एसपी और टीआई ने 24 घंटे में खोज निकाला दोहरे हत्याकांड का आरोपी
एसपी और टीआई ने 24 घंटे में खोज निकाला दोहरे हत्याकांड का आरोपीRaj Express

एसपी और टीआई ने 24 घंटे में खोज निकाला दोहरे हत्याकांड का आरोपी

होशंगाबाद, मध्यप्रदेश : सोहागपुर के ग्राम नवलगांव में लीलाधर नागवंशी ने अपनी मां और छोटे भाई विजय की साड़ी से गला घोंटकर हत्या सिर्फ इस वजह से कर दी कि वह पत्नी और ससुराल वालों को सबक सिखाना चाहता था।

होशंगाबाद, मध्यप्रदेश। सोहागपुर के ग्राम नवलगांव में पत्नी और ससुराल वालों से परेशान बड़े बेटे लीलाधर नागवंशी ने अपनी मां और छोटे भाई विजय की साड़ी से गला घोंटकर हत्या सिर्फ इस वजह से कर दी कि वह पत्नी और ससुराल वालों को सबक सिखाना चाहता था। उसने अपनी मां सनिया बाई और छोटे भाई की हत्या का आरोप पत्नी और ससुराल वालों पर मढ़ने के लिए कॉपी का पन्ना फाड़ा और उसमें ससुराल वालों की तरफ से धमकी भरा पत्र लिखा। जिसमें जान से मारने की धमकी भी शामिल है। आरोपी ने पत्र पर तेल लगाया और छोटे भाई के शव पर पत्र चिपका दिया। जिससे पुलिस जब शव को देखे तो उसे पहले पत्र नजर आए। हुआ भी ऐसा ही, पुलिस ने पत्र पढ़ा लेकिन पत्र में लिखी बातों से अधिकारियों ने अंदाजा लगा लिया कि जरुर हत्या के पीछे साजिश रचने की कोशिश की गई है। इस दौरान हत्यारा बेटा पुलिस के साथ पूरे समय साथ रहा। जिससे उस पर किसी को शक न हो। लेकिन एसपी डॉ. गुरुकरन सिंह के निर्देश पर सोहागपुर टीआई विक्रम रजक ने संदेह के आधार पर उससे सख्ती से पूछ-ताछ की और उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। टीआई श्री रजक ने बताया कि पुलिस अधीक्षक डॉ. गुरकरन सिंह के मार्ग दर्शन में नवलगांव में हुए दोहरे अंधे हत्याकांड का 24 घंटे में खुलासा करने में सफलता मिली है। आरोपी को बुधवार दोपहर कोर्ट पेश किया जाएगा।

आरोपी का झूठ बना पुलिस के लिए पहला सुराग :

हत्या के जानकारी मिलते ही एसपी सहित सोहागपुर टीआई विक्रम रजक और उनकी टीम मौके पर पहुंच गई। हत्या की कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए जांच शुरू की। इस दौरान लीलाधर से भी पूछताछ की गई। यहीं लीलाधर मात खा गया। पुलिस ने उससे पूछा वह वारदात वाली रात कहां था। जिस पर उसने झूठ बोलते हुए कहा कि मैं सोहागपुर में अपने किराए के मकान में था। लेकिन अन्य लोगों से पूछताछ में खुलासा हुआ कि वह वारदात वाली रात न केवल गांव में मौजूद था, बल्कि वह घर भी गया था। आरोपी लीलाधर का यह झूठ ही पुलिस के लिए पहला सुराग साबित हुआ।

इनकी रही भूमिका :

दोहरे हत्याकांड का खुलासा करने में टीआई विक्रम रजक, उनि धर्मेन्द्र वर्मा, दीपक भौडे, सुरेश फरकले, प्रआ प्रकाश सिंह चौहान, नंदकिशोर, आरक्षक मोहसिन खान, अनिल पाल, अंकित धनगर, रोहित ठाकुर, सुनील उमरिया, राहुल पवार, तवरेज की भूमिका रही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co