सिंगरौली : एचएनसी चिटफंड डायरेक्टर व प्रबंधक गिरफ्तार
एचएनसी चिटफंड डायरेक्टर व प्रबंधक गिरफ्तारAkhilesh Dwivedi

सिंगरौली : एचएनसी चिटफंड डायरेक्टर व प्रबंधक गिरफ्तार

सिंगरौली, मध्य प्रदेश : जिले में विगत कई वर्षों से पैसा दोगुना करने का लालच देकर जनता की गाढ़ी कमाई लूटकर धन उगाही करने वाली चिटफंड कंपनी एचएनसी के डायरेक्टर व प्रबंधक गिरफ्तार।

सिंगरौली, मध्य प्रदेश। जिले में विगत कई वर्षों से पैसा दोगुना करने का लालच देकर जनता की गाढ़ी कमाई लूटकर धन उगाही करने वाली चिटफंड कंपनी एचएनसी के डायरेक्टर व प्रबंधक को कोतवाली पुलिस ने रीवा से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 11 लाख रुपए की दो कार सहित 46 एकड़ जमीन व अन्य दस्तावेजों को जब्त कर लिया है। आरोपियों के खिलाफ  विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर न्यायालय पेश करने के बाद उन्हें जेल भेज दिया है। जिसका खुलासा पुलिस कप्तान वीरेन्द्र सिंह के द्वारा पुलिस अधीक्षक सभागार में किया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक बीरेन्द्र कुमार सिंह, एएसपी अनिल सोनकर, सीएसपी देवेश पाठक व कोतवाली थाना प्रभारी अरुण कुमार पाण्डेय मौजूद रहे।

एचएनसी चिटफण्ड कंपनी के डायरेक्टर व प्रबंधक के द्वारा सिंगरौली में की गयी धोखाधड़ी का खुलासा करते हुए एसपी श्री सिंह ने बताया कि विगत 15 नवम्बर 2020 को फरियादी दिलीप शाह पिता तिलक प्रसाद शाह निवासी रजमिलान थाना माड़ा की शिकायत पर एचएनसी इन्फ्रा स्ट्रक्चर्स शेयर इंडिया लिमिटेड कंपनी के डायरेक्टर एवं प्रबंधकों द्वारा वर्ष 2010 से 2016 के बीच कंपनी का ऑफिस कॉलेज चौराहा बिलौंजी बैढऩ संचालित कर सिंगरौली जिले के भोली-भाली जनता से करोड़ों रूपये का निवेश कराकर बाद में परिपक्वता अवधि पूर्ण होने पर पैसा न देकर कंपनी अपना आफिस बंद सिंगरौली से भाग गयी। पीडि़तों की शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने धारा 420, 406 भादवि 6(1) मप निक्षेपकों के हितों का संरक्षण अधिनियम का  प्रकरण आरोपीगण रामनरेश साकेत एवं पूजनलाल साकेत सहित अन्य आरोपियों के विरूद्ध मामला पंजीबद्ध कर अनुसंधान में लिया गया। कोतवाली पुलिस ने आरोपियों द्वारा जनता के साथ धोखाधड़ी करने हेतु एचएनसी इंफ़्रास्ट्रक्चर्स शेयर इंडिया लिमिटेड कंपनी का रजिस्ट्रेशन कराकर जनता को 6 वर्ष 3 माह में जमा राशि का दोगुना भुगतान करने का लालच दिखाकर राशि जमा कराते थे और जमा राशि में करीबन 40 फीसदी राशि को प्रबंधक एवं एजेंट आपस में बंदरबांट कर लेते थे। कंपनी सिंगरौली के अलावा रीवा एवं सीधी में ऑफिस खोलकर धोखाधड़ी किया था। विवेचना के दौरान कोतवाली पुलिस की एक टीम आरोपियों की तलाश के लिए रीवा, सतना रवाना हुई। जहां टीम द्वारा कंपनी के डायरेक्टर पूजनलाल साकेत पिता जमुना प्रसाद साकेत उम्र 40 वर्ष निवासी रकरिहा थाना गुढ़ जिला रीवा एवं रामनरेश साकेत पिता महावीर साकेत उम्र 34 वर्ष निवासी बेलौहा टोला थाना समान जिला रीवा को गिरफ्तार किया गया।

46.33 एकड़ जमीन खुलासा, होगी कुर्क :

एसपी श्री सिंह ने खुलासा के दौरान बताया कि अनुसंधान के दौरान आरोपियों के द्वारा जनता के गाढ़ी कमाई से खरीदी गयी दो कार कीमत 10 लाख रूपये एवं ग्राम शिकारगंज तहसील रामपुर नैकिन जिला सीधी में खरीदी गयी 46.33 एकड़ जमीन के संबंध में जानकारी प्राप्त हुई। दोनों कारों को जप्त किया गया और जमीन के कागजात जप्त करते हुए नीलामी एवं जनता के पैसे की वापसी हेतु कार्रवाई प्रचलन में है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से दो कम्प्यूटर सेट, दो कार, सील मोहर, कैशबुक, निवेशकों का नाम पता रजिस्टर जनता को लुभाने के लिए कंपनी द्वारा तैयार किये गये पोस्टर भी जप्त किये गये।

कार्रवाई में रही इनकी भूमिका :

चिटफण्ड कंपनी के डायरेक्टर व प्रबंधक को गिरफ्तार करने में नगर पुलिस अधीक्षक देवेश पाठक, कोतवाली निरीक्षक अरूण पाण्डेय, उनि विजय पुष्पकार, सउनि बीपी कोल, आरक्षक अंचल सेन, संपत, सायबर सेल आरक्षक विजय खरे, सोबाल वर्मा एवं दीपक परस्ते की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co