फॉलोअप : 70 करोड़ की एमडी गैंग का एक और तस्कर पुलिस की गिरफ्त में
फॉलोअप : 70 करोड़ की एमडी गैंग का एक और तस्कर पुलिस की गिरफ्त मेंसांकेतिक चित्र

फॉलोअप : 70 करोड़ की एमडी गैंग का एक और तस्कर पुलिस की गिरफ्त में

इंदौर, मध्य प्रदेश : 70 करोड़ की 70 किलो एम.डी. ड्रग्स के मामले में एक और आरोपी वसीम उर्फ बिल्लाखान पिता खालिद खान, जोगेश्वरी ईस्ट मुंबई को क्राइम ब्रांच ने मुंबई से गिरफ्तार किया है।

इंदौर, मध्य प्रदेश। 70 करोड़ की 70 किलो एम.डी. ड्रग्स के मामले में एक और आरोपी वसीम उर्फ बिल्लाखान पिता खालिद खान, जोगेश्वरी ईस्ट मुंबई को क्राइम ब्रांच ने मुंबई से गिरफ्तार किया है। आरोपी का सुराग मिलने के बाद टीम गुजरात पहुंची तो ये वहां से भागकर महाराष्ट्र आ गया। टीम ने गुजरात से मुंबई तक उसका पीछा किया और उसे दबौच लिया। उसने पूछताछ में मुंबई के कई तस्करों के सुराग दिए हैं, उन तस्करों को दबौचने के लिए भी टीम अलर्ट है। जिस तरह मुंबई और इंदौर के बीच ड्रग्स डीलर्स के तार जुड़े पाए गए हैं उससे ये तय हो गया है कि मुंबई और मिनी मुंबई (इंदौर) में लंबे अरसे से नशे का कारोबार चल रहा है, अब इस चेन को पुलिस कैसे तोड़ेगी ये चुनौती बन गया है।

अजमेर के तस्करों को भी करता था ड्रग सप्लाय :

आरोपी वसीम कई सालों से नशे का कारोबार कर रहा था। अजमेर से गिरफ्तार हुए कुड़ी बाबा और रज्जाक को भी यही आरोपी ड्रग्स सप्लाय करता था। इस मामले में अब तक 21 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है कई और आरोपियों के सुराग मिले हैं जिनकी तलाश की जा रही है। आईजी हरिनारायणाचारी मिश्र व एसपी मुख्यालय अरविन्द तिवारी द्वारा पूर्व में 70 किलो एमडी ड्रग्स के साथ पकड़े गए आरोपियों के संदर्भ में दर्ज प्रकरण की विवेचना एवं अन्य आरोपियों का पता लगाने के लिए क्राइम ब्रांच की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम का गठन एएसपी क्राइम गुरूप्रसाद पाराशर के नेतृत्व में कर उसको अवैध मादक पदार्थों के विरूद्ध योजनाबद्ध तरीके से सख्त कार्रवाई करने के लिये दिशा निर्देश जारी किये गये। उल्लेखनीय है कि 5 जनवरी को क्राइम ब्रांच की टीम ने हैदराबाद तेलंगाना व इंदौर के ड्रग्स तस्करों को पकड़ा गया था जिनसे 70 करोड़ रूपये कीमत की 70 किलो एमडी ड्रग्स बरामद हुई थी। इन आरोपियों को रिमांड पर लेकर अन्य तस्करों के बारे में जानकारी ली जा रही है। पुलिस रिमाण्ड के दौरान ज्ञात आरोपियों के संबंध में विवेचना दल की टीम द्वारा लगातार महाराष्ट्र, राजस्थान और गुजरात मप्र के कई शहरों में दविश दी गई जिसके द्वारा अब तक ड्रग्स की खरीदी बिक्री व तस्करी से जुड़े 21 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

मामले में गिरफ्तार आरोपियों से गहन पूछताछ की गई जिसमें अजमेर राजस्थान से गिरफ्तार किए गए तस्करों ने मुम्बई के तस्करों से ड्रग्स खरीदना बताया था जिसके सम्बन्ध में सुराग गुजरात में होना पाए गए थे। टीम को गुजरात रवाना किया गया लेकिन जैसे ही टीम गुजरात पंहुची, आरोपी महाराष्ट्र भाग गया अत: आरोपियों की तलाश में टीम गुजरात से सीधी मुम्बई के लिए रवाना हुई थी जहाँ से आरोपी वसीम उर्फ बिल्ला खान पिता खालिद खान,जोगेश्वरी ईस्ट मुंबई को गिरफ्तार किया गया।

फुटपाथ पर कपड़े बेचने से दुबई रिटर्न का सफर :

आरोपी वसीम ने प्रारंभिक पूछताछ में टीम को बताया कि वह कक्षा दसवीं तक पढ़ा हुआ है तथा पूर्व में फुटपाथ पर कपड़े बेचने का काम करता था। उसने कुछ दिनों तक मुंबई के फिनिक्स मॉल में भी कपड़े की दुकान पर काम किया उसके बाद वह दुबई में सॉफ्टवेयर कंपनी में नौकरी करने हेतु चला गया। वहां पर जनरल अकाउंटेंट था किंतु 2019 में वापस मुंबई आकर जूते चप्पल का व्यापार करने लगा। वह पूर्व से ही गांजा चरस व अन्य मादक पदार्थों का नशा करने का आदी था। वह अजमेर शरीफ दरगाह पर जाता रहता था। जहां पर उसकी पहचान कुड़ी बाबा और खुर्शीद तथा उसके भाई र'जाक से हुई जो वहां पर धूनी लगाकर एमडी ड्रग्स का नशा करते थे तथा वहां आने वाले आगंतुकों को नशा हेतु एमडी ड्रग्स एवं अन्य मादक पदार्थ उपलब्ध कराते थे।

अजमेर दरगाह से मुंबई की दरगाह तक :

इस प्रकार आरोपी वसीम की पहचान अजमेर के तस्करों से हुई अजमेर के रहने वाले खुर्शीद और रज्जाक भी कभी-कभी मुंबई में पीर साहब सैलानी की दरगाह पर आते थे अत: वह लोग ड्रग्स साथ में लाते थे। कई बार ड्रग्स की आवश्यकता होने पर आरोपी बसीम ड्रग्स की व्यवस्था करवाता था। कई बार कुड़ी बाबा और रज्जाक को उसने 100-200 ग्राम की पुड़िया और पाउच बनाकर उपलब्ध कराई है जिसके बदले में वह है ऑनलाइन पेमेंट, जमा करवाता था। आरोपी ने मुंबई के ही कई अन्य ड्रग तस्करों के बारे में सुराग टीम को दिए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co