दमोह : नशीला पदार्थ खिलाकर 2 वाहन चोरी, पुलिस का नहीं है अंकुश, अपराधी बेखौफ
चोरी हुए वाहन के साथ पीड़ितरवि सोलंकी

दमोह : नशीला पदार्थ खिलाकर 2 वाहन चोरी, पुलिस का नहीं है अंकुश, अपराधी बेखौफ

10 दिन में सामने आई नशीला पदार्थ खिलाकर 2 वाहन चोरी की घटनाएं, चालक को पिलाया नशीला पदार्थ, चुरा ले गए कार और पिकअप, शिकायत पर पुलिस कर रही गुमराह, बेलगाम अपराधी- खुलेआम दे रहें घटनाओं को अंजाम।

दमोह, मध्य प्रदेश। पुलिस का अपराधों से पूर्ण रूप से अंकुश हटता जा रहा है और शहर में लगातार ही किसी न किसी प्रकार की घटनाएं घटित हो रही है, लेकिन इन घटनाओं पर कोतवाली पुलिस का किसी भी प्रकार का कोई अंकुश नहीं है। हालात यह है कि नशीले पदार्थ का सेवन कराते हुए 10 दिन के अंदर दो वाहन चोरी होने की घटनाएं घटित हुईं, लेकिन दोनों ही घटनाओं में पुलिस अभी तक किसी भी प्रकार की कार्रवाई की तह तक नहीं पहुंच पाई है।

सामने आए नए आपराधिक मामले कोतवाली थाना क्षेत्र में सोमवार की सुबह सागर से आ रहे एक व्यक्ति से लिफ्ट लेकर उसे धोखे से नशीले पदार्थ का सेवन कराते हुए उसकी कार को चुरा लिया गया। कोतवाली थाना क्षेत्र में हुई इस घटना के बाद जब पीड़ित कोतवाली थाने में अपनी शिकायत दर्ज कराने पहुंचा तो पुलिस ने उसे शराबी समझते हुए शिकायत लिखे बगैर भगा दिया।

घटना सीसी टीव्ही में कैद :

वहीं बाद में परिजनों के हस्तक्षेप के बाद मंगलवार को पुलिस ने शून्य पर मामला कायम किया है। हैरानी यह है कि यह घटना सीसी टीव्ही में भी कैद हुई है, लेकिन फिलहाल पुलिस कार्रवाई से बचती दिखाई दे रही है और इसे सागर का मामला मानते हुए अपने क्षेत्र में हुए अपराध से पल्ला झाड़ने में लगी है।

प्राप्त जानकारी अनुसार सागर के सदर बाजार निवासी आदेश खटीक सागर में ऑटो चालन का कार्य करता है, सोमवार की सुबह वह एक सवारी को सागर स्टेशन छोड़ने गया, इस दौरान उक्त व्यक्ति ने दमोह में किसी परिचित के बीमार होने की बात कहते हुए दमोह पहुंचने के साधन के बारे में चर्चा की। चर्चा के दौरान पीड़ित ने दमोह में अपने साढूभाई से मिलने जाने की बात कही, जिसके चलते उसे भी लिफ्ट देकर साथ चलने की सहमति बन गई। जिसके बाद आदेश अपनी कार क्रमांक एमपी 15 सीबी 5184 से सोमवार सुबह दमोह आने के लिए निकला था। दोपहर में दमोह पहुंचकर लिफ्ट लेने वाले व्यक्ति ने उससे अस्पताल चौराहा पर छोड़ देने की बात कही, जिसके चलते वह अस्पताल चौराहा पहुंचे।

सॉफ्ट ड्रिंक में मिलाया नशीला पदार्थ :

बताया जा रहा है कि अस्पताल चौराहा पहुंचकर संबंधित लिफ्ट मांगने वाले व्यक्ति द्वारा पीड़ित को पहले चाय व खाने के लिए पूछा गया। ड्राईवर के मना करने पर उसने उसे एप्पी फिज नामक साफ्ट ड्रिंक उसे लाकर पिलाया गया। आरोप है कि उक्त ड्रिंक में कोई नशीला पदार्थ मिलाया गया था, जिसके चलते साफ्ट ड्रिंक पीते ही बेसुध हो गया और वहाँ पर उपस्थित कुछ लोगों द्वारा उसे अस्पताल पहुंचाया गया जहाँ पर रात्रि में 11 बजे कुछ होश आने पर वह बाहर आया तो उसकी कार और लिफ्ट लेने वाला व्यक्ति दोनों ही गायब थे।

पीड़ित को कोतवाली पुलिस समझती रही शराबी :

वहीं मामले का एक पहलु यह भी है कि कोतवाली थाना से चंद कदमों की दूरी पर हुई इस वारदात के बाद जब पीड़ित अपनी शिकायत लेकर कोतवाली पहुंचा, तो कोतवाली पुलिस ने उसे शराबी समझते हुए वहां से भगा दिया और अपने किसी परिजन को साथ लेकर आने का बोला गया। जिसके बाद पीड़ित उसी हालत में जैसे - तैसे सागर पहुंचा और वहां से अपने परिजनों को घटना की जानकारी दी।

सुबह परिजन पहले मामले की शिकायत लेकर केंट थाना पहुंचे जहां पुलिस द्वारा इसे दमोह कोतवाली का मामला बताते हुए दमोह जाने के लिए बोला, जिसके चलते पीड़ित अपने भाई को लेकर मंगलवार सुबह वापस लौटा और अपनी शिकायत दर्ज कराई। वहीं सीसी टीव्ही से घटना की पुष्टि होने व कोतवाली थाना क्षेत्र का मामला होने के बाद भी पुलिस द्वारा इसे सागर क्षेत्र का मामला होने की बात कहते हुए मामले को सागर भेजने की बात कही जा रही है। ऐसे में अपनी कार को खो चुके एक व्यक्ति को यह स्पष्ट नहीं है कि उसके साथ हुई घटना पर कार्रवाई कौन करेगा।

दूसरी घटना...

तीन अगस्त को पिकअप हुई थी चोरी :

इस घटना के 10 दिन पूर्व ही शहर के व्यस्तम क्षेत्र निर्माण एजेंसी से तबादले का सामान लाने के लिए करैया भदौली निवासी पन्नालाल पटैल पुत्र भगुंता पटैल ने बताया कि 3 अगस्त को उसकी पिकअप गाड़ी क्रमांक एमपी 15 जी 4116 को सलीम मुसलमान नामक एक युवक द्वारा बिलहरी, जिला कटनी से घर का सामान दमोह लाने के लिए गाड़ी की बात की, जिस पर 38 सौ रुपए में गाड़ी भाड़े पर बुक की गई और बिलहरी ले गए।

चाय - नाश्ते में नशीला पदार्थ :

वहां पर बस स्टैंड के समीप गाड़ी रोककर कहा कि अभी सामान पैक हो रहा है, तब तक चाय पीते है, तो पन्नालाल को चाय पीने के लिए लाया और बाद में चाऊमीन लाकर दिया, जिसे खाते ही चक्कर आने लगा, तो वहीं पर खड़े ऑटो में बैठ गया और बेहोश हो गया तथा वह मेरा मोबाइल आदि भी गाड़ी में ही ले गया जब करीब 7:30 बजे होश आया, तो मैंने एक व्यक्ति से मोबाइल मांगकर अपने भाई को इस घटना की जानकारी दी, तो वह करीब 10 बजे रात्रि को बिलहरी पहुंच गया और हम लोग गाड़ी की तलाश करते रहे, लेकिन गाड़ी नहीं मिली, जिस पर मेरे द्वारा घटना की शिकायत किए जाने पर भी आज दिनाँक तक किसी भी प्रकार की कोई कार्रवाई व गाड़ी की तलाश कोतवाली पुलिस द्वारा नहीं की जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co