बैंगलोर पहुंचाने के बजाए रास्ते में ही बेच दिया 15 हजार क्विंटल गेहूं
बैंगलोर पहुंचाने के बजाए रास्ते में ही बेच दिया 15 हजार क्विंटल गेहूंसांकेतिक चित्र

बैंगलोर पहुंचाने के बजाए रास्ते में ही बेच दिया 15 हजार क्विंटल गेहूं

जबलपुर, मध्यप्रदेश : मध्य प्रदेश में क्राइम रेट में इज़ाफ़ा हो रहा है। ताज़ा मामला अमानत में खयानत का जबलपुर से सामने आया है जिसमे पुलिस ट्रक चालक और मालिक को तलाश रही है।

जबलपुर, मध्यप्रदेश। शहर से 15 हजार 60 क्विंटल गेहूं लेकर बैंगलोर जा रहा ट्रक चालक और उसके मालिक ने उसे रास्तें में कहीं बेच दिया। इतना ही नहीं ट्रांसपोर्टर ने पूछताछ की तो ट्रक मालिक ने उसे चैक दिया, लेकिन उसके खातें में राशि नहीं आई। जिसकी शिकायत विजय नगर थाने में दर्ज करायी गई। शिकायत पर पुलिस ने अमानत में खयानत का प्रकरण दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास शुरु कर दिये हैं।

क्या है मामला :

पुलिस ने बताया कि सतेन्द्रपाल सिंह गुजराल उम्र 61 वर्ष निवासी गुप्तेश्वर मदनमहल ने लिखित शिकायत की कि उसकी सतनाम ट्रेडिंग कम्पनी व्ही 5/बी कृषि उपज मंडी धर्मकांटा के पास दमोह नाका के पास है। उक्त जगह से उसका कृषि से संबंधित व्यवसाय संचालित होता है। उसका देश के कई राज्यों में सामान लोड होकर जाता है। 25 जून 21 को उसके द्वारा ट्रक क्रमांक एमपी 13 जीबी 2198 में 240 बोरी गेहूं जिसका वजन 15 हजार 60 क्विंटल कीमती 3 लाख 4 हजार 590 रूपये था लोड करके बैंगलोर के लिये भेजा जा रहा था। उसके द्वारा ट्रक मालिक सुरेश चंद्र निवासी सामगी जिला उज्जैन को 30 हजार रूपये एडवांस में दिये गये थे। जो उक्त ट्रक को संबंधित जगह 1 जुलाई 21 तक पहुंच जाना था, किन्तु जब तय समय तक ट्रक नहीं पहुंचा तो उसने ट्रक के चालक युवराज सिंह चौहान निवासी कालूखेड़ा उज्जैन से सम्पर्क करने का प्रयास किया, जिसका मोबाइल बंद आने पर ट्रांसपोर्टर रविकांत सेन निवासी कालूखेड़ा जिला उज्जैन को मोबाइल पर सूचना दी, कि गेहूं से लोडेड ट्रक अभी तक बैंगलोर नहीं पहुंचा है। रविकांत सेन के द्वारा ट्रक मालिक से सम्पर्क किया गया, जिसे ट्रक मालिक ने बताया कि मेरे ट्रक का रास्ते में एक्सीडेण्ट हो जाने से लोगों ने ड्रायवर के साथ मारपीट की है जिससे ट्रक ड्रायवर ट्रक छेाड़कर भाग गया है। इतना ही नहीं उसने कहा कि वह अभी बनारस में है तथा सीधे ट्रक के पास जा रहा हैं। इसके बाद 10 जुलाई को पुन: ट्रक मालिक सुरेशचंद्र को कॉल किया तो सुरेशचंद्र ने उससे फोन पर कहा कि मैंने आपका माल कहीं और बेच दिया और आपका जो भी नुकसान हुआ है नुकसान की भरपाई कर दूंगा। सुरेशचंद्र न 12 जुलाई 21 को पंजाब नेशनल बैंक जिला देवास के चैक से उसके व्हाटसएप नम्बर पर 3 लाख रूपये का चैक भेजकर कहा कि आपके खाते में मैंने चैक जमा कर दिया है परन्तु उसके खाते में आज दिनांक तक कोई पैसा नहीं आया। उक्त भेजे गये चैक में ओव्हर राईटिंग एवं स्पेलिंग मिस्टेक की गयी है। ट्रक मालिक द्वारा उसका माल गबन कर लेने एवं लोडेड ट्रक केा संबंधित जगह न भेजकर अमानत में ख्यानत की गयी है। ट्रक मालिक सुरेशचंद्र एवं ट्रक ड्रायवर युवराज सिंह द्वारा उसके साथ धोखाधड़ी की गयी है। शिकायत पर पुलिस ने ट्रक मालिक व चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी के प्रयास शुरु कर दिये हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co