खंडवा में मासूम बच्ची से दरिंदगी
खंडवा में मासूम बच्ची से दरिंदगीसांकेतिक चित्र

एमपी में दिल दहलाने वाली वारदात...खंडवा में मासूम बच्ची से दरिंदगी, मृत समझकर झाड़ियों में फेंका

खंडवा, मध्यप्रदेश। खंडवा में एक मासूम से दुष्कर्म और उसकी हत्या के प्रयास की दिल दहलाने वाली वारदात सामने आई है, बच्ची गंभीर अवस्था में झाड़ियों में मिली है।

खंडवा, मध्यप्रदेश। एमपी में हैवानियत के मामलों में तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है। अब खंडवा जिले में चार साल की एक मासूम से दुष्कर्म और उसकी हत्या के प्रयास की दिल दहलाने वाली वारदात सामने आई है। बताया जा रहा है कि, पंधाना निवासी ये बच्ची अपने रिश्तेदार के घर दीपावली मनाने जसवाड़ी गांव गई थी। इसी दौरान रविवार और सोमवार की दरमियानी रात बच्ची गायब हो गई। तलाश करने पर वह गंभीर हालत में झोंपड़ी से करीब एक किलोमीटर दूर झाड़ियों में मिली, उसे पहले जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे इंदौर रेफर कर दिया गया।

मिली जानकारी के मुताबिक, ढाबे पर काम करने वाले जसवाड़ी गांव निवासी एक युवक ने अपने रिश्तेदार के साथ शराब पीने के बाद गांव के खेत में बनी झोपडी में घुसकर इस बच्ची को गहरी नींद में सोते हुए ही उठा लिया था। आरोपी बच्ची को उठाकर खेत में ले गए और दुष्कर्म किया। इसके बाद उन्होंने बच्ची का गला दबाया और उसे मृत समझकर झाड़ियों में फेंक दिया। पुलिस ने जब तलाश की तो झाड़ियों में मिली बच्ची की सांसे चल रही थी, जिसे तत्काल अस्पताल पहुँचाया गया। अभी बच्ची की हालत स्थिर बनी हुई है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया

पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने बताया कि रामनगर पुलिस चौकी क्षेत्र से बच्ची लापता हुई थी, जिसके बाद पुलिस ने तत्काल उसकी तलाश शुरू कर दी थी। वहीं परिजनों ने बताया कि राजकुमार नामक युवक रविवार रात उनके घर पर खटिया मांगने आया था। वो पास के ही खेत में सोया था। सोमवार सुबह खेत में सिर्फ उनकी खटिया मिली, लेकिन राजकुमार गायब था। इस आधार पर राजकुमार पर शक हुआ। वह गांव के ही एक ढ़ाबे पर काम करता है। ढाबे के मालिक से पूछताछ के आधार पर राजुकमार का पता लगाया गया। उसे गिरफ़्तार करने के बाद पुलिस ने जब सख्ती की तो उसने अपराध स्वीकार किया।

बच्ची से जुड़े मामले पर गृह मंत्री ने आज कहा-

इधर, मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में दुष्कर्म का शिकार बनी चार साल की बच्ची से जुड़े मामले पर गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने आज कहा कि उसकी हालत को देखते हुए उसे इंदौर रेफर किया गया है, जहां उसका उपचार हो रहा है।

उन्होंने बताया कि, उसे गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया था, जहां से उसे इंदौर रेफर किया गया है। अब उसकी हालत स्थिर है। ऐसे सब मामलों में समाज की भी जागरुकता की कोशिश पर बल देते हुए गृह मंत्री ने कहा कि, दुष्कर्म के मामलों में पुलिस तत्परता से कार्य करती है लेकिन इसमें सामाजिक जागरण की भी आवश्यकता है। प्राय: देखा जा रहा है कि दुष्कर्म के मामलों में परिचितों और रिश्तेदारों की संलिप्तता पाई जा रही हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co