Morena: अवैध पत्थर का खनन करने वाले माफिया ने वन अमले को खदेड़ा, की ताबड़तोड फायरिंग
Morena: माफिया ने वन अमले को खदेड़ाSocial Media

Morena: अवैध पत्थर का खनन करने वाले माफिया ने वन अमले को खदेड़ा, की ताबड़तोड फायरिंग

मुरैना, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में बेखौफ है पत्थर माफिया, अब मुरैना जिले में पत्थर की खदान से अवैध पत्थर का खनन करने वाले माफिया ने वन अमले को खदेड़ दिया है।

मुरैना, मध्यप्रदेश। प्रदेश में माफिया द्वारा लगातार हमले करने की खबर सामने आ रही हैं। अब ऐसी ही एक और खबर मध्यप्रदेश के मुरैना जिले से सामने आई है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, मुरैना जिले में पत्थर की खदान से अवैध पत्थर का खनन करने वाले माफिया ने वन अमले को खदेड़ दिया है।

जानिए पूरी खबर :

वन विभाग के रिठौरा में पदस्थ डिप्टी रेंजर को खबर मिली थी कि ग्राम पढ़ावली में माफिया द्वारा व्यापक स्तर पर पत्थर का अवैध खनन किया जा रहा है। सूचना मिलते ही डिप्टी रेंजर अपने अमले के साथ मौके पर पहुंचे, वहां जाकर देखा तो कई लोग अवैध खनन में लगे थे। वहीं, मौके पर एलएनटी मशीनों द्वारा खुदाई की जा रही थी। वन अमले ने जैसे ही एलएनटी मशीन को पकड़ने के लिए कदम बढ़ाए वहां खनन कर रहे मौजूद माफिया द्वारा उन पर फायरिंग शुरू कर दी।

जान बचाकर भागा वन अमला :

मुरैना जिले में पत्थर की खदान से अवैध पत्थर का खनन करने वाले माफिया ने वन अमले को खदेड़ दिया हुए माफिया व उसके साथियों ने उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग की, ताबड़तोड़ फायरिंग होने से वन अमला डर गया तथा उलटे पैर जान बचाकर भाग आया।

जिले में अवैध पत्थर खनन माफिया पूरी तरह सक्रिय :

बता दें, कि जिले में अवैध पत्थर खनन माफिया पूरी तरह सक्रिय हैं, यह रात में खदानों से अवैध पत्थर का खनन करते हैं। इन माफिया के हौसले इतने बुलंद हैं कि ये वन अमले पर भी फायरिंग करने से नहीं चूकते हैं।

आपको बताते चलें कि पत्थर या रेत माफिया द्वारा फायरिंग या मारपीट की घटना काेई नई बात नहीं है, इससे पहले भी कई जिलों में अवैध पत्थर, अवैध रेत का परिवहन करने वालाें ने चेकिंग के दाैरान पुलिस पर फायरिंग कर दी थी, इसके बाद भी प्रशासन ने किसी के खिलाफ काेई सख्त कार्रवाई नहीं कर रहे है और बेखाैफ माफिया कार्रवाई करने वाली टीम पर लगातार हमला कर रहे हैं।

Morena: माफिया ने वन अमले को खदेड़ा
ग्वालियर: रेत माफियाओं ने पुलिस टीम पर किया हमला, टीआई घायल

इनका कहना है :

हमने फोन करके रिठौरा थाना पुलिस से पुलिस बल मांगा था जिससे कार्रवाई कर सकें लेकिन पुलिस बल वहां नहीं पहुंचा। खनन माफियाओं ने हम लोगों को देखते ही फायरिंग शुरू कर दी। वह लोग संख्या में लगभग 100 के करीब थे, हम लोग केवल 10-12 थे। लिहाजा अपनी जान की सलामती चाहते हुए हम लोगों को वहां से भागना पड़ा।

जितेन्द्र सोलंकी, डिप्टी रेंजर, वन विभाग

हमारे पास डिप्टी रेंजर सोलंकी का फोन आया था कि दो-तीन पुलिस वाले भेज दो, हम लोग खनन माफिया पर कार्रवाई कर रहे हैं। हमने कहा दो-तीन लोगों से क्या होगा, हम पूरी फोर्स लेकर आ रहे हैं। हम जब तक पूरी फोर्स लेकर वहां पहुंचे तब तक वन अमले के सदस्य वहां से जा चुके थे। लिहाजा हम लोग भी वापस आ गए।

संजय किरार, थाना प्रभारी, रिठौरा

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co