बहन है। उसे बस से ड्यूटी पर जाना पंसद था लेकिन दुर्भाग्यवश देरी होने की वजह से वह आज मोटरसाइकिल से गया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co