भोपाल : पिता से मारपीट, बचाने आये पुत्र को चाकुओं से गोदा, आरोपी फरार
पिता से मारपीट, बचाने आये पुत्र को चाकुओं से गोदा, आरोपी फरारSyed Dabeer - RE

भोपाल : पिता से मारपीट, बचाने आये पुत्र को चाकुओं से गोदा, आरोपी फरार

भोपाल, मध्य प्रदेश : कोलार थाना क्षेत्र में एक पिता-पुत्र पर जानलेवा हमले का मामला सामने आया है। घटना शुक्रवार-शनिवार दरमियानी रात की बताई जा रही है।

भोपाल, मध्य प्रदेश। कोलार थाना क्षेत्र में एक पिता-पुत्र पर जानलेवा हमले का मामला सामने आया है। घटना शुक्रवार-शनिवार दरमियानी रात की बताई जा रही है। घटना के बाद से आरोपी फरार हैं। कोलार पुलिस के मुताबिक गेहूंखेड़ी निवासी 51 वर्षीय कुंवर सिंह बिल्डिंग मेटेरियल सप्लाई का काम करते हैं। शुक्रवार रात 12 बजे जब वे अपने घर पर थे, तभी उन्हें एक पिल्ले की आवाज सुनाई दी, जो कि पास ही नहर में डूब रहा था। लिहाजा उसे बचाने के लिए वे अपने बेटे सागर सिंह के साथ कार से पंहुचे, उनको देखकर उनके पड़ोसी मिलिंद अवधानी और प्रकाश सिंह भी आ गए। कार लगाकर वे नहर के पानी पर रोशनी करके पिल्ले को बचाने की कोशिश कर रहे थे, उसी समय डी-मार्ट की तरफ से एक कार तेजी से आकर रूकी और उसमें से चार लोग उतरे। पास आते ही यह चारों युवक गाली-गलौच करने लगे। रोकने पर उन्होंने कुंवर सिंह को लाठी-ड़ंडों से पीटना शुरू कर दिया। पिता के साथ मारपीट होती देख जब उनका बेटा सागर बचाने के लिए आया तो उनमें से एक आरोपी ने चाकू निकालकर उसके ऊपर ताबड़तोड़ पांच बार कर दिये। जिससे वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा। बाद में पड़ोसियों के बीचबचाव कराने पर आरोपी जान से मारने की धमकी देते हुए और चाकू लहराते हुए गेहूँ खेड़ी की तरफ फरार हो गए।

पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है, लेकिन अभी तक उनकी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। गेंहू खेड़ी नहर तिराहे पर बदमाशों का जमघटजिस स्थान पर यह बारदात हुई है, वहां अकसर रात में अंधेरा रहता है। जिस कारण यहां अनैतिक गतिविधयां करने वालों और बदमाशों का जमघट लगा रहता है। यहां नहर के पास ही शराब की दुकान भी है, जिस कारण शराबी और असामजिक तत्व अपना डेरा यहां जमाये रहते हैं। आसपास बिजली व्यवस्था नहीं होने से रहवासियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co