सतना : बेडरूम में सिकंदर लड़कियों को दिखाता था पोर्न फिल्म
पुलिस हिरासत में सिकंदरPrahlad Gupta

सतना : बेडरूम में सिकंदर लड़कियों को दिखाता था पोर्न फिल्म

सतना, मध्य प्रदेश : रीवा रेंज के आईजी ने भी इस सनसनीखेज मामले में अब तक हुई जांच, पड़ताल और कार्रवाई की समीक्षा गुरूवार को सतना पहुँच कर की।

सतना, मध्य प्रदेश। नाबालिग से दुष्कृत्य और ब्लैकमेलिंग में मामले में पकड़ा गया सूदखोर सिकंदर, अय्याशी के अपने अड्डे अपने फार्म हाउस के अपने बेडरूम में युवतियों को बड़ी स्क्रीन पर पोर्न वीडियो दिखाता था। उसकी हरकते एक एक कर सामने आ रही हैं। कुछ बड़े राज अब उसके बैंक लॉकर ने भी उगल दिए हैं। उसके बैंक लाकर से तमाम ऐसी वस्तुएं निकली हैं जो उस पर अब तक लगे तमाम संगीन आरोपों के लिहाज से अहम् सबूत साबित हो सकती हैं। पुलिस को ऐसा कुछ भी मिला है जो यह खुलासा करने के लिए भी काफी है कि सिकंदर का शिकार कौन-कौन था और वह उसे किस तरह से ब्लैकमेल कर रहा था। हालांकि पुलिस की जांच अभी जारी है और वह लाकर खंगालने के बाद निकले सामान के पीछे छिपे सच की तलाश में लगी हुई है। उधर इस मामले में ड्रग कनेक्शन और मार्कशीट के फर्जीवाड़े की भी जांच शुरू कर दी गई है। रीवा रेंज के आईजी ने भी इस सनसनीखेज मामले में अब तक हुई जांच, पड़ताल और कार्रवाई की समीक्षा गुरूवार को सतना पहुँच कर की।

पुलिस के मुताबिक बुधवार को आरोपी अतीक मंसूरी उर्फ़ सिकंदर खान उर्फ़ समीर के भोपाल स्थित फ़्लैट से तलाशी लेकर लौटी टीम ने गुरूवार को आरोपी के बैंक लाकर की तलाशी ली। आरोपी का लॉकर रीवा रोड स्थित आईडीबीआई बैंक में है। गुरूवार की दोपहर एसआईटी की टीम टीआई कोलगवां मोहित सक्सेना के नेतृत्व में बैंक पहुंची और बैंक मैनेजर के साथ जरुरी औपचारिकताएं पूर्ण करने के बाद आरोपी का लॉकर खुलवाया गया। इस लॉकर की चाभी पुलिस ने आरोपी के भोपाल स्थित फ़्लैट से बरामद की थी।

युवतियों को दिखाता था अश्लील वीडियो, पैन ड्राइव जब्त :

सिकंदर अय्याश था और इसके लिए उसने तमाम बंदोबस्त अपने अय्याशी के अड्डे पर कर रखे थे। नजीराबाद में बने जिस हाउस को नगर निगम ने ढहा दिया उस ऐशगाह में सिकंदर ने तमाम साजो सामान जुटा रखे थे। यहां उसने बड़े स्क्रीन वाली टीवी लगा रखी थी। इस टीवी में वह पैन ड्राइव के जरिये अश्लील वीडियो दिखाता था। पुलिस ने अपने आधिकारिक प्रेस नोट में यह जानकारी देते हुए बताया कि सिकंदर युवतियों को पोर्न क्लिप दिखाता था। अश्लील वीडियो वाली पैन ड्राइव भी पुलिस ने जब्त की है।

लॉकर से निकली 7 सीडी :

आईडीबीआई बैंक में आरोपी अतीक मंसूरी उर्फ़ सिकंदर खान उर्फ़ समीर का बैंक लॉकर क्रमांक जी 3/60 चाभी क्रमांक 68 से खोला गया। लॉकर खुला तो उससे तमाम वस्तुएं निकली हैं जो आरोपी के गुनाह उजागर करने के लिहाज अहम् साक्ष्य साबित हो सकती हैं। पुलिस के मुताबिक़ आरोपी सिकंदर के लॉकर में 7 सीडी और एक फोटो नेगेटिव निकला है। इस सीडी में क्या है और यह नेगेटिव किसका है। इसकी पतासाजी पुलिस कर रही है। सूत्रों की मानें तो ये सीडी अगर अश्लील हुई तो पुलिस के लिए जांच में बड़ी मददगार भी साबित हो सकती हैं। यह भी पुलिस को पता चल सकता है कि आरोपी ने किसे और कैसे ब्लैकमेल किया है। जानकार बताते हैं कि सीडी की जाँच सायबर सेल भी कर रही है।

लॉकर से निकली 7 सीडी
लॉकर से निकली 7 सीडीPrahald Gupta

ब्लैंक चेक, कोरे स्टाम्प और रुक्का भी निकले :

आरोपी के बैंक लॉकर से भी पुलिस को दर्जनों की तादाद में ब्लैंक चेक मिले हैं। इन चेकों पर चेक देने वाले के हस्ताक्षर हैं। सूदखोरी का भी धंधा करने वाले आरोपी ने कई लोगों से कोरे स्टाम्प पेपर भी ले रखे थे और उन्हें भी इसी लॉकर में रखा था लिहाजा 8 कोरे स्टाम्प पेपर और पैसों के लेनदेन के 3 अनुबंध पत्र भी पुलिस के हाथ लगे। उसके लॉकर में अन्य लोगों के पहचान पत्र की फोटो कॉपी और कुछ कोरे इन्दु तलब रुक्का भी थे। रुक्का का इस्तेमाल कर्ज के लेनदेन में लिखापढ़ी के लिए किया जाता है। इसके अलावा तिघरा में एक जमीन की ऋण पुस्तिका तथा दो अन्य जमीनों की रजिस्ट्री भी आरोपी ने लॉकर में रखी थी जिसे पुलिस ने निकलवा कर जब्त किया है।

पुराने नोटों का शौक, 70 हजार की नगदी भी :

आरोपी अतीक मंसूरी उर्फ़ सिकंदर उर्फ़ समीर को पुराने नोटों के कलेक्शन का भी शौक था। उसने लॉकर में ऐसे पुराने नोट भी रख रखे थे जो अब प्रचलन में नहीं हैं। इसके अलावा लॉकर में 70 हजार रूपये की प्रचलित करंसी भी थी। लॉकर में ही अंगूठी में पहना जाने वाला पन्ना का एक नग और उसकी शुद्धता का प्रमाण पत्र, साइबर कैफे की स्थापना का पंजीयन प्रमाण पत्र, टिकुरिया टोला और कम्पनी बाग के पते पर बने उसके खुद के नाम के दो वोटर आईडी कार्ड, कार तथा स्कूटर के रजिस्ट्रेशन के दस्तावेज भी लॉकर में मिले हैं।

पुराने नोटों का शौक, 70 हजार की नगदी भी
पुराने नोटों का शौक, 70 हजार की नगदी भीPrahald Gupta

शादी और तलाक के कागजात :

आरोपी के लॉकर में दिल्ली के आर्य समाज मंदिर में 19 नवम्बर 2011 को हुई उसकी शादी का प्रमाण पत्र तथा धर्म परिवर्तन के बाद बना शुद्धि प्रमाण पत्र भी मिला है। इसके अलावा गाजियाबाद से जारी हुआ हिन्दू मैरिज सर्टिफिकेट तथा 12 सितम्बर 2017 को कुटुंब न्यायालय से पारित विवाह वि'छेद यानी तलाक का आदेश भी लॉकर में ही था।

ड्रग एंगल की होगी जांच, लिए जायेंगे ब्लड सेम्पल :

पुलिस के मुताबिक इस सनसनीखेज मामले में ड्रग एंगल भी जांच के दायरे में लिया गया है। यह पता लगाने के लिए कि अपने नापाक इरादों को अंजाम देने के लिए सिकंदर ने खुद ड्रग लिया और दुष्कृत्य का शिकार हुई नाबालिग को ड्रग अथवा कोई अन्य नशीली चीज दी या नहीं इसकी जांच की जाएगी। इसके लिए आरोपी और फरियादिया दोनों के ब्लड सेम्पल लिए जायेंगे। उधर फर्ज मार्कशीट मामले की भी जांच शुरू किये जाने तथा दो पैन कार्ड बनवाने के मामले में आयकर विभाग को भी पत्र भेजे जाने की तैयारी पुलिस द्वारा किये जाने की खबर है। पुलिस उन जगहों जैसे जिम, साइबर कैफे आदि के संचालकों से भी पूछताछ कर रही है। सिकंदर के साथ उसके सूदखोरी के धंधे में लिप्त लोगों को भी जांच के दायरे में लिया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co