इंदौर : मुंबई की गर्ल फ्रेंड के साथ मिलकर बेच चुका डेढ़ करोड़ की एमडी
आरोपी शेख गुलाम हैदरSocial Media

इंदौर : मुंबई की गर्ल फ्रेंड के साथ मिलकर बेच चुका डेढ़ करोड़ की एमडी

इंदौर, मध्यप्रदेश : आरोपी ने गर्ल फ्रेंड के साथ मिलकर अब तक डेढ करोड़ की एमडी खपा दी है। 70 करोड़ की एमडी के मामले में आरोपी शेख गुलाम हैदर को मिलाकर कुल 29 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

इंदौर, मध्यप्रदेश। क्राइम ब्रांच की टीम ने प्रदेश की सबसे बड़ी एमडी की खेप 5 जनवरी को इंदौर से जब्त की थी। 70 करोड़ की 70 किलो एमडी के साथ पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया था। जिसमें तेलंगाना, इंदौर और मंदसौर के आरोपी है। इन आरोपियों से पूछताछ में कई चौकाने वाले खुलासे हुए। इस मामले में एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है। इस आरोपी ने गर्ल फ्रेंड के साथ मिलकर अब तक डेढ़ करोड़ की एमडी खपा दी है। 70 करोड़ की एमडी के मामले में आरोपी शेख गुलाम हैदर को मिलाकर कुल 29 आरोपी की गिरफ्तारी हो चुकी है। आरोपी का 7 दिन का पुलिस रिमांड लेकर संदेही की जानकारी व तलाश एवं साक्ष्य संकलन के लिए वडोदरा, गुजरात, मुंबई, महाराष्ट्र, नासिक में कई स्थानों पर छापे मारे गए। आरोपी शेख गुलाम हैदर कक्षा 9 वी तक पढा है तथा मुंबई में ड्रायविंग करता था एवं एमडी ड्रग्स के धंधे में लॉकडाउन में रुपये की आवश्यकता होने से मुंबई की गर्ल फ्रेंड के साथ ड्रग्स की तस्करी एक वर्ष से करने लगा था।

लक्ज़री कार में करता था तस्करी :

वह ड्रग्स की तस्करी के लिए लग्झरी कारों का उपयोग करता था। साथ में गर्ल फ्रेंड्स होने के कारण कई स्थानों से बिना चैकिंग के आसानी से निकल जाता था। वह मुंबई से आकर यहां बड़े-बड़े महंगे होटलों में रुककर ऐश करता था। 70 करोड़ की एमडी का मामला उजागर होने एवं इसका नाम उजागर होने के बाद से ही वह गायब हो गया था। उसने मप्र, गुजरात, महाराष्ट्र एवं राजस्थान के कई शहरों में छिपकर फरारी काटी है। पूछताछ में आरोपी ने स्वीकार किया है कि वह अब तक 1.5 करोड़ रुपये कीमत की ड्रग्स मुंबई व अन्य शहरों में खपा चुका है। रिमांड में उससे कई राज का खुलासा होने एवं अन्य ड्रग्स तस्करों का सुराग मिलने की उम्मीद है।

गिरफ्तार आरोपियों से मिला था सुराग :

मध्यप्रदेश शासन के दिशा निर्देशानुसार अवैध मादक पदार्थां की तस्करी करने वाले तथा विभिन्न प्रकार के ड्रग्स सप्लाय करने वाले तस्करों व ड्रग्स पैडलरों के खिलाफ विशेष अभियान प्रहार चलाया जा रहा है। आईजी हरिनारायणाचारी मिश्र ने इन्दौर जोन के समस्त जिलों में अवैध मादक पदार्थों के विरुद्ध सख्ती से कार्यवाही करने के लिए पुलिस टीम को निर्देशित किया। जिसमें अन्य राज्यों के तस्करों तथा ड्रग्स सप्लायरों के विरुध्द जानकारी एकत्र कर कर कार्यवाही करने के लिये समुचित दिशा निर्देश दिये गये थे। डीआईजी मनीष कपूरिया द्वारा एसपी मुख्यालय अरविन्द तिवारी एवं एएसपी क्राइम गुरु प्रसाद पाराशर को 70 किलो एमडी ड्रग्स के साथ पकड़े गए आरोपियों के बारे में विवेचना और पड़ताल के लिए प्लान बनाकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। उक्त मामले में गिरफ्तार हुये आरोपियों का पुलिस रिमाण्ड लेकर की गई पूछताछ में पूर्व में गिरफ्तार रईसउद्दीन खान व शहीद पत्रकार से की गई पूछताछ में मुंबई की किसी महिला व उसके ड्रायवर शेख गुलाम हैदर का मुंबई से इन्दौर आकर एमडी ड्रग्स रईसउद्दीन, शहीद पत्रकार, अशफाक से ले जाने की बात खुलासा हुआ था।

कई संदेहियों के नाम उगले हैं शेख गुलाम हैदर ने :

क्राइम ब्रांच ने सरवटे बस स्टेंट से शेख गुलाम हैदर को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। आरोपी द्वारा मुंबई निवासी गर्ल फ्रेंड्स के साथ लॉकडाउन के पहले व बाद में मुंबई से इन्दौर आकर आरोपी रईसउद्दीन व अन्य से करीब 20 -25 किलो एमडी अलग अलग महंगी गाड़ियों में लेकर गये हैं और मुंबई के दलाल के माध्यम से मुंबई शहर में ड्रग्स खपाना बताया गया। आरोपी द्वारा मुंबई, महाराष्ट्र एवं कोटा राजस्थान के कई संदेही के नाम का खुलासा किया है जो एमडी ड्रग्स का कारोबार करने में लिप्त हैं। आरोपी से मारुति कार भी जप्त की है जिससे वह इन्दौर आया था। आरोपी ने बताया कि उसके नाम की कई सिम हैं उससे मुंबई निवासी गर्ल फ्रेंड व अन्य व्यक्ति ड्रग्स डीलिंग में करते है। आरोपी की निशांदेही पर इन्दौर के चार होटल व मुंबई के दो होटल में रुकने संबंधी दस्तावेज प्राप्त किये गये हैं। क्राइम ब्रांच द्वारा थाना अपराध शाखा में दर्ज एमडी ड्रग्स की तस्करी के मामले में दर्ज केस में आरोपी शेख गुलाम हैदर को मिलाकर कुल 29 आरोपियों की गिरफ्तारी की गई है।

रिमांड पर लेकर कई स्थानों पर मारे छापे :

क्राइम ब्रांच द्वारा उक्त आरोपी का 7 दिन का पुलिस रिमांड लेकर संदेही की जानकारी व तलाश एवं साक्ष्य संकलन हेतु वडोदरा, गुजरात, मुंबई, महाराष्ट्र, नासिक में कई स्थानों पर दबिश दी गई। आरोपी शेख गुलाम हैदर कक्षा 9 वीं तक पढा है तथा मुंबई में ड्रायविंग करता था एवं एमडी ड्रग्स के धंधे में लॉकडाउन में रुपये की आवश्यकता होने से मुंबई की महिला मित्र के साथ ड्रग्स की तस्करी विगत एक वर्ष से करने लगा था और स्वयं भी ड्रग्स का उपयोग करता था। आरोपी अपने महंगे शौक पुरा करने के लिए ड्रग्स की तस्करी करता था। आरोपी की पहचान पारिवारिक कार्यक्रमों में रईस नामक तस्कर से हुई थी जिसके साथ साथ वह दिनेश अग्रवाल, अक्षय अग्रवाल, एसी राज उर्फ अशफाक, अय्यूब और वसीम उर्फ बिल्ला के संपर्क में आकर इन्दौर से एमडी गुजरात और मुंबई में सप्लाई करता था। आरोपी ने बताया कि रईस से ड्रग्स डीलिंग इन्दौर के एक मंहगे होटल में करता था और रईस होटल में ही आरोपी के लिए पार्टी का आयोजन करवाता था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co