इंदौर : युवा पीढ़ी को नशे के नर्क में धकेलने वाली गैंग का पर्दाफाश
युवा पीढ़ी को नशे के नर्क में धकेलने वाली गैंग का पर्दाफाशसांकेतिक चित्र

इंदौर : युवा पीढ़ी को नशे के नर्क में धकेलने वाली गैंग का पर्दाफाश

इंदौर, मध्य प्रदेश : नशे के खिलाफ जंग के तहत पुलिस, नारकोटिक्स, आबकारी विभाग नशेड़ियों के साथ ही नशे के सौदागरों को भी दबोच रही है।

इंदौर, मध्य प्रदेश। नशे के खिलाफ जंग के तहत पुलिस, नारकोटिक्स, आबकारी विभाग नशेड़ियों के साथ ही नशे के सौदागरों को भी दबोच रही है। पुलिस ने कुछ अरसे पहले बांग्लादेशी बालाओं से देह व्यापार करने वाली गैंग का पर्दाफाश किया था। इसके मास्टर माइंड से पूछताछ में पता चला कि इस गैंग के साथ ही शहर में युवाओं को ड्रग्स का आदी बनाने वाली गैंग भी सक्रिय है। पुलिस ने जिम, पूल क्लब, कैफे, पब/बार आदि मैं युवक-युवतियों को एमडी ड्रग्स नशे की लत लगा कर ड्रग्स बेचने वाली गैंग का पर्दाफाश किया है। शहर के प्रमुख एम.डी.ड्रग्स एजेन्ट गिरफ्तार, दो युवतियों सहित 7 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनसे 40 ग्राम एम.डी.एम.ए.ड्रग्स, 2 चार पहिया वाहन एवं नशा करने के उपकरण भी जब्त किए हैं। एजेन्ट अपने पेडलर और साथियो की सहायता से जिम,पब, कैफे मे जाकर आने जाने वाले युवक-युवतियों को कई बहानों से ड्रग्स लेने के लिए प्रेरित करते थे।

पिछले दिनो बंग्लादेशी युवतियो को अवैध रुप से सीमा पार कराकर देह व्यापार कराने वाली गैगं के 30 सदस्यो को इंदौर पुलिस ने गिरफ्तार का गया था। उनके सरगना व देह व्यापार के सरगना सागर जैन को पुलिस द्वारा दिल्ली से गिरफ्तार किया। सागर जैन से विस्तृत पूछताछ पर उसके द्वारा ड्रग्स मे शामिल संगंठित गिरोह के संबंध में जानकारी दी गयी। इसके बाद आईजी योगेश देशमुख एवं डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र द्वारा ड्रग्स के उक्त संगठित गिरोह का पता लगाकर उनके विरुद्ध कार्रवाई करने के निर्देश पुलिस टीम को दिए। एसपी विजय खत्री के मार्ग दर्शन मे एएसपी राजेश रघुवंशी व सीएसपी राकेश गुप्ता एवं टीआई विजय नगर तहजीब काजी के नेतृत्व में एक टीम बनाकर गैंग का पता लगाने के लिए सक्रिय किया। पुलिस टीम ने ड्रग्स मे शामिल नेटवर्क पर पैनी नजर रखना शुरु किया। ड्रग्स मे शामिल अपराधियों पर नजर रखी गयी एंव उसके साथ शामिल गिरोह के संबंध में बारीकी से पूछताछ कर जानकारी जुटाई गई। जिसके आधार पर टीम ने खजराना, एम.आई.जी., विजय नगर, पलासिया आदि थाना क्षेत्र से 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर उनसे 40 ग्राम एम.डी.एम.ए ड्रग्स जप्त की गयी।

कैसे बनाया जा रहा है नशे का आदी :

आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पूछताछ मे यह सामने आया कि इन्दौर मे ड्रग्स को संगठित तरीके से नयी उम्र के युवक युवतियों को, बच्चों को जिम, कैफे, पब, आदि स्थानों पर झांसे में लेकर नशे का आदी बनाया जा रहा था। गिरफ्तार आरोपियो के संबंध मे ज्ञात हुआ है कि दो आरोपी ट्रेनर का काम करते रहे हैं और उनके द्वारा मोटापा कम करने एवं मसल्स बनाने का लालच देकर कई लोगों को नशे के दलदल मे धकेल दिया। पूछताछ में यह भी सामने आया कि आरोपियों द्वारा केफै, पब आदि जगह पर जहां नवयुवकों का आना जाना लगा रहता है उन्हें किसी ना किसी बहाने से झांसे मे लेकर उनको आधुनिक टेक्नोम्युजिंग के नाम पर मौज मस्ती करने के लिए एम.डी. ड्रग्स का आदी बनाया जा रहा था। इसके अलावा पुलिस ने कुछ पेडलर को भी गिरफ्तार किया है जो विभिन्न पब आदि स्थानों पर जाकर ड्रग्स सप्लाई करते हैं।

कौन-कौन हुए गिरफ्तार :

पुलिस ने सात आरोपियों को बंदी बनाया है। इनसे पूछताछ में कुछ महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं। संभावना है कि अभी कई ड्रग्स के एजेंट और गिरफ्तार होंगे। गिरफ्तार आरोपियों सोहन उर्फ जोजो पिता हुकम, सेंधवा; धीरज पिता विक्रम सोनतिया, खुडैल; कपिल पाटनी पिता पवन पाटनी, इन्दौर; विक्की परिआणी पिता जयपाल दास परिआणी; याशमीन पिता आशिक, खजराना; आफरिन पिता आशिक; सद्दाम पिता नौशाद खान से पुलिस पूछताछ कर रही है और अन्य ड्रग्स एजेंट के बारे में पता लगाने की कोशिश में जुटी हुई है। आरोपियों की गिरफ्तारी में टीआई विजयनगर तहजीब काजी व उनकी टीम के सब इंस्पेक्टर प्रियंका शर्मा, रविशंकर पारीक, एएसआई बी.एस कुशवाह, भरत बडे, कुलदीप, राजू मण्डलोई, दुष्यन्त राठौड़ का सहयोग सराहनीय रहा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co