ग्वालियर पुलिस
ग्वालियर पुलिसRaj Express

Gwalior : ठगी के पैसों से खरीदा आईफोन, फ्रिज और वाशिंग मशीन

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : 73 हजार रूपयें का ट्रांजेक्शन कर की थी ऑनलाइन शापिंग। क्राइम ब्रांच की साइबर टीम ने तुरंत कार्यवाई कर आरोपी को पकड़ कर हिरासत में लिया।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। पुलिस अधीक्षक अमित सांघी को किसी अज्ञात व्यक्ति ने बैंक खाते से 73 हजार रुपये निकाले जाने की शिकायत की थी। इसे उन्होंने गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश डण्डोतिया को क्राईम ब्रांच की सायबर टीम के साथ मिलकर कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया था। इस पर साइबर क्राइम टीम ने उक्त शिकायत पर से अज्ञात आरोपी के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश डण्डोतिया ने बताया कि क्राईम ब्रांच की सायबर टीम को विवेचना के दौरान पता चला कि फरियादी के खाते से जो ट्रांजेक्शन हुआ है, उससे फ्लिपकार्ट कंपनी से शॉपिंग की गई है। शॉपिंग किए हुए सामान की डिलेवरी भी ग्वालियर में ही की गई है। तकनीकी साक्ष्यों के आधार पर सायबर क्राइम टीम ने आरोपी को ट्रेस कर उसे हिरासत में ले लिया। हिरासत में लिये गए आरोपी से कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह मैनपुरी उत्तर प्रदेश का रहने वाला है। ग्वालियर में प्राइवेट नौकरी करता है। आरोपी पूर्व में फरियादी के घर पर नर्सिंग अटैण्डर का कार्य करता था। जिस वजह से उसको जानकारी थी कि फरियादी द्वारा अपनी एटीएम संबंधी जानकारी अपनी डायरी में लिखी जाती है। वहीं से उसने एटीएम की जानकारी प्राप्त कर धोखे से फरियादी के मोबाइल से ओटीपी लेकर 73 हजार रूपयें का ट्रांजेक्शन कर ऑनलाइन शापिंग कर ली थी। क्राईम ब्रांच की सायबर टीम ने हिरासत में लिये गए आरोपी की निशादेही पर उसके पास से फरियादी के एटीएम कार्ड से खरीदे गए आईफोन एसई मोबाइल, वाशिंग मशीन, फ्रिज और एक टीशर्ट यानि कुल मिलकार 73 हजार रूपये का सामन बरामद कर लिया है।

पुलिस ने की आमजन से अपील :

पुलिस ने आमजन से अपील करते हुए कहा है कि किसी भी अंजान व्यक्ति को अपनी बैंक खाता संबंधी गोपनीय जानकारी शेयर न करें। कभी भी अपने एटीएम कार्ड एवं अन्य बैंक खाता संबंधी पिन पॉसवर्ड लिख कर न रखें। किसी भी अंजान व्यक्ति को नौकरी पर रखने से पूर्व उसका पुलिस वेरिफिकेशन अवश्य करवायें। इस तरह की घटना होने पर तत्काल अपने नजदीकी पुलिस थाना अथवा सायबर क्राइम थाने में रिपोर्ट करें।

इनकी रही सराहनीय भूमिका :

क्राईम ब्रांच थाना प्रभारी दामोदर गुप्ता, सायबर क्राईम प्रभारी निरीक्षक नरेश गिल, वर्षा सिंह, धर्मेन्द्र शर्मा, हरेन्द्र सिंह, कीर्ति अजमेरिया, सतेंद्र कुशवाह, सुमित सिंह भदौरिया, श्यामू मिश्रा, शिवशंकर शर्मा, ओमशंकर सोनी गौरव पवार, सुनील शर्मा सहित अन्य की सराहनीय भूमिका रही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co