Jabalpur : मृतक की पत्नि के कहने पर दोस्त ने की सिर काटकर हत्या

जबलपुर, मध्यप्रदेश : पनागर के ग्राम मचला की सनसनीखेज घटना का पुलिस ने किया खुलासा, मृतक की पत्नि एवं दोस्त, दोनों आरोपी गिरफ्तार।
Jabalpur : मृतक की पत्नि के कहने पर दोस्त ने की सिर काटकर हत्या
प्रेस वार्ता में पुलिस ने किया खुलासाRaj Express

जबलपुर, मध्यप्रदेश। पनागर बेलखाडू रोड के किनारे खेत में गत 12 जनवरी को सिरकटी लाश मिलने की सनसनीखेज वारदात सामने आई थी। इस घटना में मृतक की शिनाख्त ग्राम मचला निवासी नरेश मिश्रा उम्र 40 वर्ष के रूप में हुई थी। इस गंभीर घटना पर पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा द्वारा मौके पर उपस्थित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुये शीध्र पतासाजी कर आरोपी की गिरफ्तारी हेतु आदेशित करते हुए पुलिस की टीम गठित कर मामले की जांच में लगायी गयी थी।

पुलिस की ओर से दी गयी जानकारी के अनुसार गठित टीम को पतासाजी के दौरान ज्ञात हुआ कि मचला गांव का अखिलेश उर्फ अक्कू विश्वकर्मा 10 जनवरी को मृतक नरेश कुमार मिश्रा के साथ रात 8 बजे के बाद देखा गया था, यह जानकारी लगते ही संदेही अखिलेश उर्फ अक्कू विश्वकर्मा को अभिरक्षा में लेते हुये सघन पूछताछ की गयी, तो अखिलेश विश्वकर्मा ने अपने दोस्त नरेश कुमार मिश्रा की फरसे से गला काट कर हत्या करना स्वीकार करते हुये बताया कि नरेश ने वर्ष 2019 में उसकी भाभी के साथ दुराचार का प्रयास किया था, तभी से वह नरेश से रंजिश रखता था, नरेश कुमार मिश्रा अपनी पत्नि उषा मिश्रा के साथ भी आये दिन शराब पीकर मारपीट करता था जिससे उषा मिश्रा भी काफी परेशान थी, नरेश मिश्रा के एक अन्य महिला से भी सम्बंध थे। नरेश की पत्नि उषा मिश्रा द्वारा पति को मारने हेतु 2 लाख रूपये देने की बात पर वह तैयार हो गया।

मृतक की पत्नि में उपलब्ध कराया हथियार :

पुलिस के अनुसार आरोपी कातिल को मृतक की पत्नि उषा ने ही एक फरसा दिया था और बाद में उसने फोन कर नरेश मिश्रा को शराब पीने के लिये श्याम मिश्रा के खेत में बुलाया, जब नरेश अधिक नशे में होकर जमीन में लेट गया तो कुछ ही दूरी पर पूर्व से छिपाकर रखे फरसे से 4 बार हमला करके नरेश की गर्दन काट दी। अखिलेश विश्वकर्मा की निशादेही पर घटना में प्रयुक्त फरसा एवं घटना के वक्त उपयोग में लाये गये 2 मोबाईल जप्त करते हुये पुलिस ने प्रकरण में दोनों को विधिवत गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी पनागर आर के सोनी, उप निरी अंबुज पाण्डे, उप निरीक्षक आकाशदीप साहू, सउनि ब्रम्हदत्त दुबे, सउनि संतोष पाण्डे, आरक्षक राम मिलन, विनय जायसवाल, देशपाल, कुलदीप, मोनू करारे, विवेक, नरेन्द्र, महिला आरक्षक मोनिका, अभिलाषा एवं क्राईम ब्रांच जबलपुर के सउनि राम सनेही शर्मा, प्रधान आरक्षक अजीत पटेल, हरिशंकर गुप्ता, अरविंद, आरक्षक राजेश केवट की सक्रिय भूमिका रही।

हत्या के दौरान उपयोग हुआ फरसा
हत्या के दौरान उपयोग हुआ फरसाRaj Express

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.