इंदौर : नशे का जहर घोलने वाले तस्कर सात दिन की रिमांड पर
नशे का जहर घोलने वाले तस्कर सात दिन की रिमांड परसांकेतिक चित्र

इंदौर : नशे का जहर घोलने वाले तस्कर सात दिन की रिमांड पर

इंदौर, मध्य प्रदेश : 70 किलो एमडीएमए ड्रग के साथ पुलिस ने मंगलवार को पांच कारोबारियों को गिरफ्तार किया था। बुधवार को इन्हें न्यायालय में पेश किया, जहां से 7 दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा गया है।

इंदौर, मध्य प्रदेश। 70 किलो एमडीएमए ड्रग के साथ पुलिस ने मंगलवार को पांच कारोबारी को गिरफ्तार किया था। बुधवार को इन्हें न्यायालय में पेश किया, जहां से 7 दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा गया है। ड्रग तस्करी की खबर मिलते ही तेलंगाना पुलिस ने व्यापारी के कई ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की है।

क्राइम ब्रांच ने 70 करोड़ की ड्रग के साथ व्यापारी दिनेश पिता नारायणलाल अग्रवाल नि. बालाजी हाइट महालक्ष्मी नगर, अक्षय उर्फ चीकू पिता दिनेश अग्रवाल नि. होराइजन सिटी लसुड़िया, चिमन पिता मदनलाल अग्रवाल नि. प्रेम कालोनी स्टेशन रोड मंदसौर, वेदप्रकाश पिता बिहारीलाल व्यास निवासी जलवायु विहार हैदराबाद तेलंगाना और मांगी बैंकटेश पिता मांगी आइलहिया निवासी प्रकाशम पंतुलू उषामुल्लापुंडी जेटीमेडला रंगारेड्डी हैदराबाद को पकड़ा था। एएसपी क्राइम गुरुप्रसाद पाराशर ने बताया कि आरोपियों को मंगलवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से इन्हें 13 जनवरी तक पुलिस रिमांड पर सौंपा गया है। इस बीच इनसे पूछताछ कर रैकेट का पर्दाफाश करने का प्रयास किया जाएगा।

100 किलो एमडीएम खपा चुके :

पुलिस पूछताछ में खुलासा हुआ है कि आरोपी आपस में कोड वर्ड में बात करते थे। कितना माल कब कहां आएगा, इसके लिए इन्होंने विशेष कोड बना रखे थे। रिमांड मिलने के बाद पुलिस इनकी संपत्ति का भी पता लगा रही है। पुलिस का कहना है कि तस्कर दो साल में करीब सौ किलो एमडीएम खपा चुके हैं। पुलिस को इंदौर के कुछ अन्य लोगों के नाम भी पता चले हैं। पकड़े गए व्यापारियों के पास उनके नंबर है। अब पुलिस इस आधार पर जांच पड़ताल कर रही है। क्राइम ब्रांच ने तेलंगाना पुलिस को भी इनके नाम पते दिए हैं। इसके बाद वहां की पुलिस ने इनके संबंधित ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की है। तस्करी में पकड़ाए व्यापारियों की संपत्ति का पुलिस पता लगा रही है। तस्करी के पैसों से ही इन्होंने संपत्ति बनाई है। संपत्ति राजसात की जाएगी। नगर निगम, आईडीए और अन्य विभागों से इनकी संपत्ति की जानकारी ली जा रही है।

मंदसौर जेल में बंद तस्कर से होगी पूछताछ :

बताया जाता है कि दिनेश वेदप्रकाश से ड्रग लेकर मंदसौर के पाटीदार को देता था। पाटीदार को नारकोटिक्स विभाग ने कुछ माह पहले ड्रग के साथ पकड़ा था, तभी से वह जेल में है। पुलिस पाटीदार को प्रोटेक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ कर सकती है।

मुख्यमंत्री ने पीठ थपथपाई, पुलिस टीम का सम्मान :

देश में सबसे ज्यादा मात्रा में एडीएमए ड्रग पकड़ कर रैकेट का पर्दाफाश करने वाली इंदौर पुलिस की मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने तारीफ करते हुए पीठ थपथपाई। उन्होंने पूरी टीम का सम्मान किया।

मुख्यमंत्री के आदेशानुसार पूरे प्रदेश में ड्रग्स माफिया के विरूद्ध अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत मंगलवार को इंदौर पुलिस ने एक बड़े ड्रग्स रैकेट का भंडाफोड़ कर, देश की सबसे बड़ी कार्रवाई की थी। इस मामले में तेलंगाना एवं मप्र के 5 तस्करों को गिरफ्तार कर उनके पास से करीब 70 करोड़ रूपए की 70 किलो एमडीएमए ड्रग्स बरामद की हैं। इस कार्रवाई पर मुख्यमंत्री बुधवार को इंदौर प्रवास के दौरान इंदौर पुलिस की कार्यप्रणाली की तारीफ करते हुए पुलिस महानिदेशक इंदौर ज़ोन योगेश देशमुख व पुलिस महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिनारायणचारी मिश्र, क्राइम ब्रांच एएसपी गुरूप्रसाद पाराशर व उनकी टीम को मंच पर सम्मानित किया। इस अवसर पर सीएम ने कहा कि यदि पुलिस कार्रवाई नहीं करती तो यह 70 किलो जहर कितने युवाओं का जीवन बर्बाद करती इसकी कल्पना भी परे है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co