सीरियल किलर केस में बड़ा खुलासा, नोट बरसाने के नाम पर कैदियों को बनाया शिकार
सीरियल किलर केस में बड़ा खुलासाSocial Media

सीरियल किलर केस में बड़ा खुलासा, नोट बरसाने के नाम पर कैदियों को बनाया शिकार

भोपाल, मध्यप्रदेश : 'सीरियल साइको किलर मामला' जेल में भी सीरियल किलर मनीराम सेन ने कैदियों को ठगा, पुलिस ने आरोपी मनीराम को कोर्ट में किया पेश।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में बढ़ता ही जा रहा है अपराधों का ग्राफ, कोरोना संकट के बीच आपराधिक घटनाओं की खबरें सामने आती जा रही हैं इस बीच ही राजधानी में करीब दो महीने पहले मीडियाकर्मी युवक की पत्थर से कुचलकर हत्या करने वाला सीरियल किलर मनीराम सेन को बीते दिन पुलिस ने सागर जिले के राहतगढ़ से गिरफ्तार किया, बताते चलें कि साइको किलर मनीराम सेन लोगों को खजाना दिलाने के नाम पर पैसा ऐंठता था, फिर खजाना दिलाने के नाम पर जंगल ले जाता था और उनकी हत्या कर देता था।

सीरियल किलर मामले में बड़ा खुलासा :

अब मिली जानकारी के मुताबिक सीरियल साइको किलर मनीराम सेन मामले में बड़ा खुलासा हुआ है, 1 जुलाई 2000 में सीरियल साइको किलर मनीराम सेन जेल में बंद हुआ था, मिली जानकारी के मुताबिक सीरियल किलर मनीराम सेन ने जेल में भी तंत्र विद्या के नाम पर कैदियों को ठगा है, जेल में सीरियल साइको किलर मनीराम सेन (मनी) नोट गिराने का दावा करता था, सीरियल किलर मनीराम सेन ने नोट बरसाने के नाम पर कैदियों को शिकार बनाया है, पुलिस ने आरोपी मनीराम को कोर्ट में पेश किया है।

जानिए क्या है पूरा मामला

बता दें कि 8 नवंबर 2020 को थाना सूखीसेवनिया अंतर्गत ग्राम अब्दुल्ला बरखेड़ी के जंगल में पत्थर से सिर कुचली आदिल वहाब की लाश मिली थी, जांच में सामने आया कि अशोका गार्डन में रहने वाले आदिल ने खजाने के लालच में किसी मनीराम सेन को 17 हजार रुपए दिए थे, आदिल उससे रुपए वापस मांग रहा था, लेकिन मनीराम सेन नहीं लौटा रहा था। हत्या के बाद से ही उसके फरार होने के कारण सबसे पहले उस पर ही संदेह गया। मिली सूचना के अनुसार मनीराम सेन को राहतगढ़ से गिरफ्तार किया, आपको बताते चलें कि इस मामले में भोपाल पुलिस ने बताया कि आरोपी मनीराम सेन ने वर्ष 2000 में थाना ग्यारसपुर जिला विदिशा में खजाना दिलाने के नाम 5 लोगों की हत्या की थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co