नागदा में हैवानियत : पति ने पत्नी के अंगों को  काट उसे घर से बाहर फेंका
आरोपी पति अपनी पत्नी और दोनों बच्चों के साथ; मौका ए वारदातराज एक्सप्रेस

नागदा में हैवानियत : पति ने पत्नी के अंगों को काट उसे घर से बाहर फेंका

नागदा जं., मध्य प्रदेश : चरित्र की शंका पर पति व परिजनों ने महिला पर तलवार से हमला कर नाक, जीभ, जबड़ा व स्तन काटकर घर के बाहर फेंका। पुलिस ने दो महिला सहित चार आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया।

नागदा जं., मध्य प्रदेश। चरित्र की शंका में पति, सास, ससुर व एक अन्य महिला रिश्तेदार ने योजना के तहत बहु पर घर में घेरकर तलवार से निर्दयता से हमला कर नाक, जीभ, जबड़ा व स्तन काट कर घर से बाहर फेंकने के बाद लगभग 10 मिनट तक आरोपी पति तलवार लहराता रहा। सभी आरोपी घर का ताला लगाकर फरार हो गए। घटना के समय भीड़ इकठ्ठी हो गई। किसी ने घायल महिला के पास जाने की हिम्मत नहीं की। मौके पर पुलिस ने पहुंचकर घायल अवस्था में महिला को जनसेवा अस्पताल ले गए। वहां से उसे उज्जैन रैफर किया। उज्जैन से भी इंदौर रैफर कर दिया। पुलिस ने चार आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया।

क्या है मामला :

मंगलवार की सुबह विद्यानगर क्षेत्र में उस समय हड़कंप मच गया जब वहां की निवासी महिला राधा बाई उम्र 35 वर्ष पर उसके पति राजेश पिता सीताराम चंद्रवंशी, ससुर सीताराम, सास गेंदाबाई, मोसी सास कलाबाई ने एकमत होकर घर के अंदर राधा बाई पर तलवार से निर्दयता से हमला कर जीभ, नाक, जबड़ा, स्तन काटकर महिला के मुंह में बेलन तक डाल दिया। घायल अवस्था में महिला को घर के बाहर फेंक दिया।

पुलिस सूत्रों के अनुसार गुप्त अंग पर भी हमला किया गया। घायल महिला को सड़क पर फेंकने के बाद आरोपी पति 10 मिनट पर मौका स्थल पर तलवार घुमाता रहा। सभी आरोपियों मकान पर ताला लगाकर फरार हो गए। सूचना पर मंडी थाने के थाना प्रभारी श्यामचंद्र शर्मा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। महिला की सांस चल रही थी। उन्होंने आरक्षक जितेंद्रसिंह सेंगर व यशपालसिंह सिसौदिया के साथ महिला को जनसेवा अस्पताल भेजा। हालत गंभीर होने के कारण उज्जैन जिला चिकित्सालय में रैफर किया। वहां से भी इंदौर रैफर कर दिया। महिला की हालत अभी भी चिंताजनक बनी हुई है। पुलिस ने पति, राजेश पिता सीताराम, सास गेंदाबाई, मोसी सास कलाबाई व सीताराम के खिलाफ धारा 307 में प्रकरण दर्ज कर आरोपी की तलाश में मंडी, बिरलाग्राम पुलिस की संयुक्त तीन टीमें बनाकर आरोपियों की तलाश में भेजी गई हैं। रात तक आरोपियों की गिरफ्तार नहीं हो सकी है।

सूत्रों के अनुसार घायल महिला की शादी राजेश से 15 वर्ष पूर्व हुई थी। 14 वर्ष व एक 5 वर्ष के दो पुत्र भी हैं। राजेश ट्रक चालक है। ज्यादातर यह बाहर ही रहता है। चरित्र की शंका में कई दिनों से विवाद चल रहा था। घायल महिला ने पति के खिलाफ बिरलाग्राम थाने में मारपीट करने के आरोप के आवेदन भी दिए थे। एक प्रकरण भी दर्ज हुआ है। पिछले 3 दिनो से घायल महिला घर पर नहीं थी। सोमवार की रात को आरोपी महिला को घर लेकर आए थे। मंगलवार की सुबह उस पर हमला कर दिया।

जवाबदार अधिकारियों ने नहीं उठाया फोन :

घटना के बाद क्षेत्रवासियों ने बिरलाग्राम थाना प्रभारी, सीएसपी को सूचना के लिए मोबाईल लगाए। दोनों ने ही मोबाईल अटैंड नहीं किए। एडीशनल एसपी आकाश भुरिया को सूचना मिलने के बाद उन्होंने मंडी थाना प्रभारी श्यामचंद्र शर्मा को मौके पर भेजा। यदि समय पर यह नहीं पहुंचते तो शायद महिला की घटना स्थल पर ही मृत्यु हो जाती। प्रत्येकदर्शी के अनुसार जिस कमरे में हमला हुआ वहां बड़ी मात्रा में खून मिला। सड़क पर भी खून फैला हुआ था। घायल महिला को उज्जैन ले जाने के लिए एंबुलेंस की व्यवस्था भी अस्पताल में नहीं होने के कारण खाचरौद से एंबुलेंस बुलाकर महिला को उज्जैन भेजा।

इनका कहना :

महिला पर हमले के मामले में चार आरोपी के खिलाफ धारा 307 में प्रकरण दर्ज कर लिया गया है। आरोपियों को पकड़ने के लिए मंडी, बिरलाग्राम थाने की संयुक्त तीन टीमें आसपास के क्षेत्रों में भेजी गई हैं। जल्द ही आरोपी की गिरफ्तारी की जाएगी।

एमएल रावत, जांचकर्ता अधिकारी, बिरलाग्राम थाना नागदा

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co