Bhopal : सीआईएसएफ कैंप-हॉस्टल में छात्र ने लगाई फांसी
सीआईएसएफ कैंप-हॉस्टल में छात्र ने लगाई फांसीसांकेतिक चित्र

Bhopal : सीआईएसएफ कैंप-हॉस्टल में छात्र ने लगाई फांसी

भोपाल, मध्यप्रदेश : गोविंदपुरा थाना क्षेत्र स्थित भेल के सीआईएसएफ कैंपस में बने हॉस्टल में पत्रकारिता के एक छात्र ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। उसके पिता सीआईएसएफ में पोस्टेड हैं।

भोपाल, मध्यप्रदेश। गोविंदपुरा थाना क्षेत्र स्थित भेल के सीआईएसएफ कैंपस में बने हॉस्टल में पत्रकारिता के एक छात्र ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। उसके पिता सीआईएसएफ में पोस्टेड हैं। उनकी तैनाती फिलहाल विशाखापट्नम में है। बेटे की खुदकुशी की खबर सुनने के बाद वह भोपाल के लिए रवाना हो चुके हैं। वहीं सुसाइड नोट नहीं मिलने से छात्र की आत्महत्या के सही कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है। शव को मर्च्युरी रूम में रखवा दिया गया है।

एएसआई राज कुमार शर्मा ने बताया कि पुष्पराज पाठक पिता राजीव रंजन पाठक (21) सीआईएसएफ कैंपस के ब्वायज हॉस्टल में रह रहा था। वह माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय से मल्टीमीडिया की पढ़ाई कर रहा था। पुष्पराज रूम नंबर 9 में रहता था, जबकि उसके बगल वाले कमरों में अनिकेत और सौरभ रहते हैं। एएसआई शर्मा ने बताया कि पुष्पराज के पिता विशाखापट्नम में पदस्थ हैं। उन्होंने सोमवार शाम करीब साढ़े 3 बजे के आसपास पुष्पराज को कॉल किया था। उनकी पुष्पराज से बात हुई थी। इसके बाद शाम चार बजे उसका मोबाइल बंद बताने लगा। लगातार मोबाइल बंद होने से पिता परेशान थे। उन्होंने सौरभ से कहा कि पुष्पराज कॉल रीसिव नहीं कर रहा है। इसके बाद सौरभ और अनिकेत पुष्पराज के कमरे पर पहुंचे थे। इस दौरान कमरा अंदर से बंद था। काफी देर तक आवाज देने के बाद भी जब कमरा नहीं खुला तो सौरभ ने खिड़की से झांककर देखा। इस दौरान उसने पुष्पराज की लाश फांसी के फंदे पर लटकी देखी। पुष्पराज ने बेडशीट सिलिंग फेन पर बांधी थी और उसका फंदा बनाकर फांसी लगा ली थी। रूम की तलाश लेने पर पुलिस को सुसाइड नोट नहीं मिला है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co