MP : व्यापमं घोटाले के मुख्य आरोपी को पुलिस ने एयरपोर्ट से किया गिरफ्तार
व्यापमं घोटाले के मुख्य आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तारSocial Media

MP : व्यापमं घोटाले के मुख्य आरोपी को पुलिस ने एयरपोर्ट से किया गिरफ्तार

इंदौर, मध्य प्रदेश। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए प्रदेश के बहुचर्चित व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) घोटाले के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया है।

इंदौर, मध्य प्रदेश। राज्य में आपराधिक गतिविधियों पर लगाम कसते हुए पुलिस द्वारा नियमित कार्रवाई की जा रही हैं। इसी बीच एरोड्रम थाना पुलिस ने मध्य प्रदेश के बहुचर्चित व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) घोटाले के मुख्य आरोपी को देवी अहिल्याबाई होलकर एयरपोर्ट (Devi Ahilya Bai Holkar Airport) से गिरफ्तार किया है।

व्यापम घोटाले का मुख्य आरोपी कारतूस के साथ गिरफ्तार :

बता दें, व्यापमं घोटाले का मुख्य आरोपी डॉ. जगदीश सिंह सागर को इंदौर एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया है। वह बैग में कारतूस छिपा कर ले जा रहा था। इंदौर से ग्वालियर फ्लाइट में जाने से पहले चेकिंग के दौरान बैग की तलाशी लेने पर पकड़ा गया। पुलिस ने आरोपी डॉ. जगदीश सिंह सागर को कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया गया।

इंदौर से ग्वालियर फ़्लाइट से जाने वाला था जगदीश सिंह :

बताया जा रहा है कि जगदीश सिंह इंदौर से ग्वालियर फ़्लाइट से जाने वाला था। इसी दौरान जब एयरपोर्ट के जवानों ने स्कैनर पर जांच की तो उसके बैग में जिंदा कारतूस मिला। पूछने पर आरोपित ने बहाना बनाया तो एयरपोर्ट प्रबंधन ने एरोड्रम थाना पुलिस को सूचना दी। पुलिस आरोपित को थाने ले गई और उस पर आर्म्स एक्ट के तहत कार्रवाई की। आरोपी ने पूछताछ में बताया- व्यापम घोटाले मामले में जेल में रहने के बाद उसकी दो बंदूकों का लाइसेंस रिन्यू नहीं हो पाया था, जिसके बाद उसने दोनों बंदूकें बेच दीं। एक कारतूस गलती से बैग में पड़ा रहा गया।

आपको बताते चलें कि, व्यापम घोटाले के मास्टर माइंड जगदीश सिंह सागर ने पीएमटी में फर्जीवाड़ा कर 100 से ज्यादा विद्यार्थियों को गलत तरीके से मेडिकल कॉलेजों में दाखिला दिलाया था। इस मामले में इंदौर क्राइम ब्रांच पुलिस ने 2013 में डॉ जगदीश को गिरफ्तार किया था। आरोपित को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया था, जिसके बाद जमानत पर उसे छोड़ दिया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.