भोपाल : महिला ने नशे में लगाई आग, 4 झुग्गियां जलीं
महिला ने नशे में लगाई आग, 4 झुग्गियां जलींRaj Express

भोपाल : महिला ने नशे में लगाई आग, 4 झुग्गियां जलीं

भोपाल, मध्य प्रदेश : सिलेंडर ब्लॉस्ट से भड़की आग, दमकलकर्मी को आई चोट। पड़ोसियों का आरोप आग लगाने के बाद बेटे के साथ महिला फरार।

भोपाल, मध्य प्रदेश। छोला टिंबर मार्केट के पास सुंदर नगर में बीती रात झुग्गियों में आग लगने से चार झुग्गियां जल गई हैं। दो झुग्गियों तो लगभग पूरी तरह से खाक हो गई हैं। आरोप है कि जो चार झुग्गियां जली हैं, उसमें से एक में एक अधेड़ महिला रहती है और नशा करती है। उसी ने देर रात साढ़े ग्यारह बजे आग लगाकर बेटे के साथ मौके से फरार हो गई है। हालांकि पुलिस ने एक महिला की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस का तर्क है कि फरियादियों ने अभी सिर्फ आरोप लगाया है, जिस पर झुग्गी में आग लगाने का आरोप है, उसकी भी झुग्गी भी पूरी तरह से जलकर खाक हो गई है। ऐसे में पड़ताल के बाद ही किसी को नामजद आरोपी बनाया जा सकता है।

छोला थाना पुलिस के अनुसार अधेड़ महिला टिंबर मार्केट के पास झुग्गी बनाकर अकेली रहती है। उसका बेटा और बेटी भोपाल में अलग-अलग कॉलोनी में रहते हैं। कल शाम को महिला का बेटा और बेटी उसके घर आए थे, जहां उनका आपस में विवाद हो गया। इसके बाद महिला की बेटी अपने घर चली गई। रात पौने बारह बजे महिला की झुग्गी से सटकर बनी संगीता पति प्रकाश चिढ़ार की झुग्गी में आग लग गई। संगीता परिवार के साथ सो रही थी। उसने बाहर निकलकर शोर मचाया, इसके बाद पुलिस और फायर कंट्रोल को सूचना दी गई। जब तक दमकलकर्मी आग बुझाने पहुंचे, संगीता की झुग्गी से सटी उमाबाई की झुग्गी भी धू-धू कर जल रही थी। सिलेंडर ब्लॉस्ट से भड़की आगउमाबाई की झुग्गी में आग लगने से घरेलू गैस सिलेंडर में ब्लॉस्ट हो गया। सिलेंडर ब्लॉस्ट से पास में बनी श्यामाबाई पति टैगोर और एक अन्य महिला की झुग्गी भी बुरी तरह से जल गईं। उमाबाई पर ही शराब के नशे में झुग्गी में आग लगाने का आरोप स्थानीय महिलाओं ने लगाया है। आरोप है कि उमाबाई झुग्गी में आग लगाने के बाद बेटे के साथ मौके से गायब हो गई है। पुलिस आज जिन परिवारों की झुग्गियां जली हैं, उनके बयान दर्ज करेगी।

आधा दर्जन पहुंची दमकल :

गांधी नगर फायर स्टेशन पर पदस्थ फाइटर पंकज यादव ने बताया कि सूचना के बाद गांधी नगर और छोला स्टेशन से आधा दर्जन दमकलें मौके पर आग बुझाने पहुंची थीं। सिलेंडर ब्लॉस्ट से आग अचानक भड़क गई थी। चारों तरफ अंधेरा होने के साथ धुआ भरा था। मैं झुग्गियों के ऊपर डले चादर पर चढ़कर आग बुझाने जा रहा था, तभी सीमेंट की चादर टूटने से एक पैर की मसल्स खिंच गई हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co