Jabalpur : रिश्वत से सेल्समैन की एक दिन में हो रही थी लाखों रुपए की कमाई
रिश्वत से सेल्समैन की एक दिन में हो रही थी लाखों रुपए की कमाईSocial Media

Jabalpur : रिश्वत से सेल्समैन की एक दिन में हो रही थी लाखों रुपए की कमाई

जबलपुर में पिपरिया कला कृषि साख सहकारी समिति के सेल्समैन को पकड़ने पहुंचे लोकायुक्त दल को सेल्समैन की जगह दिहाड़ी पर रखा कर्मचारी रिश्वत के पैसा लेते हुआ मिला। मुख्य आरोपी सेल्समैन फरार हो गया।

भोपाल, मध्यप्रदेश। लोकायुक्त ने बुधवार को जबलपुर और भोपाल में दो रिश्वतखारों को पकड़ने में सफलता प्राप्त की है। जबलपुर में पिपरिया कला कृषि साख सहकारी समिति के सेल्समैन को पकड़ने पहुंचे लोकायुक्त दल को सेल्समैन की जगह दिहाड़ी पर रखा कर्मचारी रिश्वत के पैसा लेते हुआ मिला। मुख्य आरोपी सेल्समैन फरार हो गया। इस सेल्समैन की एक दिन की कमाई पांच लाख रुपए तक होना बताया गया है। दूसरे मामले में भोपाल स्थित सरकारी प्रेस के रीडर को गजट में नाम प्रकाशन के एवज में तीन हजार की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है।

लोकायुक्त के अनुसार जबलपुर जिले के शहपुरा के पिपरिया कला कृषि साख सहकारी समिति में अनाज खरीदी के समय यहां पदस्थ सेल्समैन अंकित ठाकुर द्वारा अपनी उपज बेचने आने वाले किसानों से तुलाई के नाम पर 400 रुपए प्रति क्विंटल रिश्वत के रूप में मांगे जाते हैं, नहीं देने पर संबंधित किसान की उपज की तुलाई नहीं की जाती थी, किसान मजबूरी में सेल्समैन को रिश्वत देते थे। कुछ किसान सेल्समैन को रिश्वत नहीं देकर अपनी उपज स्थानीय अनाज व्यापारी को बेच देते थे। व्यापारी किसी अन्य किसान का पंजीयन उपयोग कर किसान से खरीदे गए अनाज को कृषि साख सहकारी समिति के सेल्समैन को 500 रुपए प्रति क्विंटल रिश्वत देकर बेच देते थे। इस तरह सैल्समैन अंकित ठाकुर की एक दिन की रिश्वत में पांच लाख रुपए तक कमाई होती थी। बुधवार को जब लोकायुक्त दल सेल्समैन अंकित ठाकुर को रंगे हाथों पकड़ने पहुंच तो वह उसके द्वारा पांच रुपए दिहाड़ी पर रखा कर्मचारी अरविंद रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया और अंकित फरार हो गया। लोकायुक्त दल उसकी गिरफ्तारी के प्रयास कर रहा है।

सरकारी प्रेस का रीडर तीन हजार की रिश्वत लेते पकड़ाया :

भोपाल में सरकारी प्रेस के रीडर संतोष रैकवार को लोकायुक्त के दल ने तीन हजार की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है। लोकायुक्त एसपी मनु व्यास के अनुसार वकील रेखा जैन ने 14 सितंबर ने सरकारी मुद्रणालय के रीडर संतोष रैकवार द्वारा उनकी पक्षकर बैतूल निवासी मारुति उर्फ अमृत धोटे के नाम संशोधन का शासकीय गजट में प्रकाशन करने के एवज में 5,00 रुपए की रिश्वत मांग रहा है और डील तीन हजार में पक्की हो गई है। शिकायत पर लोकायुक्त दल ने शिकायतकर्ता वकील रेखा जैन को केमिकलयुक्त तीन हजार रुपए देकर रीडर रैकवार को देने भेजा। इस दौरान लोकायुक्त का दल एमपी नगर स्थित रीडर के कार्यालय कक्ष के बाहर छुप कर खड़ा हो गया। वकील रेखा जैन से संतोष रैकवार ने जैसे ही रिश्वत के पैसे अपने हाथ में लिए लोकायुक्त ने छापा मार कर उसे पकड़ लिया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co