Indore : 22 लाख रुपए के फ्राड में दो आरोपी गिरफ्तार
22 लाख रुपए के फ्राड में दो आरोपी गिरफ्तारसांकेतिक चित्र

Indore : 22 लाख रुपए के फ्राड में दो आरोपी गिरफ्तार

इंदौर, मध्यप्रदेश : फोर्स मोटर्स पिथमपुर से रिटायरर्ड हुए व्यक्ति के खाते से 22 लाख रूपये उड़ाने वाले मामले में स्टेट सायबर सेल ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

इंदौर, मध्यप्रदेश। फोर्स मोटर्स पिथमपुर से रिटायरर्ड हुए व्यक्ति के खाते से 22 लाख रूपये उड़ाने वाले मामले में स्टेट सायबर सेल ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एक आरोपी वीरेंद्र ठाकुर बैंक खाते खुलवाकर देने के एवज में गरीबों को 500-1000 रुपए का लालच देकर उनके एटीएम आदि ले लेता था। वह खाते के एटीएम प्रमुख आरोपी को दे देता था। दसवीं पास शातिर आरोपी ऋषभ जैन बैंक खाते में रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर की सिम भी खाता धारक द्वारा खरीदवाकर स्वयं रख लेता था। ऋषभ जैन के खाते में 20 लाख रूपये आये थे। उसने एक आरोपी प्रिंस का नाम भी बताया है, उसकी भी तलाश की जा रही है।

स्टेट सायबर सेल एसपी जितेन्द्र सिंह ने बताया कि 18 मार्च 22 को आवेदक ने लिखित शिकायत आवेदन प्रस्तुत किया। जिसमें आवेदक के एचडीएफसी बैंक के खाते से लगभग 22 लाख रूपये किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा धोखाधड़ी पूर्वक ऑनलाइन ट्रांसफर करने की बात कही गई थी। सेल ने धारा 420 एवं 66 डी आईटी एक्ट का केस दर्ज कर जांच शुरु कर दी। विवेचना हेतु एक टीम जिसमें इंस्पेक्टर अंजू पटेल, सब इंस्पेक्टर आशीष जैन एवं रमेश भिड़े की बनाई गई। संदिग्ध बैंक खाता नम्बर एवं मोबाइल नम्बर के नाम पते की तस्दीक हेतु एक टीम को जबलपुर रवाना किया गया। संदिग्ध यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का खाता धारक आरोपी वीरेंद्र ठाकुर से पूछताछ करने पर उसने बताया कि 500/- रूपये की लालच में उसने खाता खुलवाकर आरोपी ऋषभ जैन, पाटन जबलपुर को दिया था। आरोपी ऋषभ जैन से पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह रेल्वे में एसी कोच में अटेण्डर की नौकरी करता था। आरोपी की प्रिन्स नाम के व्यक्ति से व्हाट्सएप कॉल-मैसेज के माध्यम से बातचीत शुरू हुई। उसने बाद में कॉल कर बैंक खाते खुलवाकर देने पर एक बैंक खाते के 5000-रूपये देने का ऑफर दिया गया। आरोपी ऋषभ जैन कई लोगों के बैंक खाते खुलवाकर धोखाधड़ी के रूपये डलवाने के लिये प्रिन्स नाम के व्यक्ति को कोरियर के माध्यम से बैंक खाते की पासबुक, एटीएम कार्ड एवं रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर भेजता था, प्रिन्स से आरोपी का व्हाट्सएप के माध्यम से ही सम्पर्क होना बताया गया। टीम ने वीरेंद्र ठाकुर और ऋषभ जैन को गिरफ्तार कर लिया है प्रिंस की खोजबीन की जा रही है। विवेचना में विवेक मिश्रा, गजेन्द्रसिंह राठौर, राहुल भौसले की भी सराहनीय भूमिका रही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co