पन्ना : लोकायुक्त ने पटवारी को 5 हजार रूपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा
लोकायुक्त ने पटवारी को 5 हजार की रिश्वत लेते हुए पकड़ाAnil Tiwari

पन्ना : लोकायुक्त ने पटवारी को 5 हजार रूपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा

पन्ना जिले में रिश्वत लेने का सिलसिला थम नहीं रहा है। जहां पर बिना पैसों के काम नहीं होता है। सोमवार को लोकायुक्त पुलिस ने पटवारी को 5 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

हाइलाइट्स :

  • जमीन के बंटवारे के नाम पर मांगी थी 5 हजार की रिश्वत

  • चंद्रावल हल्का नांदन में पदस्थ था पटवारी

  • उप तहसील ककरन के पास सरकारी आवास में लोकायुक्त ने की कार्यवाही

  • लोकायुक्त की कार्यवाही से सरकारी तंत्र में हड़कंप

पन्ना, मध्यप्रदेश। पन्ना जिले में रिश्वत लेने का सिलसिला थम नहीं रहा है। जहां पर बिना पैसों के काम नहीं होता है। जिले में समय समय पर रिश्वत के मामलों पर लोकायुक्त पुलिस द्वारा कार्यवाही भी की जाती है, जिसके बाद भी रिश्वत का खेल कम नहीं हो रहा है। सोमवार को लोकायुक्त पुलिस ने पटवारी को 5 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। पूरे मामले के संबंध में बताया जाता है कि रैयासांटा निवासी किसान सूर्य सिंह लोधी का जमीन का बंटवारा होना था। फरियादी ने कई बार चंद्रावल हल्का नादन के पटवारी देवेंद्र प्रजापति से जमीन का बंटवारा करने की बात कही। जिस पर पटवारी प्रकरण को टालता रहा और बाद में बंटवारा के करने के बदले 5 हजार रिश्वत की मांग की गई। जिस पर युवक ने अपनी आर्थिक स्थिति की बात कहकर बिना पैसे के ही काम करने हो कहा। जिस पर पटवारी ने मना कर दिया। फरियादी ने फिर पटवारी को 5 हजार रिश्वत देने की बात कही और 25 मार्च को उसने लोकायुक्त सागर से सम्पर्क किया। लोकायुक्त पुलिस द्वारा पूरे मामले की तस्दीक की और ट्रैप की कार्यवाही प्रस्तावित की गई। सोमवार 5 अप्रैल को फरियादी सूर्य सिंह लोधी को रंग से लगे हुए नोट दिये और पटवारी को देने को कहा, जैसे ही फरियादी ने पटवारी को रिश्वत के 5 हजार रूपयें दिये वैसे ही लोकायुक्त पुलिस ने आरोपी पटवारी को रंगे हाथो पकड़ कार्यवाही शुरू कर दी।

जमीन के बंटवारा के नाम पर मांगी थी रिश्वत :

फरियादी किसान की शिकायत पर सागर से लोकायुक्त की टीम डीएसपी राजेश खेड़े के नेतृत्व में पन्ना जिले के रैपुरा तहसील की उपतहसील नादन पहुंची। जहां पर पता चला कि पटवारी अपने सरकारी आवास में है। फरियादी किसान रिश्वत के पैसे लेकर पटवारी के शासकीय आवास पर पहुंचा और जैसे ही किसान ने पटवारी को पैसे दिये वैसे ही लोकायुक्त पुलिस ने पटवारी को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। फरियादी ने बताया कि पटवारी पैसे के बदले काम करने के लिए राजी हुआ। जिस पर मैंने मन बना लिया था कि ऐसे भ्रष्ट पटवारी पर कार्यवाही होनी चाहिए जिसकों लेकर मैंने लोकायुक्त सागर सम्पर्क किया और आज पूरी कार्यवाही की गई। उक्त कार्यवाही के दौरान लोकायुक्त पुलिस सागर के डीएसपी राजेश खेड़े, निरीक्षक मंजू सिंह, प्र.आरक्षक अजय छत्री, आरक्षक आसुतोष व्यास, विक्रम सिंह संतोष गोस्वामी आदि शामिल रहे। गौरतलब है लोकायुक्त की कार्यवाही से जिले के सरकारी महकमें में हड़कंप मच गया। दोपहर लोकायुक्त की कार्यवाही की जानकारी जिले में आग की तरह फैल गई। वही कार्यवाही के दौरान भी लोगों का हूजूम उमड़ पड़ा। वही आम लोगों ने इस कार्यवाही की तारीफ की और यह कहा कि यदि ऐसी कार्यवाही निरंतर होती रहेगी तो निश्चित ही रिश्वतखोरों पर भय बना रहेगा।

इनका कहना है :

देवेन्द्र प्रजापति पटवारी द्वारा सूर्य सिंह लोधी से जमीन के बंटवारे के नाम पर 5 हजार की मांग की गई थी, जिसकी जांच की गई तो शिकायत सही पाई गई थी, जिस पर आज पटवारी को 5 हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई।

राजेश खेड़े, डीएसपी, लोकायुक्त सागर

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co