अमरकंटक एक्सप्रेस से संदिग्ध गिरफ्तार, विदेशी करंसी समेत 10 लाख के आभूषण भी बरामद
अमरकंटक एक्सप्रेस से संदिग्ध गिरफ्तारसांकेतिक चित्र

अमरकंटक एक्सप्रेस से संदिग्ध गिरफ्तार, विदेशी करंसी समेत 10 लाख के आभूषण भी बरामद

भोपाल, मध्यप्रदेश : हबीबगंज रेलवे पुलिस ने शनिवार दोपहर अमरकंटक एक्सप्रेस ट्रेन से एक संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में लेकर लाखों रुपए की नगदी, विदेशी करंसी और लाखों रुपए के जेवरात बरामद किए गए हैं।

भोपाल, मध्यप्रदेश। हबीबगंज रेलवे पुलिस ने शनिवार दोपहर अमरकंटक एक्सप्रेस ट्रेन से एक संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में लेकर लाखों रुपए की नगदी, विदेशी करंसी एक हजार 379 रियाल और 10 लाख रुपए के सोने-चांदी के जेवरात बरामद किए हैं। हिरासत में लिया गया व्यक्ति बरामद नगदी, जेवरात व विदेशी करंसी के संबंध में कोई वैध दस्तावेज अथवा जानकारी नहीं दे सका है। आरोपी का कहना है कि इटारसी से भोपाल के सराफा बाजार काम के सिलसिले में आता-जाता रहता है। रेलवे पुलिस का कहना है इन दिनों हवाला कारोबार से जुड़े पैसे, टैक्स चोरी के स्वर्ण आभूषण, मादक पदार्थ, अवैध हथियार के अवैध कारोबार को लेकर लगातार कार्रवाई की जा रही है। इस अभियान के लिए खासतौर से रेलवे पुलिस के जवान सिविल ड्रेस में तैनात किए गए हैं।

थाना जीआरपी हबीबगंज पुलिस के मुताबिक शनिवार दो अक्टूबर को अमरकंटक एक्सप्रेस ट्रेन में संदिग्ध गतिविधियों के साथ एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया। व्यक्ति के हाव-भाव और गतिविधियां संदिग्ध होने के कारण पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ की तो घबरा गया और किसी भी सवाल का जवाब देने में असहज नजर आने लगा। लिहाजा पुलिस ने तलाशी ली तो उसके कब्जे से करीब 15 तोला सोने, एक किलो पुरानी चांदी व करीब डेढ़ सौ ग्राम नई चांदी के जेवरात, दो लाख 12 हजार रुपए नगद तथा संयुक्त अरब अमीरात की मुद्रा कुल एक हजार 379 रियाल बरामद हुए। हिरासत में लिए गए व्यक्ति का नाम विक्रांत श्रीवास (49) निवासी इटारसी बताया गया है। बरामद आभूषण की कीमत करीब दस लाख रुपए बताई गई है। इनके संबंध में उक्त व्यक्ति जीएसटी, इनकम टैक्स व अन्य विभागीय तथा शासकीय नियमों के पालन के संबंध में संतोषजनक जवाब नहीं दे सका। इस मामले में परीक्षण किए जाने के लिए संबंधित शासकीय विभागों को भी पत्राचार कर सूचित किया गया है। पुलिस ने बरामद हुई सामान की सभी आयामों में जांच शुरू कर दी है। थाना प्रभारी जीआरपी हबीबगंज एमएस सोमवंशी ने बताया कि विक्रांत श्रीवास इटारसी से भोपाल के सराफा बाजार में आजा-जाता रहता है। उसके पास से बरामद सामान के बारे में कोई भी वैध दस्तावेज नहीं मिला है। उससे पूछताछ की जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.