रीवा : मासूमों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे बेकर्स फैक्ट्री के संचालक, प्रशासन बेखबर...
रीवा : चोरहटा उद्योग विहार सिद्धार्थ बेकर्स फैक्ट्री में भारी अनियमतता।रवि सोलंकी

रीवा : मासूमों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे बेकर्स फैक्ट्री के संचालक, प्रशासन बेखबर...

चोरहटा उद्योग विहार सिद्धार्थ बेकर्स फैक्ट्री में भारी अनियमतता, 18 वर्ष से कम उम्र के श्रमिक काम करते देखे जा सकते हैं, पूर्व में भी हो चुकी है कार्रवाई, बावजूद इसके फैक्ट्री संचालक के हौसले बुलंद।

रीवा, मध्य प्रदेश। चोरहटा उद्योग विहार सिद्धार्थ बेकर्स फैक्ट्री में भारी अनियमतता सामने आई है। बताया जाता है कि खाद्य विभाग के द्वारा पूर्व में भी कार्रवाई की जा चुकी है, चोरहटा थाने में एफआईआर दर्ज कराई जा चुकी है, इसके बाद भी बेकर्स फैक्ट्री संचालक के हौसले बुलंद हैं।

18 वर्ष से कम उम्र के श्रमिक काम करते यहां पर देखें जा सकते हैं। चोरहटा थाना क्षेत्र के उद्योग विहार में सिद्धार्थ बेकर्स नाम की फैक्ट्री के संचालक अशोक हरचन्दानी के द्वारा भारी अनियमतता बरती जा रही है। खाद्य विभाग के अधिकारी शबीर अली ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि, सिद्धार्थ बेकर्स की पूर्व में भी शिकायत आई थी, हम लोगों के द्वारा दबिश देकर कार्यवाही भी की जा चुकी है और फैक्ट्री के खाद्य समाग्री को भी सीज किया गया था। इसके बाद भी सिद्धार्थ बेकर्स के संचालक के द्वारा अगर ऐसा कार्य किया जा रहा है, तो बहुत ही गलत है ।

इस मामले की एफआईआर चोरहटा थाने में भी अधिकारियों के द्वारा दर्ज कराई जा चुकी है। मामला न्यायालय में विचाराधीन चल रहा है, मीडिया के माध्यम से मेरे संज्ञान में फिर से यह मामला आया है, तो फिर से हम लोग वहां जाकर बारीकी से जांच करेंगे। जो भी तथ्य सामने आएंगे , उस हिसाब से कार्रवाई की जाएगी।

वहीं मीडिया ने कवरेज के दौरान पाया कि सिद्धार्थ बेकर्स फैक्ट्री के मुख्य द्वार पर फैक्ट्री का नाम भी नहीं लिखा था और न ही किसी प्रकार की कोई सूचना पटल लगी हुई पाई गई और न ही अग्निशमन उपकरण बाहर लगे हुए पाए गए । खाने पीने वाली चीजें भी खुली पाई गई, जिसमें मक्खियां बैठ रही थीं, सड़कों से निकलने वाली धूल और आसपास फैली गंदगी उस खाने- पीने वाली सामग्री टोस्ट, ब्रेड, कुरकुरे में जा रही थी ।

प्रशासन की भी लापरवाही आई सामने :

इतनी बड़ी लापरवाही उद्योग बिहार में नजर आई, जहाँ कई खाद्य समाग्री बनाई जाती है । यदि यही हाल रहा तो मासूमों पर इसका बहुत अधिक बुरा प्रभाव पड़ेगा, क्योंकि स्कूल खुलने के बाद कई स्थानों पर इसकी ब्रेड और टोस्ट सप्लाई होती है, जो घटिया सामग्री, गन्दगी और स्वछता के अभाव में बनाई गई है एवं सफाई के अभाव में अमान रूप से यहां पर काम किया जाता है। इसलिए जिला कलेक्टर एवं फूड विभाग को इस संबंध में जल्द से जल्द कार्यवाही करके अमानक एवं घटिया सामग्री को बनाने से रोका जाना चाहिए, ताकि लोगों के जीवन से उक्त फैक्ट्री संचालक खिलवाड़ न कर सके।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co