इंदौर : व्यापारी को लूटने के बाद गोवा जाने वाले थे लुटेरे, पुलिस ने दबोचा
व्यापारी को लूटने के बाद गोवा जाने वाले थे लुटेरे, पुलिस ने दबोचाSyed Dabeer-RE

इंदौर : व्यापारी को लूटने के बाद गोवा जाने वाले थे लुटेरे, पुलिस ने दबोचा

इंदौर, मध्य प्रदेश : अग्रवाल नगर में व्यापारी के साथ हुई चाकू मारकर लूट के मामले में पुलिस ने हाल ही में निकाले ड्रायवर सहित छह लोगों को पकड़ा है।

हाइलाइट्स :

  • मास्टर माइंड सहित छह गिरफ्तार

  • नौकरी से निकालने पर बदलना लेना चाहता था

इंदौर, मध्य प्रदेश। अग्रवाल नगर में व्यापारी के साथ हुई चाकू मारकर लूट के मामले में पुलिस ने हाल ही में निकाले ड्रायवर सहित छह लोगों को पकड़ा है। आरोपी वारदात के बाद ये उज्जैन गए थे। इसके बाद ये गोवा भागने की फिराक में थे, लेकिन इससे पुलिस ने दबोच लिया।

डीआईजी मनीष कपूरिया और एसपी (पश्चिम) महेशचंद्र जैन ने बताया कि भंवरकुआ के अग्रवाल नगर में व्यापारी सुरेश गोयल के साथ 8 फरवरी को उस समय लूट की वारदात हुई थी, जब वे दुकान से रुपयों से भरा बैग लेकर घर पहुंचे थे। व्यापारी गोयल कार से जैसे ही उतरे वैसे ही एक बदमाश ने चाकू मारकर नोटों से भरा बैग लूट लिया था। पुलिस ने लूट का मामला दर्ज किया था। इसके बाद पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगाला शुरू किया। गहन जांच में यह बात सामने आई कि लुटेरे कम उम्र के हैं।

वहीं वारदात में पुलिस को आशंका था कि इसमें व्यापारी के परिचित या कर्मचारी का हाथ हो सकता है। इसी दौरान पता चला कि अरविंद दुबे नामक युवक सुरेश गोयल के यहां ड्रायवरी करता था, उसे 15 दिन पूर्व ही नौकरी से हटाया गया था। सीसीटीवी फुटेज में एक बाइक के नंबर भी पता चले। वहीं दुकान से घर तक के फुटेज में वह रैकी करता भी नजर आया। इस पर पुलिस ने उसका मोबाइल सर्विलांस पर लिया। वहीं यह भी पता चला कि हीरानगर इलाके में हुई एक लूट में शामिल आरोपियों से अरविंद का मिलना हुआ था। इस पर टीम ने उसे दबोच लिया। पूछताछ में अरविंद ने अपने साथियों के साथ मिलकर अपने सेठ गोयल को लूट की वारदात कबूल ली। लूटने की योजना बनाई थी। पुलिस ने उसके साथियों के बारे में पूछा तो पता चला कि वे सीहोर की होटल में रुके हैं और जल्द ही गोवा जाने वाले हैं। इस पर टीम ने बाकी आरोपियों को सीहोर की होटल से गिरफ्त में ले लिया।

वारदात में ये थे शामिल :

पुलिस ने लुटेरों के नाम अरविंद उर्फ पंडित पिता नर्मदाप्रसाद दुवे (23) नि. लवकुश आवास विहार सुखलिया, हिमांशु पिता राजेश हिंजे (21) नि. सुखलिया, हर्ष पिता सुरेश सिसोदिया (20) नि. जिनेश्वर स्कूल के पास सुखलिया. नारायण पिता राजनारायण यादव (19) नि. कबीट खेड़ी सुखलिया, रोहित पिता विक्रमसिंह धनगर (19) नि. मेघदूत नगर सहित एक अन्य नाबालिग बताया। इनसे दो बाइक सहित लूट के 9 लाख 78 हजार रुपए जब्त किए हैं।

बाबा महाकाल को प्रसाद चढ़ा देना :

वारदात के बाद मास्टर माइंड अरविंद अपने घर पर ही रुका रहा, क्योंकि उसे लगा कि वह गायब होगा तो पुलिस का शक सीधा उस पर ही जाएगा। बाकी के लुटेरों ने अपनी बाइक छिपा दी और बस से उज्जैन के लिए निकले। यहां से वे महाकाल जाने वाले थे, लेकिन फिर उनका प्लान बदला, क्योंकि वे शहर से दूर भागना चाहते थे। इस पर वे सीधे एक आरोपी के उज्जैन स्थिति एक रिश्तेदार के घर पहुंचे। यहां पर उन्होंने उन्हें एक हजार रुपए दिए और कहा कि बाबा महाकाल को प्रसाद चढ़ा देना। इसके बाद वे बस से ही सीहोर के लिए निकले। यहां से वे भोपाल और फिर गोवा भागने वाले थे। इससे पहले पुलिस ने इन्हें दबोच लिया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co