Black Marketing का बहुचर्चित मामला पहुंचा जबलपुर HC, रॉकी को मिली जमानत
Black Marketing का बहुचर्चित मामला पहुंचा जबलपुर HC
Social Media

Black Marketing का बहुचर्चित मामला पहुंचा जबलपुर HC, रॉकी को मिली जमानत

Madhya Pradesh: रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी (Remdesivir Injection Black Marketing) का मामला जबलपुर हाइकोर्ट पहुंचा है, इस मामले में रॉकी मालवीय को HC से जमानत मिली है।

मध्यप्रदेश। देशभर में जहां कोराना वायरस की रफ्तार पर धीरे-धीरे ब्रेक लगता जा रहा है, तो वहीं मध्यप्रदेश में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी (Remdesivir Injection Black Marketing) करने वालों के खिलाफ एक्शन जारी है, बता दें कि रेमडेसिविर की कालाबाजारी का बहुचर्चित मामला जबलपुर हाइकोर्ट पहुंचा है, इस मामले में रॉकी मालवीय को हाइकोर्ट से जमानत मिली है।

हाइकोर्ट से रॉकी मालवीय को मिली जमानत

मिली जानकारी के मुताबिक रॉकी मालवीय पर रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी बेचने का आरोप था, रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने के मामले में रॉकी मालवीय को हाइकोर्ट से जमानत मिल गई है। बता दें कि इस मामले में एसटीएफ ने डॉक्टर नीरज साहू, राकेश उर्फ रॉकी मालवीय, सुधीर सोनी, संगीता पटेल के खिलाफ मामला दर्ज किया था, एसटीएफ ने 2 रेमडेसिविर इंजेक्शन जब्त किए थे और डॉक्टर की फर्जी डिग्री भी निकली थी।

न्यायमूर्ति ने इंजेक्शन बेचने वाले रॉकी मालवीय को दी जमानत

वही अधिवक्ता अंकित सक्सेना ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रॉकी मालवीय की ओर से तर्क रखा था, अंकित ने कहा- अपराध जमानती है और उनके पक्षकार के ऊपर धारा 420, 467, 468 ,471 नहीं बनती है, माननीय न्यायमूर्ति संजय द्विवेदी ने इंजेक्शन बेचने वाले रॉकी मालवीय को जमानत दी।

संस्कारधानी हॉस्पिटल का पैथोलॉजिस्ट है रॉकी

बता दें कि एसटीएफ ने 19 अप्रैल को गंगानगर गढ़ा निवासी सुधीर सोनी व राहुल विश्वकर्मा को 2 रेमडेसिविर इंजेक्शन के साथ पकड़ा था। वें19-19 हजार रुपए में इंजेक्शन बेच रहे थे। दोनों ने पूछताछ में बताया कि उक्त इंजेक्शन संस्कारधानी हॉस्पिटल के पैथोलॉजिस्ट राकेश मालवीय ने दिए थे। राकेश से पूछताछ के बाद टीम ने दीक्षितपुरा निवासी आशीष अस्पताल के डॉक्टर नीरज साहू और विजय नगर निवासी लाइफ मेडिसिटी के डॉक्टर जितेंद्र सिंह ठाकुर को पकड़ा था। दोनों से दो इंजेक्शन और जब्त हुए थे।

आपको बताते चलें कि महामारी कोरोना के संकटकाल में जहां एक तरफ संक्रमण का स्तर कम होने का नाम नहीं ले रहा है तो वहीं दूसरी तरफ संकटकाल में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी रुक नहीं रही है इससे पहले भी कई मामले आ चुके हैं, नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कर पढ़ें खबर- रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले 4 आरोपियों को किया गिरफ्ता

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co