भोपाल : फर्जी दस्तावेजों से लाखों के वाहन खरीदने वाले जालसाज गिरफ्तार
फर्जी दस्तावेजों से लाखों के वाहन खरीदने वाले जालसाज गिरफ्तारसांकेतिक चित्र

भोपाल : फर्जी दस्तावेजों से लाखों के वाहन खरीदने वाले जालसाज गिरफ्तार

भोपाल, मध्यप्रदेश : गांधी नगर पुलिस ने फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत कर लाखों रुपए के वाहन खरीदने वाले जालसाज गिरोह का पर्दाफाश किया है।

हाइलाइट्स :

  • 50 लाख के वाहन बरामद

  • किसी और के दस्तावेज पर फोटो चस्पा कर बनाते थे फर्जी दस्तावेज

  • जिस मकान में किराए से रहे उस मकान की भी करा ली फर्जी रजिस्ट्री

भोपाल, मध्यप्रदेश। गांधी नगर पुलिस ने फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत कर लाखों रुपए के वाहन खरीदने वाले जालसाज गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने गिरोह के दो आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से करीब 50 लाख रुपए के वाहन बरामद किए हैं। आरोपी इतने शातिर हैं कि वो लोग जिस मकान में किराए से रहे उसकी भी रजिस्ट्री के फर्जी दस्तावेज तैयार कर लिए थे। राजस्थान के अलग-अलग थाना क्षेत्र में भी आरोपियों के खिलाफ जालसाजी के प्रकरण दर्ज हैं।

पुलिस के मुताबिक फरियादी प्रिंस सचदेवा ने शिकायती आवेदन देते हुए बताया कि विगत 20 मार्च 2021 को रामदयाल मीणा ने अपने साथी इमरान के साथ टोयोटा फायनेंशियल सर्विस इंडिया लिमिटेड के भोपाल कार्यालय में आकर कार फाइनेंस कराने के संबंध में जानकारी प्राप्त की। कार फाइनेंस कराने के लिए उसने अपने पैन कार्ड, आधार कार्ड, इनकम टैक्स रिटर्न व अन्य दस्तावेज प्रस्तुत कर रामदयाल के नाम से लोन एग्रीमेंट का आवेदन पत्र एग्रीमेंट प्रस्तुत किया। फाइनेंस प्रक्रिया पूरी कर एक टोयोटा अर्बन क्रूजर सफेद रंग की कार ली गई। प्रस्तुत किए गए दस्तावेजों की फोटो का मिलान करने पर संदेह हुआ और संदेह के आधार पर लिखित आवेदन प्रस्तुत किया गया। आवेदन के आधार पर गांधी नगर पुलिस ने धारा 420, 467, 468, 471 व 34 आईपीसी के तहत प्रकरण दर्ज कर विवेचना शुरू की गई।

विवेचना के दौरान आरोपियों की खोजबीन व माल बरामद करने के लिए अलग-अलग टीमें बनाकर पतारसी शुरू की गई। पुलिस को पता चला कि गाड़ी फाइनेंस कराने के लिए आरोपी ऑनलाइन व फोटोकॉपी को स्कैन कराकर फर्जी दस्तावेज तैयार करते थे। पुलिस ने गिरोह के दो आरोपियों बबलू सिंह राजपूत उर्फ रामदयाल मीणा और ओम प्रकाश पुत्र शुभम मीणा और रामेश्वर (42) निवासी फ्लैट शहीद भगत सिंह कॉलोनी जीपीएस उनके सामने अब्बास नगर गांधी नगर तथा इमरान खान उर्फ रामकेश गुर्जर उर्फ नरेश कुमार सैनी और खुश होकर सी पुत्र राजू खान (26) निवासी फ्लैट शहीद भगत सिंह कॉलोनी ईपीएस स्कूल के सामने अब्बास नगर गांधी नगर को गिरफ्तार कर लिया। इनमें से आरोपी बबलू सिंह राजपूत का पुत्र देवेन्द्र राजपूत, तेजपाल और शुगर सिंह निवासी प्रताप नगर जयपुर फरार हैं।

राजस्थान में भी दर्ज हैं अपराध :

पूछताछ में आरोपियों ने राजस्थान के जिला उदयपुर में थाना प्रताप नगर, जिला भीलवाड़ा में थाना सुभाष नगर और जिला जयपुर में थाना सावनेर में धोखाधड़ी व अन्य धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज हैं। इनमें आरोपी इमरान खान नवंबर 2020 में उदयपुर जेल से जमानत पर छूटकर आया और भोपाल में आकर दुबारा अपराध में संलिप्त हो गया।

किराए के मकानों की करा ली रजिस्ट्री :

पुलिस ने बताया कि आरोपी जिस मकान को किराए से लेकर रहे हैं, उनकी भी फर्जी रजिस्ट्री दस्तावेज तैयार कर लिए थे। इनमें से ईपीएस स्कूल के सामने शहीद भगत सिंह कॉलोनी गांधी नगर भोपाल, सागर बांग्ला गांधी नगर भोपाल और शांति नगर गांधी नगर भोपाल में किराए से रह कर इन मकानों के भी फर्जी रजिस्ट्री दस्तावेज तैयार कर लिए थे।

आरोपियों से बरामद सामान :

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से अर्बन क्रूज़र कार रजिस्ट्रेशन नंबर एमपी 04 ईए 6113, मारुति सुजुकी ब्रेजा कार जिसका नंबर एमपी 04 ईए 6279, इनोवा कार बिना नंबर, मोटरसाइकिल बजाज सिटी 100 बजाज कंपनी से भोपाल में फाइनेंस जिसका रजिस्ट्रेशन नंबर एमपी 04 व्हीबी 3747, फर्जी आधार कार्ड, फर्जी पैन कार्ड व अन्य दस्तावेज जब्त किए। बरामद वाहनों की कुल कीमत लगभग 50 लाख रुपए बताई गई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co