डेढ़ साल पहले हुई सोशल मीडिया पर की बदतमीजी का बदला लेने 12वीं के छात्र का गला काट डाला
12वीं के छात्र का गला काट कर हत्यासांकेतिक चित्र

डेढ़ साल पहले हुई सोशल मीडिया पर की बदतमीजी का बदला लेने 12वीं के छात्र का गला काट डाला

भोपाल, मध्यप्रदेश : अशोका गार्डन इलाके में स्थित चंद्रा स्वीट्स के पास गुरुवार की देर रात करीब 10:30 बजे हिस्ट्रीशीटर रोहित उर्फ कबाड़ी सहित तीन बदमाशों ने छात्र की गला काटकर निर्मम हत्या कर दी।

हाइलाइट्स :

  • निगरानीशुदा बदमाश सहित तीन युवकों ने दिया वारदात को अंजाम

  • चारों आरोपियों को पुलिस ने देर रात धर दबोचा

भोपाल, मध्यप्रदेश। अशोका गार्डन इलाके में स्थित चंद्रा स्वीट्स के पास गुरुवार की देर रात करीब 10:30 बजे हिस्ट्रीशीटर रोहित उर्फ कबाड़ी सहित तीन बदमाशों ने छात्र की गला काटकर निर्मम हत्या कर दी। एक आरोपी और मृतक के बीच डेढ़ साल पुराना विवाद था। दरअसल छात्र ने एक आरोपी की महिला मित्र के खिलाफ सोशल मीडिया पर कमेंट्स किया था। जिससे उसका जमकर मजाक बना था। इस पर आरोपी ने आपत्ति की तो छात्र ने सोशल मीडिया पर ही उसकी भी बेइज्जती कर दी। हालांकि बाद में दोनों पक्षों का राजीनामा करा दिया गया था। इसी का बदला लेने की नीयत से वारदात को अंजाम दिया गया है। पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर चारों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है।

टीआई आलोक श्रीवास्तव के अनुसार आयुष चौहान पिता जीएस चौहान मकान नंबर 227 वार्ड 69 ए सेक्टर अशोका गार्डन का निवासी था। वह निजी स्कूल से 12 वीं कक्षा इसी साल पास की है। उसके पिता कृषि विभाग के कर्मचारी हैं। परिवार में उसके अलावा एक भाई और मां-पिता हैं। आयुष का मोहल्ले में रहने वाले कुनाल से डेढ़ साल पहले सोशल मीडिया पर एक पोस्ट पर कमेंट्स करने को लेकर विवाद हुआ था। बाद में बड़ों की समझाइश के बाद दोनों के बीच राजीनामा हो गया था। आयुष इस बात को भूल चुका था, जबकि कुनाल इसे दिल में रखे हुआ था। इसी रंजिश के चलते गुरुवार की देर रात कुनाल ने आयुष का पीछा कर साथी रोहित वर्मा उर्फ रोहित कबाड़ी, मयूर उर्फ डेनी और बृजेश शर्मा के साथ मिलकर उसे घेर लिया। इस दौरान आरोपियों ने उसके साथ गाली-गलौच की, आयुष ने विरोध किया तो सभी ने उसके साथ मारपीट कर दी। इस दौरान कुनाल ने अपने पास रखे चाकू से आयुष के गले को रेत दिया। बाद में सभी बदमाश क्षेत्र में हथियार लहराते हुए फरार हो गए। घायल को मोहल्ले में रहने वाले परिचितों और मृतक के रिश्तेदारों ने अस्पताल पहुंचाया। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं पुलिस ने मामले की जानकारी मिलते ही देर रात ही चारों आरोपियों की तलाश कर उन्हें हिरासत में ले लिया है।

झांकी की तैयारियों के बीच हुआ विवाद :

सीएसपी नागेंद्र सिंह बैस के अनुसार आयुष अपने दोस्तों के साथ चंद्रा स्वीट्स के पास झांकी बैठाने की तैयारी कर रहा था। तभी कुनाल अपने चार साथियों के साथ आया और कुछ देर रात तक बातचीत की। इसी बीच पुरानी बात को लेकर दोनों में विवाद हुआ और आरोपियों ने आयुष के साथ बदसलूकी करते हुए हमला कर दिया। मारपीट के दौरान कुनाल ने चाकू से आयुष का गला रेत दिया।

इलाके में है रोहित के नाम की दहशत :

आरोपी रोहित कबाड़ी अशोका गार्डन थाने का हिस्ट्रीशीटर बदमाश है। उसके खिलाफ 16 अपराध दर्ज हैं। जिसमें अड़ीबाजी मारपीट सहित कई मुकदमे दर्ज हैं। करीब दो माह पहले फ्री की सिगरेट नहीं मिलने से नाराज होकर उसने तलवार हाथ में लेकर तीन दुकानदारों के साथ मारपीट कर दुकानें बंद करा दी थीं। उसके खौफ का आलम यह हो चुका था कि रोहित के घर के आस पास के दुकानदारों ने अपनी दुकानों में सिगरेट रखना ही बंद कर दिया है।

हो चुकी है जिला बदर की कार्रवाई :

आरोपी के खिलाफ एक साल पहले जिला बदर की कार्रवाई हो चुकी है। अब पुलिस उसके खिलाफ एनएसए की कार्रवाई कराने की तैयारी में है। उसके अवैध निर्माण की जानकारी जुटाई जा रही है। जिसके बाद में रोहित के अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई की जाएगी।

हाल ही में लड़की ने की थी शिकायत :

जानकारी के अनुसार चार-पांच दिन पहले रोहित ने एक लड़की के साथ अभद्रता और मारपीट की थी। जिसकी शिकायत उसने थाने में की थी। पुलिस ने इस मामले में प्रकरण दर्ज किया था। बताया यह भी जा रहा है कि कुछ समय पहले ही रोहित ने एक युवती से परिजनों की मर्जी के खिलाफ घर से भागकर लव मैरिज की है।

एक कहानी यह भी :

गुरुवार रात करीब 10:30 बजे आयुष दोस्तों के साथ गणेशजी की स्थापना को लेकर की जा रही तैयारियां देख रहा था। इसी बीच दूसरा गुट भी वहां आ गया। इस दौरान साउंड सिस्टम को चेक करने आयुष के दोस्त गाना बजा रहे थे। तब सभी लोग आपस में मिलकर डांस करने लगे। आयुष और कुनाल भी गले मिले। दोनों ने साथ में डांस भी किया। इसके बाद में हुई बहसबाजी के बाद हत्याकांड को अंजाम दिया गया।

चीखता रहा बचा लो, नहीं मिला इलाज :

आयुष के परिजनों ने बताया कि चाकू लगने के बाद आयुष होश में था। उसे अशोका गार्डन सब्जी मंडी के पास निजी अस्पताल लेकर गए। जहां, हालत गंभीर बताकर डॉक्टरों ने इलाज करने से मना कर दिया। फिर परिजन उसे प्रभात चौराहे के पास दूसरे निजी अस्पताल में उसे लेकर पहुंचे। वहां भी मना कर दिया। करीब एक घंटे बाद हमीदिया अस्पताल लेकर पहुंचे, यहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। अस्पतालों के बीच भटकने के दौरान आयुष जान बचाने के लिए चीखता रहा। हालांकि दोनों निजी अस्पताल के डाक्टर उसका इलाज नहीं कर सके।

इनका कहना है :

कुणाल और आयुष के बीच पुराना विवाद था। दोनों पड़ोसी हैं, कुणाल-आयुष द्वारा घर से निकलते ही पीछा करते हुए पहुंचा था। मौका मिलते ही उसने पहले से रखे चाकू को निकालकर आयुष के गले पर वार कर दिया है। घटना स्थल पर कुणाल गुट के रोहित, मयूर और बृजेश पहले से मौजूद थे। तीनों ने आरोपी का साथ देते हुए मारपीट की थी। कुणाल को छोड़कर सभी का पूर्व में अपराधिक रिकार्ड है।

राजेश सिंह भदौरिया, एएसपी जोन-2

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co