रतलाम: नकली नोट के साथ दंपत्ति को पुलिस ने किया गिरफ्तार,मामले में जांच जारी
नकली नोट के साथ दंपत्ति को पुलिस ने किया गिरफ्तारDeepika Pal - RE

रतलाम: नकली नोट के साथ दंपत्ति को पुलिस ने किया गिरफ्तार,मामले में जांच जारी

रतलाम, मध्यप्रदेश: गुजरात पुलिस ने रतलाम निवासी दंपत्ति को नकली नोट के साथ हिरासत में लिया , जिनके पास से म. प्र. श्रमजीवी पत्रकार संघ का कार्ड हुआ बरामद।

रतलाम, मध्यप्रदेश। प्रदेश में अप्रत्याशित घटनाओं का सिलसिला जारी है तो वहीं आए दिन कई मामले सामने आते जा रहे है इस बीच ही एक खबर सामने आई है जहां गुजरात पुलिस ने रतलाम निवासी दंपत्ति को नकली नोट के साथ हिरासत में लिया है। वहीं जिनके पास से म. प्र. श्रमजीवी पत्रकार संघ का कार्ड मिला है। गुजरात पुलिस के अनुसार वो मामले की सिलसिले वार जांच कर रहे है और संभावना है कि कुछ और नाम सामने आ सकते हैं। बहरहाल रतलाम निवासी इस दंपति ने रतलाम का नाम समूचे गुजरात में चर्चित कर दिया है।

क्या है पूरा मामला

मिली जानकारी के अनुसार बताते चलें कि, रतलाम निवासी दंपत्ति को बीते दिन बुधवार को गुजरात के कच्छ के भुज शहर में नकली नोटों के साथ गिरफ्तार किया गया, जिसका अंकित मूल्य लगभग 12 लाख रुपये है। बताया जा रहा है कि, दंपति, राहुल कसेरा और उनकी पत्नी मेघा ने 2000 और 500 रुपये के नकली नोटों का उपयोग करके छह से सात दुकानदारों से मोबाइल फोन, कपड़े और जूते खरीदने में कामयाबी हासिल की थी। लेकिन कुछ व्यापारियों द्वारा जब नोटों को चेक किया तो ये नोट नकली पाए गए। नकली नोटों की सत्यता के बारे में संदेह होने पर युगल की शिकायत दर्ज कराई तथा व्यापारियों ने सीसीटीवी फुटेज चेक किया और पुलिस को जोड़े के बारे में जानकारी दी।

पुलिस ने देर रात की कार्रवाई

जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए देर रात दंपती को रेलवे स्टेशन पर रोक दिया। पुलिस ने 2,000 रुपये के 574 नोटों को 11.48 लाख रुपये के अंकित मूल्य के साथ और 500 रुपये के 125 नोटों को 62,500 रुपये के अंकित मूल्य के साथ जब्त किए हैं। बताते चलें कि, आरोपी दंपत्ति ने पुलिस को खुद का नाम रवि गुप्ता और पत्नी का नाम विभा गुप्ता बताया था।

पुलिस ने मामले में किया ये खुलासा

इस संबंध में पुलिस ने मामले को लेकर खुलासा करते हुए बताया कि, आरोपी रतलाम के बड़े व्यापारी है और रतलाम में इनका बड़ा शोरुम भी है। जहां आरोपितों के अनुसार मप्र में नोट छापे जाते हैं और दंपत्ति नकली नोटों को प्रसारित करने के लिए दूर-दूर तक जाते थे। पुलिस ने दंपति से एक कार भी जब्त की। बताया जा रहा है कि, आरोपितों के पास मिले कार्ड में जन- जन जागरण का संवाददाता और पता जय भारत नगर लिखा हुआ हैं। जिसे लेकर पता लगाया जा रहा है कि, हिरासत में लिए गए महिला- पुरुष से बरामद पत्रकार संगठन का कार्ड कहां से आया है। रवि गुप्ता नाम का कोई पत्रकार रतलाम के इतिहास में 30 साल से पैदा ही नहीं हुआ है, तो फिर संगठन ने इसे कार्ड कैसे जारी कर दिया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co