मंगलवार को महिला पर क्रूरता से हुए हमले के दो आरोपी पुलिस गिरफ्त में
पत्रकारो से चर्चा करते हुए एसपीराज एक्सप्रेस

मंगलवार को महिला पर क्रूरता से हुए हमले के दो आरोपी पुलिस गिरफ्त में

नागदा जं., मध्य प्रदेश : बुधवार को एसपी ने घटना स्थल का मौका मुआयना कर अधिकारियों को दिए दिशा-निर्देश।

नागदा जं., मध्य प्रदेश। विद्यानगर में पति व उसके परिजनों ने महिला पर क्रूरता से हमला करने के बाद पति राजेश ने उसके साले राधेश्याम को फोन कर बताया कि तेरी बहन की हरकतें 15 वर्ष से सहन कर रहा हूं। वह घर के बाहर पड़ी है उसे आकर देख लो और आरोपी ने मोबाईल बंद कर लिया। यह बात एएसपी ने पत्रकारों से चर्चा करने के दौरान फरियादी मृतक के भाई द्वारा कहे जाने की पुष्टि की। दो आरोपी ससुर व मौसी सास को गिरफ्तार किए जाने की बात कही। दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेश किया वहां से उन्हें जेल भेजने के आदेश पर जेल भेज दिया गया। महिला का गंभीर अवस्था में इंदौर एमवाए अस्पताल में उपचार चल रहा है।

मंगलवार को महिला राधाबाई पर क्रूरता से हमला कर जान के प्रयास के मामले को एसपी ने गंभीरता से लेते हुए बुधवार को सुबह घटने का मौका मुआयना कर पुलिस अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए। दोनों थाने के पुलिस अधिकारी हरकत में आए। पुसिल ने सक्रियता दिखाते हुए चार आरोपी में से दो आरोपी ससुर को गांव चंद्रावत से व मौसी सास को मेहतवास से गिरफ्तार कर एएसपी आकाश भूरिया ने बुधवार को पत्रकारो के समक्ष बिरलाग्राम थाने में खुलासा करते हुए चार आरोपी में से दो आरोपी ससुर सीताराम को चंद्रावतीगंज व मौसी सास कलाबाई को मेहतवास से गिरफ्तार किया गया। इसका खुलासा एएसपी आकाश भुरिया ने बिरलाग्राम थाने में पत्रकारो के समक्ष करते हुए घटना की जानकारी दी। परिवारिक विवाद के चलते पति ने पत्नी पर प्राणघातक हमला किया, जिसमें पीड़िता के भाई राधेश्याम की शिकायत पर पति, ससुर, सास व मौसी सास के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया। पुलिस ने आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए अमलावदिया, लसूडिय़ा जयसिंह, डाबरी, सिमरोल, मकला सहित आधा दर्जन स्थानों पर दबिश दी। हत्या के बाद फरार होने में उपयोग की गई बाईक क्रमांक एमपी-13-ईवी-4225 को पुलिस ने जब्त कर ली।

इस दौरान सीएसपी मनोज रत्नाकर, टीआई श्यामचंद्र शर्मा, बिरलाग्राम इंचार्ज टीआई हेमंतसिंह जादौन मौजूद रहे। आरोपितों को पकड़ने में एसआई एमएल रावत, एसआई विक्रमसिंह, आरक्षक सुरेश डांगी, जितेंद्र सेंगर, प्रकाश यादव, संजयसिंह, राकेश मालवीय, पुष्पेंद्रसिंह, पुष्पराज आदि का योगदान रहा। दोनो आरोपियों को बुधवार को न्यायालय में पेश किया वहां न्यायाधीश के आदेश पर जेल भेज दिया गया। बता दे कि मंगलवार की सुबह विद्यानगर में पति, ससुर, सास व मौसी सास ने योजनाबद्ध तरीके से महिला पर तलवार से हमला कर जीभ, जबड़ा, नाक व स्तन पर हमला किया। घायल अवस्था में महिला को घर के बाहर सड़क पर फेंककर 20 मिनट तक उसके मरने का इंतजार करते रहे। आरोपियों को लगा की महिला की मृत्यु हो गई इसके बाद आरोपी फरार हो गए।

एफएसएल टीम ने घटनास्थल की जांच की :

एसपी द्वारा घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद बुधवार की दोपहर एफएसएल टीम के सहायक वैज्ञानिक अधिकारी अरविंद नायक, पुलिस फोटोग्राफर बाबुलाल मेहता के साथ जिला मुख्यालय से आकर घटनास्थल की गंभीरता से जांच की। जांच के दौरान एफएसएल टीम ने मौके पर सेम्पलिंग की कार्यवाही भी की। महिला की जान बचाने वाले टीआई श्यामचंद्र शर्मा, आरक्षक जितेंद्र सेंगर, यशपालसिंह कुशवाह, धर्मेन्द्र प्रतापसिंह को एसपी शुक्ल ने पुरस्कृत करने की बात कही।

घटना का मौका मुआयना करते एसपी
घटना का मौका मुआयना करते एसपीराज एक्सप्रेस

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co