लूट के पैसे से खरीदी बुलेट और 8.60 लाख नकदी बरामद
लूट के पैसे से खरीदी बुलेट और 8.60 लाख नकदी बरामदRavi Verma - RE

Indore : दस लाख की लूट के बाद भी करते रहे वारदात

इंदौर, मध्यप्रदेश : पुलिस ने दबोचा एक नाबालिग सहित पांच आरोपियों को। लूट के पैसे से खरीदी बुलेट और 8.60 लाख नकदी बरामद। कमिश्नर सिस्टम के बाद भी अपराधियों में पुलिस का खौफ नहीं।

इंदौर, मध्यप्रदेश। दस लाख की लूट का क्राइम ब्रांच ने पर्दाफाश कर पांच आरोपियों को बंदी बनाया है। कमिश्नर सिस्टम लागू होने के बाद ये माना जा रहा था कि शहर में अपराध कम होंगे, लेकिन इस गैंग के सदस्यों ने जो सीरीयल वारदातें की हैं उससे ऐसा महसूस होता है कि कमिश्नर सिस्टम लागू होने के बाद भी अपराधियों में पुलिस का कोई खौफ नहीं है। नसिया रोड पर लोहा व्यापारी शाहनवाज खान को लुटेरों ने उस वक्त चाकू मारकर दस लाख की लूट की वारदात को अंजाम दिया था, जब वे अपने रिश्तेदार से मिलने छावनी जा रहे थे। खान को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। पुलिस ने आरोपियों पर तीस हजार का इनाम घोषित किया तो खान के रिश्तेदारों ने एक लाख रुपए का इनाम घोषित किया था। क्राइम ब्रांच ने एक छोटे से क्लू के सहारे इस लूट का पर्दाफाश कर पांच आरोपियों को बंदी बनाया है। आरोपियों में एक नाबालिग भी शामिल है। इनसे लूट का 8 लाख 60 हजार रुपए भी बरामद कर लिया गया है। लुटेरों का पुराना रिकार्ड भी मिला है। लूट के पैसे से आरोपियों ने एक बुलेट भी खरीद ली थी उसे भी जब्त कर लिया है। इनसे पूछताछ में कई और वारदातों का खुलासा होने की संभावना है।

24 दिसंबर को हाथीपाला के लोहा व्यापारी शाहनवाज खान के साथ हुई इस वारदात के बाद पूरे शहर में सनसनी फैल गई थी। पुलिस ने कई टीमों के साथ ही क्राइम ब्रांच की टीमों को भी आरोपियों का पता लगाने की जिम्मेदारी सौंपी। सीसीटीवी फुटेज खंगालने के साथ ही इनफारमर्स की टीम को भी सक्रिय किया गया। इनफारमर्स भी शहर के कई इलाकों में आरोपियों की तलाश में जुटे रहे। उनके पास कुछ सीसीटीवी फुटेज भी थे। इसी दौरान क्राइम ब्रांच की टीम को एक मुखबिर ने टिप दी कि आईटीआई गौरीनगर के पास कुछ संदिग्ध एकत्र हुए हैं। ये फुटेज वाले हो सकते हैं,ये लोग कहीं वारदात की प्लानिंग कर रहे हैं। इस टिप के बाद पुलिस ने घेराबंदी कर स्पाट से पांच लोगों को दबौचा। इनके नाम अमित पिता राजकुमार बंशीवाल, कुलकर्णी का भट्टा,आयुष उर्फ गोलू उर्फ माडल पिता संदीप सिंह, न्यू गोरी नगर, सीताराम पिता रमेश चौरसिया आदिनाथ नगर, प्रथम पिता जितेंद्र यादव न्यू गौरी नगर व एक नाबालिग बताए गए हैं। टीम ने इनसे पूछताछ की तो ये बहाने बनाने लगे। उसके बाद फुटेज देखे तो तय हो गया कि ये वही आरोपी हैं। इसके बाद सख्ती की तो आरोपियों ने नसिया रोड पर चाकू मारकर दस लाख की लूट की वारदात स्वीकार कर ली। पुलिस ने आरोपियों से 8 लाख 60 हजार रूपए नगद, एक लैपटाप,एक आईफोन, एक मोबाइल, दो बाइक बरामद की है। आरोपियों ने लूट के पैसे से एक बुलेट और एक मोबाइल खरीदा था,वह भी बरामद कर लिए गए हैं।

मल्हारगंज में मिर्ची झोंककर किया था प्रयास :

लोहा व्यापारी को लूटने से पहले आरोपियों ने मल्हारगंज क्षेत्र में एक व्यापारी के ऊपर मिर्ची पाउडर डालकर लूटने का प्रयास किया था, लेकिन वे सफल नहीं हो पाए थे। स्पाट के आसपास से भीड़ के आने के बाद आरोपी वहां से फरार हो गए थे। अब मल्हारगंज पुलिस इन आरोपियों के खिलाफ लूट सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर रही है।

सियागंज रोड पर लूटे थे व्यापारी से 20 हजार रूपए :

लोहा व्यापारी से दस लाख रूपए लूटने के बाद भी गैंग के सदस्य लगातार शहर में सक्रिय थे। आरोपियों ने 28 दिसंबर को सेंट्रल कोतवाली क्षेत्र के सियागंज रोड पर रात व्यापारी लालता प्रसाद शुक्ला के कंधे पर रखा बैग लूट लिया था। बैग में बीस हजार रूपए थे। सेंट्रल कोतवाली पुलिस भी अब इन आरोपियों के खिलाफ लूट का मामला दर्ज कर रही है।

फरार दो आरोपियों की तलाश :

लोहा व्यापारी को लूटने वाले पांच आरोपियों को तो गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन ये बात सामने आई है कि इनके दो साथी अभी फरार हैं। पुलिस ने उनकी तलाश में भी टीमें सक्रिय कर दी गई हैं। गिरफ्तार आरोपियों से भी फरार बदमाशों के ठिकानों के बारे में पूछताछ की जा रही है।

गर्लफ्रेंड के साथ घूमने,महंगे शौक पूरे करने के लिए बनाई थी गैंग :

पुलिस सूत्रों के मुताबिक लूट की वारदात को अंजाम देने वाले सभी आरोपियों की मुलाकात एक कैफे में हुई थी। बातचीत के दौरान ही इन लोगों ने चर्चा की कि इनके महंगे शौक पूरे करने के लिए पैसे की जुगाड़ नहीं हो पाती है। इसके बाद सभी ने मिलकर तय किया कि शहर में कई व्यापारी हैं जो रात को गल्ला लेकर दुकान से घर के लिए निकलते हैं। इन्हें चाकू अड़ाकर लूटा जा सकता है। इससे लाखों रुपए मिल सकते हैं। इसके बाद गैंग के सदस्यों की रजामंदी हुई और वारदातें शुरु कर दी गई। वे केवल व्यापारियों को ही टारगेट करते थे। वारदात को अंजाम देने से पहले वे रैकी करते थे फिर मौका मिलते ही लूट की वारदात को अंजाम देते थे। जिन आरोपियों को क्राइम ब्रांच की टीम ने गिरफ्तार किया है, इसमें जो नाबालिग है वह हाल ही मे चोरी के मामले में छूटकर आया था। इसके बाद वह गैंग में शामिल हो गया।

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि गर्लफ्रेंड को रिझाने के लिए वे महंगे शौक करते थे इसके लिए भी उन्हें काफी पैसा चाहिए था। इसीलिए ये गैंग बनाई और वारदातें करना शुरु कर दिया।

वारदातों को लेकर आक्रोश,लोहा व्यापारियों ने रखा कारोबार बंद :

लोहा व्यापारियों के साथ हो रही लगातार वारदातों को लेकर शुक्रवार को लोहा व्यापारी एसोसिएशन ने अपना कारोबार भी बंद रखा। व्यापारियों का कहना है कि शाहनवाज खान के साथ लूट की वारदात के पहले भी कई व्यापारियों को निशाना बनाया गया है। परेश स्टील के सुधीर खंडेलवाल की स्कूटर की डिक्की तोड़कर 20 लाख रुपए चोरी हुए थे,इसका खुलासा अभी तक नहीं हुआ है। न्यू सरदार स्टील के अमरजीतसिंह छाबड़ा से भी 27 लाख की लूट हुई थी। उसके आरोपी भी आज तक गिरफ्तार नहीं हुए हैं। शुक्रवार को सुबह लोहा व्यापारी एसोसिएशन ने कारोबार बंद रखा था। उनका आक्रोश और बढता उसके पहले ही उन्हें सूचना मिली कि लोहा व्यापारी पर हमला कर लूट करने वालों को गिरफ्तार कर लिया गया। लोहा व्यापारी एसोसिएशन का कहना है कि अन्य वारदातों के फरार आरोपियों को भी पुलिस जल्द गिरफ्तार करे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co