Indore : रेप का झूठा केस दर्ज कर ब्लैमेलिंग का पर्दाफाश
रेप का झूठा केस दर्ज कर ब्लैमेलिंग का पर्दाफाशसांकेतिक चित्र

Indore : रेप का झूठा केस दर्ज कर ब्लैमेलिंग का पर्दाफाश

इंदौर, मध्यप्रदेश : पुलिस ने गंभीरता से मामले की पड़ताल की और पुलिस ने सच्चाई उजागर कर पीड़ित बनकर दो थाने पहुंची युवती पर ब्लैकमेलिंग का केस दर्ज कर लिया।

इंदौर, मध्यप्रदेश। शातिर युवती ने पहले एमआईजी और फिर एरोड्रम थाने पर पहुंचकर एक युवक पर रेप का केस दर्ज करवाने की कोशिश की, मामले की पड़ताल में ये राज उजागर हुआ कि युवती रेप के मामले में झूठी रिपोर्ट लिखवाकर पांच लाख रुपए की ब्लैकमेलिंग करना चाहती थी। पुलिस ने गंभीरता से मामले की पड़ताल की और पुलिस ने सच्चाई उजागर कर युवती पर ब्लैकमेलिंग का केस दर्ज कर लिया।

एरोड्रम टीआइ संजय शुक्ला के मुताबिक नेहरू नगर निवासी 30 वर्षीय युवती 19 जून को थाने पहुंची और कहा कि उसके साथ रेप हुआ है। उसने चंदननगर निवासी राहुल चंदूलाल ज्ञानी पर रेप का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज करवाई। रेप का स्पाट 60 फीट रोड स्थित एक कैफे बताया गया था।

युवती की शिकायत संदेह के घेर में आने के बाद जांच का मामला सब इंस्पेक्टर को सौंपा। सब इंस्पेक्टर महिला को स्पाट पर ले गई और कैफे संचालक से बातचीत की, उससे बातचीत के दौरान ही युवती वहां से मोबाइल छोड़कर भाग गई। मोबाइल की काल डिटेल देखी गई तो उसमें एमआईजी टीआई की रिकार्डिंग मिली जिसमें युवती उन पर रेप का केस दर्ज करने की बात कह रही थी। इसके साथ ही मोबाइल पर युवती की कई लोगों से वाइस रिकार्डिंग और चेटिंग भी मिली। जांच में पता चला कि यही युवती तीन दिन पहले एमआईजी थाने पहुंची थी और रेप का केस दर्ज करवाने की कोशिश की थी। लेकिन तब भी पुलिस को मामला संदेहास्पद लगा था। सच्चाई का पता लगाने के लिए महिला सब इंस्पेक्टर ने युवती को बातों में फंसाकर उससे सच्चाई उगलवाई तो युवती ने कहा कि राहुल उसे केस वापस लेने के लिए पांच लाख रुपए दे सकता है। वह उसमें से ढाई लाख उसे दे देगी। महिला सब इंस्पेक्टर ने युवती की बातचीत की रिकार्डिंग कर डीसीपी अमित तोलानी को सौंपी। उसके खिलाफ ब्लैकमेलिंग का केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस के मुताबिक युवती रानीपुरा निवासी तरुण कैथवास के संपंर्क में थी। तरुण का उसकी पत्नी से विवाद चल रहा था, तरुण की पत्नी राहुल की बहन है। युवती राहुल को रेप के केस में फंसाकर तरुण का तलाक करवाना चाहती थी। इसके बदले ब्लैकमेलिंग कर राहुल से पांच लाख रुपए मिलने की उम्मीद थी, लेकिन पुलिस ने उसकी सारी प्लानिंग पर पानी फेर दिया और वह खुद आरोपी बनकर रह गई। पुलिस युवती के संपंर्क वालों लोगों के बारे में भी छानबीन कर रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co