भोपाल: बड़ा जालसाज हुआ गिरफ्तार, कई को लगा चुका है लाखों का चूना
बड़ा जालसाज हुआ गिरफ्तारSyed Dabeer-RE

भोपाल: बड़ा जालसाज हुआ गिरफ्तार, कई को लगा चुका है लाखों का चूना

भोपाल, मध्यप्रदेश: पुलिस ने लाखों की ठगी करने वाले बड़े जालसाज को गिरफ्तार किया है। जिससे फिलहाल पुलिस द्वारा पूछताछ और आगे की कार्रवाई जारी है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में महामारी कोरोना का संकट जहां गहराया हुआ है वहीं दूसरी तरफ बढ़ते संक्रमण के बीच आपराधिक घटनाओं के साथ कई अप्रत्याशित घटनाएं सामने आती जा रही हैं इस बीच ही पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए लाखों की ठगी करने वाले बड़े जालसाज को गिरफ्तार किया है। जिससे फिलहाल पुलिस द्वारा पूछताछ और आगे की कार्रवाई जारी है।

क्या है पूरा मामला

मिली जानकारी के अनुसार, बढ़ते ठगी के मामलों में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए राजधानी के जालसाज ठग को गिरफ्तार किया है जिसका नाम केपी सिंह बताया जा रहा है। इस संबंध में जालसाज सिंह के खिलाफ जानकारी मिली है कि,शाहपुरा में एक डॉक्टर की ऑडी कार को अपना बता कर जहां लोगों को 10 लाख रुपये का चूना लगाया वहीं अशोका गार्डन में एक व्यक्ति को कार खरीद कर होटल में अटैच करने के नाम लगाया लाखों की ठगी की है। इसके अलावा मिसरोद में मकान का एग्रीमेंट बनवा कर लोगों से उसी मकान पर लाखों की रकम भी ऐंठ लिए हैं।

पूछताछ में होगा और मामलों का खुलासा

इस संबंध में, पुलिस द्वारा जहा आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है वहीं कई मामलों को लेकर खुलासा हो सकता है। बताते चलें कि, भोपाल के 3 अलग-अलग थानों में जालसाज केपी सिंह के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है तो वहीं कोलार में 85 लाख की ठगी समेत 3 मामले दर्ज है। जालसाज के कई राजनेताओं से भी संपर्क की जानकारी मिली है तो वहीं माइनिंग के नाम पर भी ठगी के आरोप भी हैं।

पुलिस के मुताबिक शहर के कारोबारी सीई फर्नाडिस ने थाना मिसरोद में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया कि कृष्ण पाल सिंह नाम के व्यक्ति ने उनका आशिमा माल के पास स्थित निजी आवास खरीदने के लिए 26 करोड़ रुपए में एग्रीमेंट किया था। जब फर्नाडिस ने कृष्ण पाल सिंह के संबंध में जानकारी प्राप्त की तो पता चला कि कृष्ण पाल सिंह पूर्व में धोखाधड़ी के मामलों में थाना कोलार रोड में बंद हो चुका है । आवेदन पत्र की जांच के दौरान पता चला कि ओम सांई कन्स्ट्रक्शन का दफ्तर एमपी नगर जोन-2 में है ही नहीं। न ही बुंदेलखंड ग्रुप आफ कंपनी नाम की उसकी कोई भी रजिस्टर्ड फर्म है। जांच के बाद मिसरोद पुलिस में आरोपी कृष्ण पाल सिंह सचान (57) निवासी आकृति ईको सिटी शाहपुरा के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का प्रकरण दर्ज कर विवेचना में लिया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co