वारासिवनी : युवती को बेचने का प्रयास करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार
युवती को बेचने का प्रयास करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तारSocial Media

वारासिवनी : युवती को बेचने का प्रयास करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार

वारासिवनी, मध्य प्रदेश : युवती को बेचने का प्रयास करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार। शादी करवाने की बात कहकर 3 लाख में सौदा किया था आरोपियों ने।

वारासिवनी, मध्य प्रदेश। एक 18 वर्षीय युवती को शादी के नाम पर बेचने का प्रयास करने वाले 6 युवकों के खिलाफ पुलिस थाना वारासिवनी में युवती की शिकायत पर भादवि की धारा 370(1), 370 (2), 120 बी, 34 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है। वहीं सभी 6 युवकों क्रमश: कपिल नंदागौरी मुरझड़, अनिल पटले बोटेझरी, दुर्गा प्रसाद रहांगडाले रमरमा, योगेन्द्र बिसेन कटंगी, दिनेश सिंह ठाकुर मिसरोली झालावाड़ राजस्थान व नेमीचंद जैन बोलिया गरोठ मंदसौर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैं। मामले की जॉच उपनिरीक्षक सोनाली ढोक द्वारा की जा रही हैं।

प्रकरण के बारे में जानकारी देते हुए अनुविभागीय अधिकारी पुलिस अरविन्द श्रीवास्तव ने बताया कि ग्राम नंगाटोला निवासी 18 वर्षीय युवती कुमारी पारस पिता आनंदगिरी गोस्वामी ने अपनी चाची बिराजो गोस्वामी के साथ एक लिखित आवेदन पत्र दिया था। जिसमें उसने कपिल नंदागौरी मुरझड़, अनिल पटले बोटेझरी, दुर्गा प्रसाद रहांगडाले रमरमा, योगेन्द्र बिसेन कटंगी, दिनेश सिंह ठाकुर राजस्थान व बोलिया नेमीचंद जैन मंदसौर द्वारा प्लानिंग कर शादी का लालच देकर षडय़ंत्रपूर्वक रुपये लेकर बेचने का आरोप लगाया गया था।

आवेदिका पारस के अनुसार वह कक्षा 12 वीं तक पढ़ी हैं और मजदूरी का कार्य करती हैं। उसके 4 बहनें व 2 भाई हैं। लगभग एक माह से वह मुरझड़ निवासी कपिल नंदागौरी को जानती हैं। वह एक बार घर आया था और बड़ी दीदी ममता से भोपाल के एक लड़के से शादी की बात की थी। जिस पर मां ने शादी का खर्च नहीं उठा पाने की बात कही, तो उसने मंदिर में शादी करवा दूंगा, कहकर मोबाईल में मेरी फोटो खींचकर ले गया था।

रकम के बटवारे को लेकर आरोपियों में झगड़े से खुला बेचने का राज :

शिकायत अनुसार 1 फरवरी को कपिल नंदागौरी मेरे घर आया और भोपाल के लड़के और उसके परिवार से मिलाने की बात कहकर उसे और उसकी चाची बिराजो बाई गोस्वामी को मोटर साईकिल से लेकर ग्राम रमरमा लेकर गया। जहां पर एक लड़का और 2 लोग और मिले। फिर रमरमा में दुर्गा प्रसाद रहांगडाले के घर गए। जहॉ पर कुल 6 व्यक्ति थे। जहॉ जिगर्या निवासी दिनेश राठौर से शादी करने की बात कही, उसके साथ मंदसौर निवासी बोलिया जैन भी था। वहीं बोटेझरी निवासी अनिल पटले और कटंगी निवासी योगेन्द्र बिसेन भी थे। इसी बीच उन लोगों के बीच कुछ देर तक बातचीत होती रही। लेकिन बाद में अचानक लड़का गाली गलौच करने लगा और पैसों के लेन-देन को लेकर उनके बीच झगड़ा होने लगा। तब मुझे पता चला कि वह लोग प्लानिंग करके मुझे शादी कराने का झूठ बोलकर षड्यंत्र पूर्वक पैसे लेकर बेच रहे हैं। इनके बीच पैसों के बटवारे को लेकर विवाद होने के बाद लड़ाई होने लगी कि 3 लाख रुपये में सौदा हुआ था और मात्र 95 हजार रुपये ही खाते में डलवा रहे हो।

थाने में लिखवाई रिपोर्ट :

इस बात की जानकारी मिलते ही मैं और चाची मौका देख कर वहां से भाग खड़े हुए और पुलिस थाना आकर रिपोर्ट लिखवाई। कुमारी पारस गोस्वामी द्वारा रिपोर्ट लिखवाते ही वारासिवनी पुलिस ने हरकत में आकर अनुविभागीय अधिकारी पुलिस अरविंद श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में नगर निरीक्षक नीरज मेडा द्वारा तत्काल उपनिरीक्षक शशांक राणा, सोनाली ढोक के नेतृत्व में एक टीम गठित कर ग्राम रमरमा भिजवाया। जहां पर पुलिस बल ने घेराबंदी कर सभी 6 आरोपियों को रमरमा से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।

न्यायालय ने भेजा जेल :

पुलिस ने इन आरोपियों के पास से मोबाईल, एटीएम कार्ड, आधार कार्ड, वोटर आई, रुपए कार्ड, भारतीय स्टेट बैंक की पास बुक बरामद कर जप्त कर लिया है। इन आरोपियों में मुख्य आरोपी कपिल नंदागौरी मुरझड़ इसके पूर्व में भी इसी प्रकार की घटना में लिप्त पाया गया था। सभी आरोपियों से पूछताछ के बाद पुलिस ने उनका मेडिकल चेकअप करवाया और फिर न्यायालय में पेश किया गया। जहॉ से उन्हें उपजेल भेज दिया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co